Hindi News »Jharkhand »Nala» रोजगार के अभाव में हो रहा पलायन : मरांडी

रोजगार के अभाव में हो रहा पलायन : मरांडी

जेवीएम द्वारा 31 मई को गोपालपुर-जामताड़ा में निर्धारित आदिवासी महासम्मेलन के तैयारी को लेकर बुधवार को मुकुंडीह...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 17, 2018, 03:50 AM IST

रोजगार के अभाव में हो रहा पलायन : मरांडी
जेवीएम द्वारा 31 मई को गोपालपुर-जामताड़ा में निर्धारित आदिवासी महासम्मेलन के तैयारी को लेकर बुधवार को मुकुंडीह मोड़ में कार्यकर्ताओं की एक बैठक हुई। इस बैठक में जेवीएम केंद्रीय कमेटी के अध्यक्ष सह सूबे के प्रथम मुख्यमंत्री बाबुलाल मरांडी मुख्य रूप से उपस्थित हुए। उपस्थित पार्टी कार्यकर्ताओं ने पूर्व की तरह गर्मजोशी के साथ उनका स्वागत किया। मरांडी ने महासम्मेलन की तैयारी एवं प्रचार प्रसार की समीक्षा किया। खासकर नाला प्रखंड क्षेत्र के दलाबड़, नाला, चक नयापाड़ा, पांजुनिया, अफजलपुर, श्रीपुर आदि 23 पंचायतों में कार्यकर्ताओं द्वारा की जा रही तैयारी की उन्होंने समीक्षा की। सभी पंचायत प्रभारी तथा उपस्थित कार्यकर्ताओं से तैयारी संबंधी जानकारी लेते हुए एक वातावरण तैयार करने के साथ अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित करने का दिशा निर्देश भी दिया गया।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि राज्य में वर्तमान समय में विकास और कल्याण तथा नौकरी रोजगार की क्या स्थिति है सभी को मालुम है। रोजगार के अभाव में रोजाना लोगों का पलायन जारी है। स्वास्थ्य की ऐसी लचर व्यवस्था हो गई है कि अब भी इलाज के लिए नाला क्षेत्र के लोगों को बंगाल या दूसरा राज्य जाना पड़ता है। मरांडी ने कहा कि राज्य गठन के कुछ समय तक लोगों ने सोचा था कि अब सबकुछ अच्छा दिखेगा, वर्षो पुरानी समस्या का निदान होगा तथा रोजगार के लिए बाहर नहीं जाना होगा। लेकिन अबतक एक ही स्थिति बनी हुई है। शिक्षा के क्षेत्र में जहां प्रगति होना चाहिए वहां शिक्षा संस्थान बंद किया जा रहा है। स्थानीयता के नाम पर बाहर के लोग इस राज्य में नौकरी-चाकरी हथियाने लगे हैं। कई कार्यकर्ता के द्वारा उठाए गए सवाल पर उन्होंने कहा कि मौजूदा परिस्थिति में जब यहां के युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही है तब डोमिसाइल नीति और बाबूलाल मरांडी याद आने लगे हैं। उन्होंने कहा कि अपना अधिकार पाने के लिए पार्टी संगठन को पहले मजबूत करना होगा तभी वर्तमान शासन व्यवस्था में बदलाव आ सकता है। इस अवसर पर जेवीएम के केंद्रीय उपाध्यक्ष विनोद शर्मा, क्रीड़ा मंच के अध्यक्ष तापस भट्टाचार्य, केंद्रीय कमेटी सदस्य पुष्पा सोरेन, जिला महा सचिव मनोज कुमार गोस्वामी, जिला अध्यक्ष प्रो सुनील हांसदा, जिला प्रभारी विजय ठाकुर, प्रखंड अध्यक्ष दिलीप हांसदा के अलावा किसन मुर्मू, सुमन टुडू, जियाराम मुर्मू, मिठुन रविदास, बाच्चु लोहार आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

तैयारी बैठक को संबोधित करते बाबूलाल मरांडी।

भाजपा सरकार का सिस्टम पूरी तरह से फेल हो चुका है

कुंडहित में बाबूलाल ने की कार्यकर्ताओं के साथ बैठक

भास्कर न्यूज|कुंडहित

झारखंड विकास मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी बुधवार को कुंडहित पहुंचकर झाविमो नेता राजू राय के आवास पर कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। बैठक की अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष विश्वनाथ धीवर ने किया। मौके पर केंद्रीय अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने संबोधित करते हुए कहा कि झारखंड राज्य की स्थापना होने के 18 वर्ष पूर्ण होने को है। लेकिन झारखंड का विकास आज तक नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि जब मैं झारखंड का मुख्यमंत्री था तो टीचर ट्रेनिंग, पोलिटेक्निक तथा इंजीनियरिंग करने वाले छात्र छात्राओं को नि:शुल्क ट्रेनिंग दिलाया करता था। प्रशिक्षण में जो रुपए खर्च होती थी वो रुपए सरकार वापस कर देती थी। लेकिन भाजपा सरकार के आने के बाद प्रशिक्षण का रुपए वापस करना बंद कर दिया। भाजपा सरकार में प्रदेश के लोग भूख से मर रहे है। गढ़वा, चतरा, पलामू, डालटेनगंज सहित अन्य जिलों में कितने लोगों को भूख से मौत हो गई। लेकिन सरकार को इसकी कोई चिंता नहीं है। सरकार की सिस्टम पूरी तरह से फैल है। सरकार बड़े उद्योगपतियों को बढ़ावा दे रही है। मितल, अडानी, टाटा जैसे कंपनियों के लिए सरकार काम कर रही है। झारखंड में शिक्षा की कोई व्यवस्था नहीं है। उन्होंने कहा कि मेरे कार्यकाल में गांव गांव में स्कूल खोला गया था। जिसे भाजपा सरकार ने बंद कर दिया। काफी दूर स्कूल होने के कारण बच्चे पढ़ने नहीं जाते हैं। सरकार भवन तो बना दिया लेकिन शिक्षक बहाल नहीं किया। झारखंड में लोग इलाज के बिना मर रहे है। अस्पतालों में डॉक्टर व नहीं है। लोग दिल्ली, रांची, कोलकाता सहित अन्य बड़े शहरों जाकर इलाज करवा लेते है। लेकिन यहां की गरीब जनता कहां जाएंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×