Home | Jharkhand | Ranchi | News | Strike of jharkhand administrative officers

राज्य प्रशासनिक सेवा के सभी अफसर अवकाश पर, कास्ट, रेसीडेंशियल भी बनना बंद हुआ

राज्य प्रशासनिक सेवा के सभी अफसर अवकाश पर, कास्ट, रेसीडेंशियल भी बनना बंद हुआ

Santosh Choudhry| Last Modified - Nov 17, 2017, 03:28 PM IST

Strike of jharkhand administrative officers
राज्य प्रशासनिक सेवा के सभी अफसर अवकाश पर, कास्ट, रेसीडेंशियल भी बनना बंद हुआ

रांची। एसीबी द्वारा हजारीबाग बरकट्टा के सीओ मनोज तिवारी को घूस लेते पकड़े जाने के बाद झारखंड प्रशासनिक सेवा उनके समर्थन में उतर गया है। राज्यभर में कार्यरत प्रशासनिक सेवा के अफसर तीन दिनों तक अवकाश पर चले गए हैं। प्रखंड से लेकर जिला और सचिवालय स्तर तक सभी काम ठप हो गया है। अफसरों के अवकाश पर जाने का सबसे अधिक असर स्टूडेंट्स पर पड़ रहा है क्योंकि अंचल में सीओ के नहीं होने की वजह से जाति, आय और आवासीय सर्टिफिकेट भी नहीं बन रहा है। 20 नवंबर तक सभी पदाधिकारी अवकाश पर रहेंगे...


- प्रखंड और अंचल कार्यालयों में मनरेगा सहित सरकार की सभी योजनाएं की मॉनिटरिंग और पेमेंट बंद हो गया है क्योंकि एक भी अंचल में बीडीओ और सीओ नहीं पहुंचे।

- रांची कलेक्ट्रेट में सीओ और कार्यपालक दंडाधिकारी भी नहीं पहुंचे। इस वजह से जाति, आय और आवासीय सर्टिफिकेट पर हस्ताक्षर भी नहीं हुआ। आवेदक कार्यालय पहुंचे, लेकिन बैरंग लौट गए।

- 20 नवंबर तक सभी पदाधिकारी अवकाश पर रहेंगे। इसके बाद भी एसीबी द्वारा सीओ पर किया गया केस वापस नहीं लिया गया तो सामूहिक हड़ताल पर चले जाएंगे।

फोटो : संतोष चौधरी।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now