Hindi News »Jharkhand »Narayanpur» पहली से आठवीं तक की कक्षा मात्र 6 कमरों में संचािलत, कई कमरे जर्जर

पहली से आठवीं तक की कक्षा मात्र 6 कमरों में संचािलत, कई कमरे जर्जर

नारायपुर प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय कालीपहाड़ी में वर्ग कक्ष एवं शिक्षकों की कमी की वजह से शिक्षण व्यवस्था...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 27, 2018, 03:00 AM IST

पहली से आठवीं तक की कक्षा मात्र 6 कमरों में संचािलत, कई कमरे जर्जर
नारायपुर प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय कालीपहाड़ी में वर्ग कक्ष एवं शिक्षकों की कमी की वजह से शिक्षण व्यवस्था पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है। विद्यालय में 350 छात्रों में 5 शिक्षक हैं। दो सरकारी शिक्षक तथा तीन पारा शिक्षक पदस्थापित है। जबकि विद्यालय में कक्षा 1 से लेकर 8 तक की छात्र- छात्राएं पढ़ते हैं। वहीं विद्यालय भवन भी जर्जर है। यहां 1 से लेकर 8 तक की कक्षा के लिए 8 कमरों की जरूरत है लेकिन मात्र 6 कमरा कमरे में ही बच्चे पढ़ने को मजबूर है। शौचालय की स्थिति काफी जर्जर है। विद्यालय के प्राचार्य सरवन प्रसाद ने बताया कि जर्जर भवन की मरम्मती को लेकर विभाग को भेजा गया है लेकिन अभी तक भवन की मरम्मत नहीं हो पाई है। उन्होंने कहा कि शिक्षकों की ही कमी है विषय वार शिक्षक नहीं रहने के कारण पढ़ाने में परेशानी होती है। मुखिया सरिता कुमारी, ग्रामीण नंदु कुमार आदि का कहना है कि शिक्षकों का प्रतिनियोजन व समायोजन किए जाने के कारण पठन-पाठन प्रभावित हो रहा है।

नारायणपुर का उत्क्रमित मध्यम विद्यालय।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Narayanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×