--Advertisement--

सूरत-मालदा एक्सप्रेस को ढाई घंटे रोका गया पूर्णिया के यात्री की तबीयत बिगड़ी, ट्रेन में मौत

परबाटोनिया, टाटी कनरवा स्टेशन पर ट्रैक मेंटेनेंस के कारण रुकी रही।

Danik Bhaskar | Nov 22, 2017, 08:20 AM IST

रांची। हटिया-राउरकेलासेक्शन के परबाटोनिया, टाटी कनरवा स्टेशन पर सूरत-मालदा एक्सप्रेस ट्रेन को ढाई घंटे रोका गया। ट्रेन के जनरल बोगी में यात्रा कर रहे योगेंद्र शर्मा (52) की तबीयत अचानक बिगड़ गई। उन्होंने काफी देर तक मदद की गुहार लगाई। साथ सफर कर रहे यात्रियों ने भी ट्रेन के गार्ड टीटीई को उनकी तबीयत खराब होने की जानकारी दी, लेकिन कोई कुछ मदद कर सका।

- आखिरकार कनरवा स्टेशन के पास जंगल में खड़ी ट्रेन में योगेंद्र ने तड़पते हुए दम तोड़ दिया। वे बिहार के पूर्णिया के रहनेवाले थे और बड़ौदा में राजमिस्त्री का काम करते थे। वे कुछ दिनों तक घर पर आराम करने के ख्याल से अपने गांव के ही एक साथी और साथ में बड़ौदा में काम करनेवाले दुखलाल शर्मा के साथ घर लौट रहे थे।
परिवार वालों से कहा था, कुछ दिन घर पर आराम करेंगे : दुखलाल शर्मा
- दुखलाल शर्मा ने बताया कि योगेंद्र बड़ौदा में काम करते थे। उनका इलाज भी चल रहा था। वे लोग बड़ौदा से ट्रेन पकड़ने के लिए सूरत आए थे और साथ ही घर लौट रहे थे। योगेंद्र ने परिवारवालों से कहा था कि कुछ दिन घर में आराम करेंगे।

- घर में परिवार के सभी सदस्य उनके लौटने के इंतजार में हैं। अब भला उन्हें क्या जवाब दूंगा, यह समझ में नहीं रहा है। राउरकेला स्टेशन पर योगेंद्र शर्मा ने सेब खाने के लिए मंगवाया। उन्होंने सेब खाया। कनरवा स्टेशन के पास जंगल में ट्रेन रुकी थी। तब योगेंद्र ने पानी मांगा। फिर बेचैनी महसूस होने लगी।