Hindi News »Jharkhand »Narayanpur» हाई स्कूल के खेल मैदान पर चिरेका का कब्जा

हाई स्कूल के खेल मैदान पर चिरेका का कब्जा

चिरेका द्वारा स्थापित रेलवे हाई स्कूल डीवी ब्याॅज की स्थापना 1950 में की गई थी। हिंदी व बांग्ला माध्यम के साथ चालू की...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 14, 2018, 03:35 AM IST

हाई स्कूल के खेल मैदान पर चिरेका का कब्जा
चिरेका द्वारा स्थापित रेलवे हाई स्कूल डीवी ब्याॅज की स्थापना 1950 में की गई थी। हिंदी व बांग्ला माध्यम के साथ चालू की गई इस स्कूल में शुरूआती दौर में कक्षा 6 से दस तक की पढ़ाई करवाई जाती थी। छात्रों की संख्या इतनी थी की 35 कमरे भी कम पड़ जाते दो पालियों में विद्यालय में पठन पाठन का काम चलता था। शुरुआती दौर में 10 हजार छात्र इस विद्यालय की शोभा थे। वर्तमान में विद्यालय में बारहवीं तक की पढ़ाई होती है। लेकिन प्राइवेट स्कूल खुल जाने के बाद छात्रों की संख्या में लगातार कमी हुई है। पहले से विद्यालय में कई मूलभूत सुविधाएं नहीं है। स्कूल में एक भी हाॅल नहीं है। काॅमन रूम नहीं है, प्रयोगशाला में सामाग्री नहीं है, पुस्तकालय में बच्चों के लिए समाचार पत्र, पत्रिका व जरूरी पुस्तकें नहीं है। चिरेका में सीपीओ के अंदर सभी स्कूल आते हैं लेकिन शायद ही सीपीओ वर्ष में एक बार भी विजीट किए हो। कोई विद्यालय का हाल लेने वाला नहीं है। इतना ही नहीं चिरेका प्रशासन ने अब विद्यालय के खेल के मैदान को इंडोर स्टेडियम के हवाले कर घेराबंदी कर दी है। विद्यालय के इस मैदान में हर वर्ष खेलकूद प्रतियोगिता सहित सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाता था। चिरेेका में अब शिक्षा व्यवसाय का रूप धारण कर चुकी है नए नए नीजी विद्यालय खुलवाए जा रहे हैं। सभी निजी विद्यालय में बड़ी बड़ी खेल के मैदान है लेकिन सरकारी स्कूल के बच्चों को उपेक्षित की जा रही है। इस संबद्ध में प्राचार्य तपन मंडल ने कहा चिरेका का कहना है यह मैदान स्कूल का नहीं है। बता दें अगर स्कूल का ये खेल का मैदान नहीं है तो 68 साल बाद चिरेका को ध्यान आया तो फिर लाखों की लागत से खेल मैदान में छात्रों के बैठने के लिए जो स्टेडियम बनाए गए थे वो क्या था। लेकिन इस ओर किसी भी ट्रेड युनियन नेताओं की नहीं है।

खेल मैदान का किया गया घेराबंदी।

दलदला मोड़ जाने वाली सड़क बनी जानलेवा

स्थानीय लोगों ने विधायक से सड़क मरम्मत कराने की लगाई गुहार

भास्कर न्यूज|मुरलीपहाड़ी

नारायणपुर बाजार से दलदला मोड़ तक जाने वाली सड़क पर लोगों को हमेशा हादसे की आशंका जान पड़ती है। बता दे कि नारायणपुर बाजार से हर वक्त दलदला मोड़ जाने के लिए लोगों को एक बार रोड पार करने हेतु सोचने के लिए मजबूर होना पड़ता है। ऐसे में लोग जान माल के खतरे को भांप कर यहां से बाजार तक जाने वाली सड़क मरम्मत की मांग विधायक डाॅ. इरफान अंसारी से किया है।

यह मोड़ गोविन्दपुर साहेबगंज हाइवे पर स्थित होने के कारण कब किस वक्त लोग वाहन के चपेट में आ जाएंगे यह कोई नहीं कह सकता है। इस बात को लेकर लोगों ने विधायक डाॅ इरफान अंसारी से इस सड़क को दुरुस्त करने की मांग भी करने लगे है। यहां पर लगातार बढ़ती वाहनों के आवागमन को लेकर लोग काफी सशंकित भी होने लगे है। नारायणपुर बाजार के दुकानदारों को अपने सामानों को मंगाने हेतु इसी खतरनाक सड़क को पास करना पड़ता है। बाजार से सामान लोड कर आती हुई गाङियां एकाएक रोड पर चढने से हाइवे पर आती जाती वाहनों से टकरा जाने का भय हमेशा लगा रहता है। नारायणपुर बाजार से दलदला मदन पांडेय चौक तक जाने के लिये वाहनों को काफी तेज गति से चढाई को पार करना होता है। इस दिशा में विधायक डाॅ इरफान अंसारी ने खतरे की आशंका को जानकर घंटों इस सड़क के किनारे बैठकर स्थिति का जायजा लिया तथा बहुत जल्द इस रोड को पास कराने का आश्वासन दिया है। मौके पर बीडीओ जहीर आलम, मदन रजक, बीरबल अंसारी, मो मुस्तफा, मो अजहरुद्दीन, कटी मंडल आदि सहित काफी संख्या में स्थानीय लोग उपस्थित थे।

नारायणपुर जाने वाली सड़क।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Narayanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×