• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Narayanpur
  • महिलाओं का खाता खुलवाकर साइबर ठगी के पैसे मंगाने वाले 2 ठग गिरफ्तार
--Advertisement--

महिलाओं का खाता खुलवाकर साइबर ठगी के पैसे मंगाने वाले 2 ठग गिरफ्तार

जामताड़ा पुलिस ने दो साइबर ठग को गिरफ्तार किया है। दोनों से पुलिस पूछताछ कर रही है। गिरफ्तार किए गए साइबर ठग की...

Dainik Bhaskar

Apr 23, 2018, 03:20 AM IST
महिलाओं का खाता खुलवाकर साइबर ठगी के पैसे मंगाने वाले 2 ठग गिरफ्तार
जामताड़ा पुलिस ने दो साइबर ठग को गिरफ्तार किया है। दोनों से पुलिस पूछताछ कर रही है। गिरफ्तार किए गए साइबर ठग की निशानदेही पर धनबाद जिले के टुंडी थाना क्षेत्र में पुलिस छापेमारी कर ठगी के मुख्य सरगना को गिरफ्तार करने का प्रयास कर रही है। जानकारी के अनुसार पुलिस ने मिहिजाम थाना कांड संख्या 5/18 का अनुसंधान के क्रम में टुंडी थाना क्षेत्र के शहरपुरा गांव निवासी सुबल दास पिता हीरालाल दास और जामताड़ा थाना क्षेत्र के पाकडीह निवासी मुस्ताक पिता मकबुल मियां को हिरासत में लिया है। दोनों ने पुलिस के समक्ष अपना अपराध स्वीकार किया है। दोनों की निशानदेही पर पुलिस ठगी के मुख्य सरगना सूरज दास पिता बिनोद दास की गिरफ्तारी के लिए धनबाद जिले के टुंडी थाना क्षेत्र के शहरपुरा में छापेमारी कर रही है। तीनों साइबर ठगों ने मिलकर एक करोड़ रुपए से अधिक की राशि महिलाओं से ठगे हैं। जानकारी के अनुसार मुस्ताक जिले के नारायणपुर थाना क्षेत्र के चिरूडीह गांव का रहनेवाला है। उसकी मुलाकात नारायणपुर थाना क्षेत्र के लोकनियां गांव निवासी सुबल दास से हुई। सूरज के कहे अनुसार मुस्ताक ने मिहिजाम थाना क्षेत्र के नीलदाहा निवासी महिलाओं को बहला-फुसलाकर बैंक में खाता खुलवाया। खोले गए बैंक खाते का एटीएम, पासबुक एवं अन्य कागजात अपने पास रख लिए थे। इसके बाद बैंक खाता का डिटेल सूरज को दे दिया। सूरज उक्त बैंक खाता में साइबर ठगी के माध्यम से रुपए मंगाने लगा। बैंक खाता में जमा राशि की निकासी मुस्ताक करके सुबल और सूरज को दिया करता था। इस काम के लिए मुस्ताक को निकासी किए गए कुल राशि का 10 फीसदी और सुबल को 10 फीसदी मिलता था। जबकि शेष राशि सूरज के पास चला जाता था। सूरज के बारे में बताया गया है वह साइबर ठगों का मुख्य सरगना है।

आदिवासी महिलाओं को बनाता था निशाना

उल्लेखनीय है कि इस तरह की साइबर ठगी में अपराधियों ने गांव की आदिवासी महिलाओं को अपना निशाना बनाया था। अपराधी ठगी के लिए गांव में जाकर महिलाओं को सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के नाम पर बैंक में खाता खुलवाया था और उनका एटीएम अपने पास रख लिया था। साइबर ठगी की राशि उक्त बैंक खाता में मंगवा कर राशि की निकासी कर ली जाती थी। पैसे निकालने और डालने की भनक महिलाओं को नहीं होती थी। अपराधियों ने जामताड़ा प्रखंड के मिहिजाम थाना क्षेत्र के नीलदाहा गांव निवासी अस्तिका टुडू, मनाेदी टुडू, महामती बेसरा, जयंती मुर्मू, बसंती टुडू, मनीषा टुडू, मनाेकी देवी, सुन्नी देवी का जामताड़ा के विभिन्न बैंकों में खाता खुलवाया था।

मुंबई पुलिस ने महिलाओं को भेजा था नोटिस, अब तक एक करोड़ रुपए की कर चुके हैं ठगी

महिलाओं को ठगी का शिकार होने की सूचना उस दिन मिला जब मुंबई के थाना से एक नोटिस मिला। जिसमें महिलाओं के बैंक खाता में राशि आने की बात कही गई थी। नोटिस में लिखा गया था उनके खाते से इतनी बड़ी राशि की ठगी की जा रही है। नोटिस मिलने के बाद महिलाएं पंचायत की मुखिया देवीसन हांसदा से मिली। मुखिया ने मामला की गंभीरता को देखते हुए इसकी शिकायत जिला के पदाधिकारियों से किया था। पूरी घटना की जानकारी एसडीपीओ पूज्य प्रकाश एवं साईबर डीएसीपी सुमित कुमार को दिया था। जिसके बाद जांच हुई और आज दो लोगों की गिरफ्तारी हुई।

इस गिरोह में 200 लोग हैं शामिल

आरोपी ने बताया कि इस तरह की ठगी में उसके साथ लगभग 200 लोगों की टीम है, जो साइबर अपराध में संलिप्त है। मुस्ताक के अनुसार वह कन्यादान नामक एक एनजीओ में काम करता था। एनजीओ के काम के लिए वह ग्रामीण इलाकों में जाया करता था। जिस कारण आदिवासी महिलाओं में उसकी अच्छी पैठ थी। जामताड़ा पुलिस इसे बड़ी सफलता मान रही है। साइबर अपराधियों ने मई 2017 से दिसंबर 2017 तक एक करोड़ रुपए से अधिक की ठगी किया था।

आरोपी ने नाम व पता गलत बता बनाया शिकार

गिरफ्तार मुस्ताक खाता खुलवाने के लिए महिलाओं को अपना नाम मुस्तफा बताया था और अपना पता जामताड़ा थाना क्षेत्र के सोनबाद गांव बताया था। जबकि वह नारायणपुर थाना क्षेत्र के चिरूडीह का रहनेवाला था और वर्तमान में जामताड़ा थाना क्षेत्र के पाकडीह गांव में रहता था। गिरफ्तार आरोपी ने बताया कि बैंक में खाता खुलवाने के लिए स्वयं को एनजीअाे के माध्यम से सरकार के योजनाओं का लाभ दिलाने का झांसा दिया था। उसने मुख्यमंत्री लक्ष्मी लाडली योजना, कन्यादान आदि योजनाओं का लाभ एनजीओ के माध्यम से देने की बात महिलाओं से कहा था।

X
महिलाओं का खाता खुलवाकर साइबर ठगी के पैसे मंगाने वाले 2 ठग गिरफ्तार
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..