• Hindi News
  • Jharkhand
  • Nala
  • कार्यशाला में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने पर जोर
--Advertisement--

कार्यशाला में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने पर जोर

ग्राम स्वराज अभियान के अंतर्गत महिला सशक्तिकरण के लिए शनिवार को प्रखंड विकास भवन में कार्यशाला का आयोजन हुआ।...

Dainik Bhaskar

May 06, 2018, 03:25 AM IST
कार्यशाला में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने पर जोर
ग्राम स्वराज अभियान के अंतर्गत महिला सशक्तिकरण के लिए शनिवार को प्रखंड विकास भवन में कार्यशाला का आयोजन हुआ। राष्ट्रीय आजीविका एवं कौशल दिवस के रूप में आयोजित इस कार्यशाला में उपस्थित स्वयं सहायता समूह के सदस्यों को रोजगार के साथ जोड़कर आत्म निर्भर बनाने संबंधी जानकारी दी गई। बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्र के महिलाओं में हुनर रहते हुए भी जागरुकता की कमी से वे गरीबी के साथ जुझने को विवश है। वैसी महिलाओं को सिलाई, कटाई, बुनाई, पेंटिंग, पशुपालन, सब्जी उत्पादन आदि गतिविधियों से जोड़कर उन्हें आर्थिक रूप से सक्षम बनाया जा सकता है। सरकार द्वारा महिलाओं को आगे बढ़ाने, सशक्त करने तथा विभिन्न रोजगार सृजन करते हुए जीवन में बदलाव लाने तथा उन्हें आत्म निर्भर बनाने का निरंतर प्रयास जारी है। इस मौके पर संस्था के प्रतिनिधि ने बताया कि कौशल विकास के लिए मिहिजाम और धनबाद में प्रशिक्षण प्रदान करने की व्यवस्था की गई है। नाला प्रखंड क्षेत्र में 338 समूह संचालित है जिसके सभी सदस्यों को प्रशिक्षण देकर रोजगार के मुख्यधारा के साथ जोड़ने की बातें कही गई। इसके लिए प्रतिभागियों का चयन एवं सूची बनाने का कार्य भी शुरू किया गया है। इस अवसर पर 20 सूत्री समिति के जिला उपाध्यक्ष संतन कुमार मिश्रा एवं जिप सदस्य सुकमनि हेम्ब्रम ने सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण के लिए संचालित कार्यक्रम तथा इसका लाभ उठाने के लिए सभी से अपील किया। इस कार्यशाला के माध्यम से अच्छी तरह से समूह संचालन करने, पेंटिंग समेत अन्य कार्य में बेहतर प्रदर्शन करनेवाले समूह सदस्य को सम्मानित किया गया। इस मौके पर ब्लाॅक प्रमुख जियाराम हेम्ब्रम, 20 सूत्री समिति के प्रखंड अध्यक्ष संतोष कुमार भोक्ता, प्रखंड विकास पदाधिकारी सुनील कुमार प्रजापति, अंचलाधिकारी झुन्नु कुमार मिश्रा के अलावा सुजीत कुमार यादव, विष्णु मंडल, सुभाष यादव, ब्रेन मिंज, दीनदयाल प्रकाश, परिमल यादव के अलावा काफी संख्या में समूह सदस्य उपस्थित थे। गरमी के मौके पर इस तरह का कार्यक्रम से महिला सदस्य और उनके छोटे छोटे बच्चों के साथ काफी परेशान दिखे। अपनी अपनी मां के संग इस गरमी में पहुंचे नौनिहालों को प्यास बुझाने में भी कठिनाईयों का सामना करना पड़ा। इतना ही नहीं लगभग पांच सौ से अधिक प्रतिभागी शामिल होने के कारण कुछ लोगों को विकास भवन के बाहर ही खड़ा रहना पड़ा। इस अपर्याप्त व्यवस्था से समूह सदस्य एवं उनके अभिभावकों में तीव्र नाखुशी देखी गई।

महिला सशक्तिकरण विषय पर कार्यशाला में शामिल अतिथि।

X
कार्यशाला में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने पर जोर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..