--Advertisement--

रात 10 बजे घर से निकला था निगम का ड्राइवर, काम से इस हालत में लौटा घर

पत्नी का आरोप-साजिश के तहत की गई हत्या।

Dainik Bhaskar

Nov 26, 2017, 05:38 AM IST
Dangerous death in the driver road of Natu Road

रांची। रांची नगर निगम में कांट्रेक्ट पर नियुक्त ट्रैक्टर चालक आशीष पांडेय (30) की शनिवार को रातू रोड कब्रिस्तान के पास मौत हो गई। वे सुबह में झिरी (रातू) में कूड़ा गिरा कर लौट रहे थे, तभी रातू रोड के पास उनकी तबीयत अचानक खराब हो गई।

- ट्रैक्टर के रुकते ही वे जमीन पर गिर पड़े। पीछे से आ रहे दूसरे ट्रैक्टर चालक ने उन्हें गिरा देख वार्ड सुपरवाइजर को इसकी सूचना दी। इसके बाद उन्हेंं सदर हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया गया।

- कर्मचारी की मौत की सूचना के बाद सभी सफाईकर्मी सदर हॉस्पिटल में जुटे और हंगामा करने लगे। इसके बाद नगर विकास मंत्री सीपी सिंह सदर हॉस्पिटल पहुंचे और मृतक के परिजनों और नाराज कर्मचारियों से बात की।

- आशीष की पत्नी को कांट्रेक्ट पर नौकरी और उचित मुआवजा देने का आश्वासन दिया। इसके बाद डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय ने पीड़ित परिजनों को 20 हजार रुपए सौंपा।

रोज की तरह रात नौ बजे घर से निकले थे
- आशीष की पत्नी चंदा देवी ने लोअर बाजार पुलिस से कहा कि उनके पति की हत्या साजिश के तहत की गई है। शुक्रवार रात नौ बजे वे अलकापुरी स्थित अपने घर से कूड़ा वाहन चलाने के लिए निकले।

- सुबह में अनिल नामक कर्मचारी ने फोन कर बताया कि भैया का एक्सीडेंट हो गया है। जब उन्होंने पति के मोबाइल पर फोन किया तो उनके देवर ने फोन उठाया। देवर ने कहा कि आप घर पर रहिए। थोड़ी देर बाद देवर घर आए।

कर्मचारियों ने ठंड से मौत की आशंका जताई
- चंदा देवी ने बताया कि देवर के साथ वह सदर हॉस्पिटल पहुंचीं। वहां पति की बॉडी रखी हुई थी। देवर ने बताया है कि आशीष के मोबाइल का सारा नंबर फॉर्मेट कर दिया गया है। इससे साफ है कि साजिश के तहत हत्या हुई है।

- डॉक्टरों ने भी आशीष के सीने में चोट के निशान बताए हैं। वहीं, सफाई कर्मचारियों ने आशीष की मौत ठंड से होने की आशंका जताई है। पुलिस का कहना है कि अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चलेगा कि मौत की असली वजह क्या है।

X
Dangerous death in the driver road of Natu Road
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..