Hindi News »Jharkhand »Nala» जनता दरबार में कुंडहित के ग्रामीणों को स्टॉल लगा दी गई योजनाओं की जानकारी

जनता दरबार में कुंडहित के ग्रामीणों को स्टॉल लगा दी गई योजनाओं की जानकारी

भास्कर न्यूज|कुंडहित/बागडेहरी कुंडहित में जनता दरबार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य रूप से प्रदेश...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 15, 2018, 03:20 AM IST

जनता दरबार में कुंडहित के ग्रामीणों को स्टॉल लगा दी गई योजनाओं की जानकारी
भास्कर न्यूज|कुंडहित/बागडेहरी

कुंडहित में जनता दरबार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य रूप से प्रदेश के कल्याण मंत्री डॉ. लुईस मरांडी मौजूद रही। उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए मंत्री ने कहा कि जनता दरबार का मुख्य उद्देश्य है कि सरकार लोगों के कल्याण के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएं चला रही। बहुत ऐसे लोग है जिन्हें योजनाओं के बारे में जानकारी नहीं है। जनता दरबार के माध्यम से लोगों को विभिन्न प्रकार की योजनाओं के बारे में जागरूक किया जाएगा। कहा कि पदाधिकारियों को भी लोगों को योजनाओं के बारे में जागरूक करने के लिए शिविर लगाना चाहिए। कहा कि संथाल परगना एक पिछड़ा क्षेत्र है। आज भी बहुत ऐसे लोग है जो थाना मुख्यालय, प्रखंड मुख्यालय जिला मुख्यालय तक नहीं देखा है। जनता दरबार लगाकर जिला प्रशासन एवं प्रखंड प्रशासन पंचायतों में जनता दरबार लगाकर सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं को जनता को जानकारी दें। जनप्रतिनिधि जनता के समस्याओं गंभीरता से निपटारा करें। जिला प्रशासन एवं प्रखंड प्रशासन के पास अगर जनप्रतिनिधि समस्या लेकर आएं तो उसका निपटारा त्वरित करें। पीएचडी विभाग लोगों को गर्मी के दस्तक देने के पहले ही पेयजल की समस्या का समाधान कर लेना चाहिए। प्रखंडों में टॉल फ्री नंबर होना चाहिए ताकि जनता अपनी समस्या को रख सके। पुलिस वाले को निर्देश देते हुए कहा कि कोई भी मामला को अच्छी तरह से जांच कर लें उसके बाद ही कार्रवाई करें। पुलिस के पास अगर जनता कोई समस्या लेकर आती है। तो उसका निपटारा तुरंत करें। मुख्यमंत्री असाध्य रोग के लिए ढाई लाख से पांच लाख रूपया मिलता था। उन्होंने कहा कि पदाधिकारियों को समय से पहले चापाकल समस्या या किसी भी प्रकार की समस्या के निदान करने की आवश्यकता है। कहा कि सभी प्रखंडों में अपना एक टाॅल फ्री नंबर होना चाहिये। ताकि लोग अपनी समस्या को फोन के माध्यम से पदाधिकारियों के समक्ष रख सके। पुलिस से कहा कि किसी भी प्रकार के केस-मुकदमा में पहले जांच कर लेने की आवश्यक्ता है। उसके बाद ही कानूनी कार्रवाई करे। कहा कि कन्यादान योजना का लाभ केवल बीपीएल परिवार को ही मिलता था। कहा कि समाज में कई ऐसे लोग हैं जो वास्तव में बीपीएल हैं परंतु प्रमाणित नहीं कर पाते हैं। इस बात को केबिनेट में रखकर ऐसे लोगों को भी योजना का लाभ दिलाने का कार्य किया गया है। आज 72 हजार के दायरे में रहने वालों लोगों को इसका लाभ मिल रहा है। उन्होंने सीएम रघुवर दास व पीएम नरेन्द्र मोदी को संवेदनशील बताते हुए आभार व्यक्त किया। मौके पर उपविकास आयुक्त रामाशंकर प्रसाद, जिला कल्याण पदाधिकारी, बीडीओ मो कयुम अंसारी, सीओ अरविंद कुमार ओझा, नाला के सीओ झुन्नु कुमार मिश्रा, बागडेहरी थाना प्रभारी प्यारे मोहन चौधरी, कुंडहित थाना प्रभारी रोहीत कुमार महतो, सीडीपीओ रेबा रानी, वन क्षेत्र पदाधिकारी शंकर भगत, बीस सूत्री सदस्य बीथीका झा, शान अली, माधव चंद्र महतो, प्रदीप पैतंडी, जगबंधु घोष, कुंदन गिरी आदि मौजूद थे।

कुंडहित में आयोजित जनता दरबार को संबोधित करती कल्याण मंत्री लुईस मरांडी व मंचासीन अधिकारी।

जनता दरबार में शामिल ग्रामीण और जनप्रतिनिधि।

जनप्रतिनिधियों ने भी गिनाई जिले की समस्याएं

प्रदेश के पूर्व कृषि मंत्री सत्यानंद झा उर्फ बाटूल ने अपने संबोधन में कहा कि जहां लोग खेतबाड़ी करते है। वहां पदाधिकारों को तालाब, सिंचाई कूप देने की काफी आवश्यक्ता है। मौके पर प्रदेश प्रवक्ता प्रवीण प्रभाकर भी लोगों को संबोधित करते हुये कहा कि नाला, फतेहपुर, कुंडहित में 100 केबी का इंसुलेटर लगाया गया। जिप सदस्य भजहरि भंडल ने कार्यक्रम के दौरान कल्याण मंत्री से मांग किया कि नाला-कुंडहित में रेल मार्ग को चालू किया जाए। इस क्षेत्र में रेल सुविधा नहीं है। जिससे लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ती है। उन्होंने मंत्री से कुंडहित प्रखंड को अनुमंडल का दर्जा देने की मांग किया। कार्यक्रम के दौरान लोगों को उज्जवला योजना सहित विभिन्न प्रकार का लाभ योग्य लाभुकों को दिया गया।

लाभुकों के बीच परिसंपत्ति का किया गया वितरण

जल सहिया रिंकु फौजदार, सुलता घोष, महमुदा बीबी को जल जांच किट दिया गया। उतरा भंडारी, तृप्ती बाउरी, रंजना मंडल, मौसमी सेन को मुख्य मंत्री लाडली योजना का प्रमाण पत्र दिया गया। हरिबाला घोष, फुलतार बीबी, बेबी धीवर, अर्पना पाल, अर्धानी पाल को गैस कनेक्शन दिया गया। नूर आलम खान, कालीपद खां विकलांग को ट्राई साईकिल दिया गया। लक्ष्मी आजिविका सखी मंडल मुड़ाबेड़िया आजिविका सखी मंडल को कृषि यंत्र दिया गया। मंच का संचालन राजेंद्र शार्मा ने किया। मौके पर प्रमुख रोबोनी मुर्मू, बीडीओ कयूम अंसारी, सीओ अरबींद कुमार ओझा, प्रदीप पैयतंडी, डॉ विनोद कुमार, रेवा रानी, बीइइओ नरेश दास सहित अन्य उपस्थित थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×