Hindi News »Jharkhand »Nala» कलश यात्रा के साथ महाकाली यज्ञ शुरू

कलश यात्रा के साथ महाकाली यज्ञ शुरू

रजैया नदी घाट पर कलश में जल भरते श्रद्धालु। भास्कर न्यूज|नारायणपुर धर्म की जय हो अधर्म का नाश हो प्राणियों में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 19, 2018, 02:35 AM IST

रजैया नदी घाट पर कलश में जल भरते श्रद्धालु।

भास्कर न्यूज|नारायणपुर

धर्म की जय हो अधर्म का नाश हो प्राणियों में सद्भावना हो विश्व का कल्याण हो सहित कई गगनभेदी धार्मिक नारों के साथ आयोजित भव्य कलश यात्रा के साथ नारायणपुर में तीन दिवसीय महाकाली यज्ञ आरंभ हो गया। यह कलश यात्रा करीब 8 बजे सुबह बैंक ऑफ इंडिया के पास आयोजित यज्ञ स्थल से दलदला मोड, कोल्हरिया होते हुए रजैया नदी के महादेव मठ घाट पर गई, जहां यज्ञाचार्य रंजीत शास्त्री एवं आचार्य अभिमन्यु कुमार पांडेय द्वारा जल के देवता वरुण का आह्वान कर घाट पूजन कर कलश यात्रा आरंभ कराया गया। घाट पूजन के अवसर पर प्रमुख पांच यजमानों का मुंडन संस्कार करने के बाद घाट का पूजन किया गया।

कन्याओं द्वारा सिर पर कलश लेते ही पूरा माहौल गगनभेदी नारों से गूंज उठा जय श्री राम, महाकाली की जय, यज्ञ महाराज की जय सहित कई प्रकार के गगनभेदी नारों से पूरा वातावरण भव्य हो गया। इस कलश यात्रा में शामिल 251 कन्याओं के अलावा भारी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे। सबसे आगे बड़ी संख्या में लोग यज्ञ पताका लेकर चल रहे थे उसके पीछे यजमान फिर माथे पर कलश लेकर कन्याएं जो काफी मनोरम दृश्य उत्पन्न कर रहा था। कलश यात्रा को लेकर हर किसी में उत्साह चरम पर था सभी लोग ढोल-नगाड़ों एवं के साथ कलश यात्रा के साथ झूमते नाचते चल रहे थे। कलश यात्रा में शामिल कन्याए एवं अन्य लोगों के लिए जगह-जगह पेयजल एवं सर्वत की व्यवस्था थी बड़ी संख्या में लोग इस धार्मिक कार्य में अपना हाथ बटाने को आतुर दिख रहे थे। नारायणपुर बाजार में भी इस कलश यात्रा में शामिल लोगों के लिए शरबत की व्यवस्था की गई थी। इस कलश यात्रा में जय मंगल सिंह, श्यामाकांत पान्डेय, सोनू सिंह, वासुदेव यादव, मुकेश पांडेय, निमाई सेन, रमेश कुमार सिन्हा, सहदेव मंडल, छक्कू दास, निर्मल मंडल, हरिशंकर मंडल, भानु हाडी, संतोष तूरी, प्रकाश मंडल, केतन सिन्हा, दीपक मंडल, प्रहलाद मंडल, पप्पू मंडल, खिरोधर मंडल, विक्की सिन्हा एवं परमेश्वर वर्मन सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे। इस अवसर पर आचार्य अभिमन्यु कुमार पांडे ने बताया कि यज्ञ में कलश यात्रा का काफी महत्व है।

कलश यात्रा में शामिल श्रद्धालु।

राधाकृष्ण मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा के लिए निकाली कलश यात्रा

नारायणपुर|प्रखंड के रूपडीह पंचायत के मिरगा (दक्षिणीडीह ) गांव में तीन दिवसीय श्री लक्ष्मी नारायण महायज्ञ सह श्री राधा कृष्ण की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर बुधवार को दिन 18 अप्रैल को 51 कन्याओं के द्वारा कलश यात्रा निकाली गई। कलश यात्रा गांव के परिक्रमा करते हुए गांव के जोरिया से जल उठाया गया। गाजे बाजे के साथ कलश यात्रा निकाला गया। मुख्य आचार्य अयोध्या के धीरज कुमार शास्त्री एवं उनके सहयोगी पंडित है। शाम में विद्वान पंडित द्वारा प्रवचन रात्रि पहर में भजन कीर्तन कार्यक्रम आयोजित होगी। 20 अप्रैल को राधाकृष्ण मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा व पूर्णाहुति हाेगी। मंदिर भी सज धज कर करीब-करीब तैयार हो चुका है। इस यज्ञ के मुख्य यजमान परमेश्वर मंडल है। हवन में भाग लेने वाले बैजनाथ मंडल व प|ी सुरजी देवी, मदन मंडल प|ी मंकी देवी शिबू मंडल प|ी लीला देवी, प्रकाश मंडल प|ी मनीता देवी मुख्य रूप में है। मौके पर बासुदेव दत्ता, प्रभु मंडल, पंचायत की मुखिया रानी बास्की, भीम मंडल, गोवर्धन मंडल, बासुदेव मंडल लोधा मंडल, प्रदीप मंडल, धनेश्वर मंडल, शंकर थे।

महाकाली यज्ञ को लकर कलश यात्रा में शामिल कुंवारी कन्याएं।

महायज्ञ को ले भूमि पूजन अनुष्ठान का समापन

भूमि पूजन करते श्रद्धालु।

भास्कर न्यूज |नाला

नाला प्रखंड में 31 मई से नौ दिवसीय लक्ष्मीनारायण महायज्ञ के लिए बुधवार को विधि विधान पूर्वक शंखनाद हो गया है। सुबह से यज्ञ मैदान में श्रद्धालुओं की भीड़ तथा लाउड स्पीकर के माध्यम से भक्तिगीत गूंजते रहने से चारों ओर का वातावरण भक्तिमय बना हुआ था। प्रखंड मुख्यालय के यज्ञ मैदान में अहले सुबह बनारस के जाने माने आचार्य परमात्मा पांडेय द्वारा भूमि पूजन के साथ धार्मिक अनुष्ठान का शुभारंभ किया गया। इस मौके पर आचार्य ने भूमि शुद्धि के उपरांत भगवान गणेश, वरूण समेत पंचदेव, नवग्रह, बसुधारा, मातृका पूजन आवाह्न आदि धार्मिक गतिविधि के माध्यम से पूजार्चना किया। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार वैदिक रीति रिवाज से धर्म ध्वज का स्थापन किया गया। धार्मिक अनुष्ठान के बारे में आचार्य ने बताया कि महायज्ञ में भूमि पूजन एवं धर्म ध्वज का स्थापन अभिन्न अंग माना जाता है। ध्वज में हनुमान जी स्वयं विराज करते हैं तथा इस कार्यक्रम के 45 के अंदर महायज्ञ का शुभारंभ किया जाता है। उन्होंने कहा कि परिवार एवं समाज में सदाचरण में बृद्धि, आशानुरूप बृष्टि एवं फसल उत्पादन के साथ साथ सुख चैन कायम रहता है। महायज्ञ का अनुष्ठान एवं धुंआ से संपूर्ण वातावरण शुद्ध होता है तथा प्राणियों में सद्भावना पैदा होती है। इस धार्मिक कार्यक्रम में अनुमंडल पदाधिकारी नवीन कुमार ने भी अंशग्रहण किया। इस मौके पर प्रखंड विकास पदाधिकारी सुनील कुमार प्रजापति, अंचलाधिकारी झुन्नु कुमार मिश्रा, थाना प्रभारी बिक्रम प्रताप सिंह, यज्ञ समिति के अध्यक्ष सुकमनि हेम्ब्रम, सचिव गणेश मित्रा व निमाई घोष के अलावा निरंजन मंडल, जीतेन माजि, पंकज झा, चंद्रमोहन घोष, सुकुमार राय तथा स्थानीय नागरिक उपस्थित थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×