• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Nala
  • श्रीकृष्ण व परीक्षित कथा पर भावविभोर हुए श्रद्धालु
--Advertisement--

श्रीकृष्ण व परीक्षित कथा पर भावविभोर हुए श्रद्धालु

भास्कर न्यूज | नाला/बिन्दापाथर सात दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा सह प्रवचन के आयोजन से क्षेत्र में भक्ति की अविराल...

Dainik Bhaskar

Mar 30, 2018, 03:20 AM IST
भास्कर न्यूज | नाला/बिन्दापाथर

सात दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा सह प्रवचन के आयोजन से क्षेत्र में भक्ति की अविराल धारा बहने लगी है। प्रखंड क्षेत्र स्थित मोहजोड़ी, पहाड़गोड़ा, गिरिधारी मंदिर, परिसर श्रीमद भागवत कथा के आयोजन होने से महोजिड़ी, हदलवॉक, पिपला, सुन्दरपुर, पिण्डारगेड़िया, बादलपुर, कुंजबोना, रंगामेटिया, बाघमारा, डाढ़, बड़वा, मंझलाडीह सहित पूरे क्षेत्र में भक्ति ओर उत्साह का माहौल बना हुआ है। उक्त गांवों से सैकड़ों की संख्या में महिला, पुरुष श्रद्धालु पहुंचकर भगवत कथा का श्रवण कर पुण्य के भागीदार बन रहे है। तीसरे दिन प्रभुपाद श्रीमद् राधाविनोद ठाकुर गोस्वामी महाराज ने आठवां अध्याय का प्रवचन, परीक्षित के रक्षा, भगवान श्रीकृष्ण ने किस तरह किया था का व्याख्यान दिया।

भागवत कथा प्रसंग के क्रम में श्रीमद भागवत महापुराण के प्रथम स्कंद के आठवें अध्याय में परीक्षित की रक्षा कैसे की गई। गर्भ में परीक्षित की रक्षा, कुन्ती द्वारा भगवान की स्तुति और युधिष्ठिर का शोक आदि का वर्णन किया गया। महाभारत युद्ध भगवान श्रीकृष्ण ने वहां से जाने का विचार किया। उन्होंने इसके लिये पाण्डवों से विदा ली और व्यास आदि ब्राह्मणों का सत्कार किया। उन लोगों ने भी भगवान का बड़ा ही सम्मान किया।

तदनन्तर सात्यकि और उद्धव के साथ द्वारका जाने के लिये वे रथपर सवार हुए। उसी समय उन्होंने देखा कि उत्तरा भय से विह्वल होकर सामने से दौड़ी चली आ रही है। उत्तराने कहा देवाधि देव जगदीश्वर आप महायोगी हैं। आप मेरी रक्षा कीजिये, रक्षा कीजिए। आपके अतिरिक्त इस लोक में मुझे अभय देनेवाला और कोई नहीं है। क्योंकि यहां सभी परस्पर एक-दूसरे की मृत्यु के निमित्त बन रहे हैं। प्रभो आप सर्व-शक्तिमान है। यह दहकते हुए लोहे का वाण मेरी ओर दौड़ा आ रहा है। इस मौके पर क्षेत्र के काफी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित होकर कथा सह प्रवचन सुना। इस सात दिवसीय भागवत कथा के सफल संचालन के लिय गिरीधारी मंदिर कमेटी के सदस्य काफी सक्रिय रहे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..