• Home
  • Jharkhand News
  • Nirsa
  • मानवाधिकार संघ ने प्रेमी युगल को कराई शादी
--Advertisement--

मानवाधिकार संघ ने प्रेमी युगल को कराई शादी

चार वर्षों से था लिव इन रिलेशनशिप में, लड़के ने शादी से किया था इंकार भास्कर न्यूज|निरसा लिव इन रिलेशनशिप के...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:35 AM IST
चार वर्षों से था लिव इन रिलेशनशिप में, लड़के ने शादी से किया था इंकार

भास्कर न्यूज|निरसा

लिव इन रिलेशनशिप के नाम पर चार वर्षों तक लड़की का शारीरिक शोषण व तीन बार गर्भपात कराने के बाद जब लड़की के परिजनों को मामले की जानकारी हुई तो वे लड़के से शादी करने की बात कही। परंतु लड़का द्वारा शादी से इनकार किए जाने के बाद लड़की के परिजन अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संघ के सदस्य काकुली मुखर्जी को मामले की जानकारी दी।

इसके बाद लड़की व लड़का पक्ष के परिजनों को समझा बुझा आपसी सहमति से दोनों का विवाह करवा दिया गया। साथ ही एक माह के अंदर रजिस्टर मैरेज पर भी सहमति दी गई। इस संबंध में डोरंडा रांची निवासी एक महिला ने बताया बताया कि बीते चार वर्षों से निरसा डाक घर के समीप निवासी कौशिक गोराई के साथ प्रेम चल रहा था। समय के साथ हमलोग लिव इन रिलेशनशिप में आ गए। लिव इन रिलेशनशिप में कौशिक ने कई बार मेरे साथ शारीरिक संबंध भी बनाए। हमलोगों में प्यार इतना बढ़ गया कि कौशिक मुझे अपने घर में बुलाकर मेरे साथ नाजायज संबंध बनता था।

इस दौरान मैं तीन बार गर्भवती भी हुई। कौशिक के प्यार में मैं ऐसी पागल हो गई थी कि उसके कहने पर मैंने तीनों बार गर्भपात करवा ली। परंतु मेरी आयु 26 वर्ष हो जाने के बाद मेरे परिजन शादी के लिए मुझ पर दबाव बनाने लगे। मैंने कौशिक से शादी करने की बात कही। परन्तु कौशिक मुझसे शादी से इनकार कर दिया। इसके बाद अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संघ के सदस्य काकुली मुखर्जी से संपर्क किया। उनके द्वारा किए गए प्रयास के कारण मेरा जीवन सफल हो गया।