आयुष्मान भारत से 12920 मरीजों को मिला लाभ, 70353 का बना गोल्डन कार्ड

Palamu News - आयुष्मान भारत योजना आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्तियों के लिए वरदान साबित हो रही है। पलामू जिले में आयुष्मान भारत...

Aug 19, 2019, 07:20 AM IST
Medininagar News - 12920 patients from ayushman india got benefit 70353 made golden card
आयुष्मान भारत योजना आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्तियों के लिए वरदान साबित हो रही है। पलामू जिले में आयुष्मान भारत योजना के तहत 18,12,253 लोगों को लाभ दिया जाएगा। अब तक पलामू जिले में 70,353 लोगों का गोल्डन कार्ड बनाया गया है, जबकि 12,920 सदस्य इस योजना का लाभ ले चुके हैं।

साथ ही 1,29,888 से अधिक का गोल्डन कार्ड अनुमोदित है। इस योजना के तहत देश भर में गरीबों का 5 लाख रुपए का मुफ्त स्वास्थ्य बीमा कराया गया है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य है कि कोई गरीब परिवार पैसे के अभाव में इलाज से वंचित नहीं रहे। उपरोक्त जानकारी उपायुक्त डॉ. शांतनु कुमार अग्रहरि दी।

पलामू जिले में अब बाधा नहीं बनेगी आर्थिक कमजोरी, आयुष्मान भारत से होगा निःशुल्क इलाज, एक रुपए भी नहीं होंगे खर्च, 5 लाख रुपए तक का हो रहा मुफ्त स्वास्थ्य बीमा : डीसी

आयुष्मान भारत में जिले के 11 सरकारी व 41 गैर सरकारी अस्पताल सूचीबद्ध

उपायुक्त ने यह भी कहा कि आयुष्मान भारत के तहत किसी भी रजिस्टर्ड हॉस्पिटल से लाभ प्राप्त किया जा सकता है। पलामू जिले में आयुष्मान भारत योजना के तहत कुल 11 सरकारी एवं 41 गैर सरकारी अस्पताल सूचीबद्ध हैं। मरीज इन सूचीबद्ध अस्पतालों में अपना इलाज करवाकर आयुष्मान भारत योजना का लाभ ले सकते हैं। आयुष्मान भारत योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए लाभुक परिवार को किसी प्रकार का भुगतान नहीं करना पड़ता है। इस योजना में किसी भी कागजी कार्रवाई में एक भी रुपए खर्च नहीं करने पड़ते हैं। यह योजना पूरी तरह से निःशुल्क है। इसमें जांच और दवाइयां निःशुल्क मिलती है। परिवार के जिन सदस्यों का नाम राशन कार्ड में नहीं हैं, वे राशन कार्ड में नाम दर्ज कराकर इस योजना का लाभ ले सकते हैं। आयुष्मान भारत योजना अवधि में जन्म लिए नवजात शिशु स्वतः इस योजना से जुड़ जाएंगे।

जानकारी देते पलामू डीसी डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि।

23 सितंबर तक जिले में निःशुल्क बनाए जाएंगे गोल्डन कार्ड, सबका होगा इलाज

उपायुक्त ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना 23 सितंबर 2019 तक निःशुल्क गोल्डन कार्ड बनाए जाएंगे। गोल्डन कार्ड के आधार पर आयुष्मान भारत योजना के तहत रजिस्टर्ड सरकारी और गैर सरकारी अस्पतालों में निःशुल्क इलाज संभव हो सकेगा। उन्होंने कहा कि उन परिवार या सदस्यों के लिए यह योजना वरदान साबित हो रहा, जो आर्थिक रूप से कमजोरी के कारण ठीक से इलाज नहीं करा पाते हैं। उन्होंने बताया कि इस योजना का लाभ लेने के लिए उम्र की कोई सीमा सीमा नहीं है। परिवार के सभी सदस्यों को इस योजना का लाभ दिया जाना है। आयुष्मान भारत योजना के तहत सभी रजिस्टर्ड अस्पताल के अलावा प्रज्ञा केंद्र से भी गोल्डन कार्ड बनवाया जा सकता है। यह सुविधा निःशुल्क प्रदान की जा रही है।

आधार नहीं है तो भी बनेगा कार्ड

राशन कार्ड नंबर या आधार नंबर के माध्यम से सूचीबद्ध अस्पतालों में लाभुकों का सत्यापन किया जाएगा। आधार कार्ड नहीं होने की स्थिति में वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि सरकार द्वारा जारी कोई भी पहचान पत्र मान्य होगा। इन कागजात के आधार पर लाभुक को तत्काल गोल्डन कार्ड बनाया जाएगा।

टॉल फ्री नंबर 14555 से प्राप्त कर सकते हैं आयुष्मान भारत योजना की जानकारी

आयुष्मान भारत योजना से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी टॉल फ्री नंबर 14555 पर प्राप्त किया जा सकता है। साथ ही इस टॉल फ्री नंबर पर या जिला स्तरीय शिकायत निवारण समिति के पास दर्ज कराई जा सकती है।

आयुष्मान भारत योेजना से पलामू में जुड़वा बच्चे को मिली नई जिंदगी

आयुष्मान भारत योजना आम लोगों के लिए वरदान साबित हो रही है। विशेषकर उन व्यक्तियों लिए काफी उपयोगी हुआ है, जिन्हें इलाज के बाद नई जिंदगी मिली है। आयुष्मान भारत योजना से पलामू जिले में जूड़वा बच्चे को नई जिंदगी मिली है, जो अपने आप में एक मिसाल है। 20 जुलाई 2019 को लेस्लीगंज प्रखंड के मुदरिया गांव निवासी सोनू राम की प|ी ने पांकी रोड स्थित डॉ. अवध किशोर उपाध्याय मेमोरियल हॉस्पिटल में नॉर्मल डिलीवरी से जूड़वा बच्चों को जन्म दिया। इतना नहीं पंडवा प्रखंड के लामीपतरा छेछवरी गांव निवासी अंकिता देवी के अलावा कबूतरी देवी, श्रद्धा देवी सहित अन्य लोगों को आयुष्मान भारत योजना के तहत इलाज हुआ है।

X
Medininagar News - 12920 patients from ayushman india got benefit 70353 made golden card
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना