• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Nala
  • धर्मराज पूजा को लेकर 28 से होगा गाजोत्सव का आयोजन, तैयारी शुरू
--Advertisement--

धर्मराज पूजा को लेकर 28 से होगा गाजोत्सव का आयोजन, तैयारी शुरू

भास्कर न्यूज| नाला/बिंदापाथर नाला विधानसभा क्षेत्र के बिंदापाथर थाना अन्तर्गत जलाई गांव में धर्मराज पूजा के...

Dainik Bhaskar

Apr 23, 2018, 03:20 AM IST
धर्मराज पूजा को लेकर 28 से होगा गाजोत्सव का आयोजन, तैयारी शुरू
भास्कर न्यूज| नाला/बिंदापाथर

नाला विधानसभा क्षेत्र के बिंदापाथर थाना अन्तर्गत जलाई गांव में धर्मराज पूजा के आयोजन को लेकर आवश्कय तैयारी की जा रही है। क्षेत्र के अति प्राचीन एवं प्रसिद्ध धर्मराज मंदिर में बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर 28 से 30 अप्रैल तक तीन दिवसीय गाजोत्सव सह मेला का आयोजन किया जाता है। पूजा को लेकर मंदिर सहित क्षेत्र में आवश्यक तैयारी जोरों पर है। जिससे जलाई, मंझलाडीह, नामुजलांई, आम्बाबॉक, लाकड़ाकुन्दा, डुमरिया, चड़कमारा, बड़वा, मोहनवॉक, वावुडीह, पिपला, बाघमारा, डाढ़ सहित पूरे क्षेत्र में भक्ति एवं उत्साह का वातावरण देखने को मिल रहा है। इस बारे में मुख्य पुजारी रवीन्द्रनाथ झा, गौर किशोर झा, बैधनाथ झा, सुबोध पांडे एवं मंदिर कमेटी के सुधिर कुमार सिंह, अनिल सिंह, गोपाल सिंह, गुरुपद सिंह, प्रेमानन्द सिंह, काशिनाथ सिंह, गुणधर सिंह, परेश सिंह, बलदेब सिंह ने कहा की धर्मराज पूजा लेकर तैयारी जोरों पर है। आगामी 28 से 30 अप्रैल तक गाजोत्सव का आयोजन होगा। जिसे लेकर आवश्यक तैयारी किया जा रहा है। गाजोत्सव के प्रथम दिन पर मंझलाडीह स्थित मुख्य यजमान सिंह परिवार के एकपहाड़ तलाब में दर्जनों भक्त पवित्र स्नान कर मुख्य पुजारी रवीन्दनाथ झा द्वारा वैदिक मंत्रोचारण के साथ रक्षासूत्र धारण कराया जाएगा। तपश्चात भक्त कतारबद्ध होकर मुख्य पुजारी को अपने अपने कंधों पर चढ़ाकर धर्मराज मंदिर तक लेकर जाएंगे। मंदिर में शाम को विशेष पूजा का आयोजन किया जाएगा। दूसरे दिन सुबह गाजोनत्सव का मुख्य पूजा पाठ का प्रारंभ होगा, दिन भर क्षेत्र के श्रद्धालु द्वारा पूजा आर्चना किया जाएगा। परंपरा एवं मान्यता के अनुसार श्रद्धालु मंदिर पहुंच कर घी या तेल का लेप लगाने के उपरांत बाबा धर्मराज के पूजा आर्चना के लिए मिट्टी का घोड़ा, कमल फूल, प्रसाद चढ़ना विशेष महत्व है। दोपहर को सैकड़ों महिला श्रद्धालु द्वारा भव्य कलश यात्रा का आयोजन किया जाता है। मौके पर दर्जनों भक्ताओं द्वारा पूरे शरीर पर मोटी सूई आरपार करना, कांटे पर चलना, आग पर चलना सहित हैरत अंगेज करतब दिखाया जाता है। जिसे दर्शन के लिए दूर दराज क्षेत्र से काफी संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं। इस अवसर पर मेला का भी आयोजन होता है। मेला प्रेमियों द्वरा मेला का आनंद जमकर उठाते हैं। मेला में विभिन्न प्रकार झुले, ब्रेक डांस, सर्कस, मीना बाजार, मिठाई दुकान का स्टॉल लगाता है जिसमें लोगों द्वारा विभिन्न प्रकार के सामग्री की खरीददारी किया जाता है। यह क्षेत्र ग्रामीण क्षेत्र होने के नाते मेला का विशेष महत्व होता है क्षेत्र के काफी संख्या में लोग पहुंचते हैं।

धूमधाम से हुई भगवान सूर्य की पूजा

पबिया|सिकदारडीह गांव में सूर्य पूजन का आयोजन किया गया। रविवार को सिकदारडीह में नरेश चंद्र मंडल एवं खुदीराम मंडल के घर में धूमधाम से पूजा संपन्न हुआ। सूर्य पूजन से गांव के सभी लोग काफी आनंदित एवं थे। सभी ने महाप्रसाद ग्रहण किया। पूजा में शामिल सिकदारडीह के समस्त मंडल परिवार सात दिन पूर्व से प्रतिदिन मिष्ठान आहार में थे। ग्रामीण नरेश मंडल, विजय मंडल, बैद्यनाथ मंडल, जितेन्द्र मंडल, राजेंद्र मंडल, जगन्नाथ मंडल, प्रेम सागर मंडल, वरूण मंडल, मोहन मंडल, सुरेश मंडल, महादेव मंडल ने कहा कि सूर्य देवता का पूजा बहुत ही विधि विधान से किया गया। सभी लोग मंगलकामना के लिए पूजा अर्चना किया। इस अवसर पर पंडित श्रीराम पांडे द्वारा वैदिक मंत्रोचारण कर सूर्य देवता का पूजा किया गया।

X
धर्मराज पूजा को लेकर 28 से होगा गाजोत्सव का आयोजन, तैयारी शुरू
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..