• Home
  • Jharkhand News
  • Nirsa
  • मानव तस्करी के संदेह में ग्रामीणों ने महिला को पकड़ा
--Advertisement--

मानव तस्करी के संदेह में ग्रामीणों ने महिला को पकड़ा

निरसा थाना क्षेत्र के मुगमा में दिहाड़ी मजदूर श्यामलाल मुर्मू की प|ी व तीन बच्चों की मां तारामुनि मुर्मू को मानव...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:15 AM IST
निरसा थाना क्षेत्र के मुगमा में दिहाड़ी मजदूर श्यामलाल मुर्मू की प|ी व तीन बच्चों की मां तारामुनि मुर्मू को मानव तस्कर लेकर फरार हो गया। स्थानीय लोगों ने मुगमा निवासी सोमरी देवी उर्फ मालती देवी को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। वहीं भुक्तभोगी श्यामलाल ने पकड़ी गई महिला के खिलाफ निरसा थाने में लिखित शिकायत दर्ज करवाई है। मुगमा पोस्ट ऑफिस कॉलोनी निवासी दिहाड़ी मजदूर श्यामलाल ने बताया कि पूर्व की तरह रविवार को भी वह काम पर गया था। संध्या 4 बजे घर पहुंचा तो उसकी प|ी गायब थी। खोजबीन के बावजूद प|ी का कोई अता-पता नहीं मिलने पर स्थानीय लोगों के साथ घर पहुंचा। जब बच्चों से पूछताछ की तो बताया कि मुगमा निवासी सोमरी उर्फ़ मालती देवी घर आया था तथा मां को अपने साथ ले गया। इसके बाद लोगों ने पकड़ कर महिला को पुलिस के हवाले किया।

मालती ने तारामुनी के होने की बात स्वीकारी

जब पुलिस व स्थानीय लोग दबाव बनाने लगे तो मालती अलग-अलग बयान देने लगी। इसके बाद स्थानीय लोगों द्वारा बढ़ता दबाव को देख उसने कुल्टी में तारामुनी के होने की बात कही। इसके बाद पुलिस, स्थानीय लोग व श्यामलाल कुल्टी के लिए निकले। हालांकि अबतक गायब तारामुनी को खोज नहीं निकाला जा सका है।

संदेहास्पद है मालती देवी का व्यवहार

स्थानीय लोगों ने बताया कि सोमरी उर्फ मालती देवी कुछ वर्ष पूर्व मुगमा में आकर रहने लगी। स्थानीय लोगों द्वारा पूछे जाने पर उसके पति के देहांत होने की बात कही गई। वहीं गांव पूछे जाने पर हमेशा गोमो बाजार के समीप बताया गया। परंतु आज तक किसी ने उसके बच्चे व परिजनों को नहीं देखा। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि सोमरी प. बंगाल की रहनेवाली है। वह मुगमा में अपना नाम बदल कर रह रह है।