• Hindi News
  • Jharkhand
  • Narayanpur
  • पति के दीर्घायु की कामना के लिए हुई वट सावित्री की पूजा
--Advertisement--

पति के दीर्घायु की कामना के लिए हुई वट सावित्री की पूजा

Narayanpur News - पति की लंबी उम्र की प्रार्थना तथा सदा सुहागन रहने के संकल्प के साथ सोमवार को वट सावित्री की पूजा-अर्चना नारायणपुर...

Dainik Bhaskar

May 15, 2018, 03:20 AM IST
पति के दीर्घायु की कामना के लिए हुई वट सावित्री की पूजा
पति की लंबी उम्र की प्रार्थना तथा सदा सुहागन रहने के संकल्प के साथ सोमवार को वट सावित्री की पूजा-अर्चना नारायणपुर प्रखंड के विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में मनाया गया। ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष की अमावस्या तिथि को हर साल मनाया जाने वाला यह त्योहार खासकर उन महिलाओ के लिये विशेष फलदायी है जो नियम और निष्ठा से वट वृक्ष की पूजा करती है। उन्हें अखंड सौभाग्य की प्राप्ति होती है। सोमवार को कहीं कहीं यह त्योहार मनाया गया तो कहीं कहीं मंगलवार को भी बट पूजा का त्योहार मनाया जाएगा। मान्यता को लेकर सोमवार को बट सावित्री की पूजा बरगद की छांव तले गांव की कुछेक सुहागिन महिलाओं द्वारा किया गया। सुखी वैवाहिक जीवन तथा पुत्र प्राप्ति के लिए भी यह पूजा हर साल की जाती है। दूसरी ओर वट पूजा को लेकर साेमवार नारायणपुर सहित अन्य बाजारों में महिलाओ ने अपने साज सामानों की खरीदारी करती देखी गयी। ये सभी महिलाएं मंगलवार को अमावस्या तिथि पर पूजा करेंगी। दो दिन तक अमावस्या तिथि होने के कारण यह बट सावित्री पूजा सोम तथा मंगल को भी किये जाने की सूचना है। सुहागिन महिलाएं सुबह सबेरे सज धज कर सोलह श्रृंगार करके बट वृक्ष के चारों ओर सात फेरे लेते हुए रक्षा सूत्र बांध कर सुखद जीवन तथा अपने पति की लंबी उम्र की कामना की है। सावित्री सत्यवान की पौराणिक कथा बुढी माताओं ने अपने नव वधु को सुनाती हुई अमर सुहाग की सलामती के लिए सुंदर गीत गाकर सुनाया। मंगलवार को सुहागन महिलाएं वट सावित्री की पूजा करेंगी, पूजा को लेकर बाजार में आवश्यक सामग्री की खरीदारी देखी गई। इस अवसर पर फलों की दुकान पर खरीदारों की भीड़ लगी रही।

वट वृक्ष में रक्षा सूत्र बांधकर सुनी गयी सावित्री सत्यवान की अमरकथा

X
पति के दीर्घायु की कामना के लिए हुई वट सावित्री की पूजा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..