--Advertisement--

चौपाल लगा किसानों को देंगे योजना की जानकारी

कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता विभाग योजनाओं का लाभ लाभुकों तक पहुंचाने एवं किसानों को जागरूक करने के उद्देश्य से 20 से...

Dainik Bhaskar

May 08, 2018, 03:30 AM IST
कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता विभाग योजनाओं का लाभ लाभुकों तक पहुंचाने एवं किसानों को जागरूक करने के उद्देश्य से 20 से 29 जून तक प्रखंड कृषि चौपाल का अायोजन किया जाएगा। जिले के सभी छह प्रखंड में तीन-तीन दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। चौपाल के माध्यम से राज्य सरकार कृषि, पशुपालन, गव्य, मत्स्य, सहकारिता एवं भूमि संरक्षण की विभिन्न योजनाओं का लाभ पहुंचाया जाएगा। ज्ञात हो कि 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के उद्देश्य से किसानों के लिए विभिन्न कार्यक्रम विभाग द्वारा आयोजित किया जा रहा है। ताकि किसान जागरूक होकर योजनाओं का लाभ उठा सके। किसानों को जिला मुख्यालय आने की आवश्यकता नहीं पड़े इसके लिए प्रखंड स्तर पर ही कार्यशाला आयोजित कर किसानों को प्रखंड स्तर पर ही लाभ पहुंचाया जाएगा।

बताया गया कि 20 से 22 जून तक प्रथम चरण में जामताड़ा सदर एवं नारायणपुर में चौपाल आयोजित किया जाएगा। दूसरे चरण में 23 से 26 जून 24 जून को छोड़कर कुंडहित, करमाटांड़ एवं तीसरे चरण में 27 से 29 जून तक नाला एवं फतेहपुर में चौपाल आयोजित किया जाएगा। प्रखंड कृषि चौपाल के प्रथम दिन कृषकों के बीच परिसम्पत्तियों का वितरण किया जाएगा। प्रखंड कृषि चौपाल के दौरान संचालित किये जाने वाले कार्यक्रमों के अनुश्रवण के लिए जामताड़ा जिला में निदेशक गव्य विकास झारखंड डॉ कृष्ण मुरारी एवं भेड़ पालन पदाधिकारी पशुपालन निदेशालय डॉ राधेश्याम राय को प्रतनियुक्त किया गया है।

मृदा स्वास्थ्य कार्ड का होगा वितरण

मौके पर मृदा स्वास्थ्य कार्ड का वितरण तथा मृदा परीक्षण किट का वितरण, बीज का वितरण किया जाएगा। दूसरे दिन फसल बीमा योजना के कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। वर्ष 2016-17 एवं 2017-18 के लंबित दावों का भुगतान किया जाएगा। लाभुकों से योजनाओं का आवेदन प्राप्त कर त्वरित स्वीकृति पर कार्रवाई की जाएगी। डबल क्रॉपिंग राइस फैलो स्कीम आदि योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। तीसरे दिन कृषकों एवं जन समुदायों के बीच जागरूकता कार्यक्रम एवं गोष्ठी का आयोजन किया जाएगा। जैविक खेती एवं स्पाईस मिशन के बारे में विस्तृत जानकारी दिया जाएगा। जिला मत्स्य पदाधिकारी मरियम मुर्मू ने बताया कि चौपाल के माध्यम से मछुआरा आवास योजना हेतु लाभुकों से आवेदन प्राप्त किया जाएगा। मत्स्य कृषकों के लिए आरएफएफ/डोभा/ तालाब हेतु आवेदन प्राप्त कर पर्याप्त संख्या में मछली का जीरा उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने मत्स्य पालकों से कहा कि अभी से ही तालाब को तैयार करना आरंभ कर दें। मछली पालन आरंभ करने के लिए उचित समय है। बताया कि विभाग द्वारा जल्द ही मछली का जीरा तैयार किया जाएगा तथा किसानों के बीच वितरण किया जाएगा।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..