नाला

  • Home
  • Jharkhand News
  • Nala
  • आईआईटी को सर्वश्रेष्ठ बनाने की होगी कोशिश: राजीव
--Advertisement--

आईआईटी को सर्वश्रेष्ठ बनाने की होगी कोशिश: राजीव

संस्थान के नए निदेशक ने फोन पर बातचीत में कहा- स्टार्टअप को बढ़ाना देने का प्रयास करेंगे डिगवाडीह के माउंट...

Danik Bhaskar

Mar 15, 2018, 03:25 AM IST
संस्थान के नए निदेशक ने फोन पर बातचीत में कहा- स्टार्टअप को बढ़ाना देने का प्रयास करेंगे

डिगवाडीह के माउंट कार्मेल, डी-नोबिली में की स्कूलिंग, पिता इस्को की चासनाला कोलियरी में थे अधिकारी

एजुकेशन रिपोर्टर | धनबाद

आईआईटी धनबाद के नवनियुक्त निदेशक राजीव शेखर इस संस्थान को दुनिया के श्रेष्ठ संस्थानों की कतार में शामिल कराना चाहते हैं। नियुक्ति की घोषणा के बाद दैनिक भास्कर से फोन पर हुई बातचीत में उन्होंने कहा कि माइनिंग के क्षेत्र में यह संस्थान पहले से ही काफी प्रतिष्ठित है। अब सबके साथ मिलकर बाकी विषयों में भी इसे आगे बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि स्मॉल एंड मीडियम इंटरप्राइजेज को बढ़ावा देने की कोशिश होगी। भारत के जीडीपी में इनका बड़ा योगदान है। स्टार्टअप के लिए भी पूरा प्रयास करूंगा।

राजीव की स्कूलिंग माउंट कार्मेल स्कूल, डिगवाडीह, डी-नोबिली डिगवाडीह और सेंट जेवियर्स स्कूल, हजारीबाग से हुई। 9-10वीं डी-नोबिली डिगवाडीह से की और फिर सेंट जेवियर्स कॉलेज, रांची से पढ़ाई की। 1982 में आईआईटी कानपुर से बीटेक किया। पिता राजकिशोर प्रसाद इस्को, चासनाला में चीफ एग्जिक्यूटिव (कोलियरी) और ससुर वीसी वर्मा डायरेक्ट जनरल ऑफ माइंस सेफ्टी थे। इस तरह मैं माइनिंग परिवार से ही हूं और धनबाद का ही हूं। आईआईटी निदेशक बनने पर मुझे बहुत खुशी है। धनबाद आना मेरे लिए फिर से घर लौटने जैसा है।

1990 में ज्वाइन किया आईआईटी कानपुर

राजीव शेखर ने यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, बर्कली से पीएचडी की उपाधि ली है। आईआईटी कानपुर वर्ष 1990 में ज्वाइन किया था। यहां वे वर्तमान में मेटेरियल साइंस एंड इंजीनियरिंग विभाग के प्राध्यापक हैं। विभिन्न चीजें में विशेषज्ञता हासिल है और उनके कई महत्वपूर्ण सोध सामने आ चुके हैं। आईआईटी कानपुर में इन्कयूबेशन सेंटर के शुरुआत उन्होंने ही की थी। राजीव शेखर मूल रूप से सुल्तानगंज से मुंगेर के रास्ते जहंगीरा गांव के निवासी हैं। प|ी विधु शेखर और अपनी मां उषा प्रसाद के साथ रहते हैं। बेटे तन्मय शेखर आईआईटी ग्रेजुएट हैं और अभी न्यूयॉर्क में हैं। बेटी तुषिता शेखर ने इंटरनेशनल रिलेशन में स्नातकोत्तर की उपाधि ली है।

Click to listen..