Hindi News »Jharkhand »Nala» जिला प्रशासन के जनता दरबार में ग्रामीणों ने कहा अबतक आधार कार्ड भी नहीं बना

जिला प्रशासन के जनता दरबार में ग्रामीणों ने कहा अबतक आधार कार्ड भी नहीं बना

नाला प्रखंड मुख्यालय से लगभग 15 किमी दूर स्थित बड़ा रामपुर पंचायत के घुसरूकाटा गांव में शनिवार को जिला प्रशासन ने...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 13, 2018, 03:20 AM IST

जिला प्रशासन के जनता दरबार में ग्रामीणों ने कहा अबतक आधार कार्ड भी नहीं बना
नाला प्रखंड मुख्यालय से लगभग 15 किमी दूर स्थित बड़ा रामपुर पंचायत के घुसरूकाटा गांव में शनिवार को जिला प्रशासन ने जनता दरबार लगाया। इस कार्यक्रम के अंतर्गत कृष, पशुपालन, शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल, बाल विकास आदि सभी विभाग के द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी दी गई।

स्थानीय विधायक रवींद्रनाथ महतो, उपायुक्त आदित्य कुमार आनंद एवं जिप सदस्य सुकमनि हेम्ब्रम ने संयुक्त रूप से दीप जलाकर जनता दरबार का उद्घाटन किया। उपस्थित नागरिकों को संबोधित करते हुए उपायुक्त ने कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि आदि सभी विभाग द्वारा महत्वपूर्ण योजनाएं चलायी जा रही है। इसकी जानकारी लेकर लाभ उठाने की उन्होंने बातें कही।

डीसी ने कहा कि चालू वित्तीय वर्ष में बिरसा मुंडा आम बागवानी योजना का शुभारंभ किया जा रहा है। इस योजना के तहत रैयती जमीन में आम का पौधा लगाने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। कम से कम 25 डीसमिल जमीन में आम्रपाली और मल्लिका जैसे उन्नत किस्म के आम पेड़ से तीन से पांच साल के अंदर फल मिलने के साथ साथ आय का स्रोत में बढ़ौतरी होगी। उन्होंने कहा कि मनरेगा योजना हो या फिर मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी योजना इसके लिए प्रखंड स्तर के अधिकारी से जानकारी एवं लाभ आसानी से लिया जा सकता है। कीडनी, हर्ट, केंसर, टीवी आदि गंभीर बीमारी से ग्रसित व्यक्ति को जिला स्तर से ढाई लाख तथा पांच लाख तक की अनुदान राशि राज्य स्तर से स्वीकृति दी जाती है। किसी प्रकार की कठिनाई या असुविधा होने पर उनसे स्वयं संपर्क करने की बातें भी कही गई।

उपायुक्त ने कहा कि सरकार द्वारा संचालित कार्यक्रम एवं कल्याणकारी योजना के प्रति सभी स्तर के लोगों को जागरूक बनना होगा तथा औरों को भी जानकारी देना होगा। मौके पर उप विकास आयुक्त रामा शंकर प्रसाद, अनुमंडल पदाधिकारी नवीन कुमार, अपर समाहर्ता विधानचंद्र चौधरी, जिला शिक्षा पदाधिकारी नारायण विश्वास, जिला आपूर्ति पदाधिकारी प्रतिभा कुजूर, जिला शिक्षा अधीक्षक अभय शंकर, ब्लाॅक प्रमुख जियाराम हेम्ब्रम, बीडीओ सुनील कुमार प्रजापति, अंचल अधिकारी सुनील कुमार प्रजापति एवं अरबिंद ओझा, पंचायत की मुखिया प्रतिला मरांडी के अलावा सभी विभाग के अधिकारी, कर्मचारी, समाज सेवी एवं स्थानीय नागरिक काफी संख्या में उपस्थित थे।

प्रशासन और जनता के बीच बढ़ने लगी है दूरी : विधायक

नाला विधायक रवींद्रनाथ महतो ने कहा कि प्रशासन व जनता के बीच संपर्क बढ़ने के बदले दूरियां बढ़ने लगी है। विकास में मजदूर और जनता से अधिक बिचौलिया को तरजीह दी जाती है। जहां जमीनी स्तर पर सही लाभुक को योजना का फायदा कम मिलता है, वहीं बीच में बिचैलिया ही फायदा उठा लेते हैं। विधायक ने कहा कि अधिकारी स्वयं नहीं बल्कि एजेंट के माध्यम से काम करने की प्रणाली को बढ़ावा देते हैं। ऐसी कार्यशैली में सुधार नहीं होने से सरकारी योजना का उद्देश्य दूर होता दिखेगा। शौचालय योजना पर टिप्पणी करते हुए कहा कि 12 हजार में बनने वाला यह काफी कम गुणवत्ता वाला साबित होगा।

जनता दरबार में जिला प्रशासन के अधिकारी को समस्या सुनाने जुटे ग्रामीण।

महंगाई के कारण पीएम आवास बनाने में हो रही परेशानी

पीएम आवास के बारे में विधायक ने कहा कि वर्तमान समय में ईंट, सीमेंट, छड़ आदि की कीमतों में वृद्धि होने से निर्धारित प्राक्कलन के अनुसार आवास बनाने में गरीब लाभुक को घर से नुकसान हो रहा है। सरकार व प्रशासन को ध्यान देने की आवश्यकता है। चर्चा के क्रम में उन्होंने बताया कि मौजूदा समय में गजब की परिपाटी चल पड़ी है। कोई मवेशी पालक या छोटा कारोबारी अगर हटिया से मवेशी खरीदने, इलाज करवाने या बेचने जाते हैं तो उनका खैर नहीं है। पशु तस्करी के नाम पर उन्हें जेल भेजा जाता है। इन सब मामले में जनता को राहत दिलाने के लिए प्रशासन को पहल करना चाहिए।

लाभुकों को मिला परिसंपत्ति का लाभ

नाला। जनता दरबार के माध्यम से विधायक एवं उपायुक्त के द्वारा निःशक्त रमेश मरांडी को ट्राई साइकिल तथा उर्मिला घोष, मालावती घोष, मिलोनी बाउरी, जोगाई मरांडी आदि दर्जनाधिक व्यक्तियों को सहायक संयत्र प्रदान किया गया। उपायुक्त ने परिसर में लगाए गए स्वास्थ्य, कृषि, पशुपालन, आधार, शिक्षा, पेयजल, गव्य विकास, बाल विकास, बैंक, सामाजिक सुरक्षा, श्रम, मनरेगा आदि स्टाॅल का निरीक्षण किया। इस मौके पर उन्होंने पांच को मिट्टी स्वास्थ्य कार्ड तथा राज्य विधवा सम्मान योजना के तहत 45 लाभुकों के बीच स्वीकृति पत्र बांटा गया। बैंकर्स द्वारा लगाए गए स्टाॅल में जनधन के 35 खाते खोले गए तथा जीवन ज्योति के 6 और जीवन सुरक्षा बीमा योजना के 76 फार्म भरा गया है। जिला उद्योग के 20, जाॅबकार्ड के लिए 21, मजदूर निबंधन असंगठित एवं निर्माण के लिए 91, नया आधार के लिए 50, पीएम आवास 22 तथा सामाजिक सुरक्षा पेंशन के लिए 63 आवेदन में से 59 आॅन द स्पॉट स्वीकृत किया गया। मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी योजना के तहत सुदीप बाउरी, अमित दास समेत चार व्यक्तियों ने आवेदन जमा किया। जिन्हें कल्याण विभाग से इलाज के लिए अनुदान राशि मुहैया कराने का आश्वासन दिया गया।

व्यवस्था देख जिप सदस्य ने जतायी नाराजगी

धूप व तपीश का कहर के बाद भी सुबह से शाम चार बजे तक बड़ा रामपुर, धोबना, मौरबासा, अफलनपुर एवं कास्ता पंचायत क्षेत्र के लोग अपनी समस्या सुनाने तथा अधिकारी से सरकारी योजना के बारे में सुनने के लिए मंच के सामने बैठे रहे। व्यवस्था में त्रुटी और कमी के मद्देनजर मंच के पास पहुंचने के साथ ही जिप सदस्य बिफरे। मालूम हो कि वह भाजपा के जिला अध्यक्ष भी है तथा जनता दरबार का स्थल उनके जिला परिषद के सेवा क्षेत्र के अंतर्गत आता है। उनकी नाखुशी को तोड़ने का प्रयास भी नाकाम साबित हुआ और मंच छोड़कर जनता के साथ बैठे देख सैकड़ों लोग आश्चर्य चकित रह गए। इधर बंगाल से सटा हुआ इस उपेक्षित क्षेत्र और अपनी अपनी समस्या का निदान के लिए आवेदन देने के अलावा अधिकारी और विधायक से सीधा सवाल जबाव नहीं कर पाने, मौका नहीं मिलने से उपस्थित जनता और समाज सेवियों में नाखुशी देखी गई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×