पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Vishrampur News British Girl Henna Reached Vishrambandhu And Brotherhood Message Arrived In Vishrampur Welcome

विश्वबंधुत्व और भाईचारे का संदेश ले निकलीं ब्रिटिश युवती हेना पहुंची विश्रामपुर, हुअा स्वागत

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

शांति, विश्व बंधुत्व व समानता के संदेश को साइकिल से संसार के कोने-कोने तक पहुंचाने अकेले निकली 25 साल की ब्रिटिश युवती हेना का बेलचंपा में सैकड़ों बच्चे-सयाने ने पूरे गर्मजोशी से स्वागत किया। टूटी-फूटी हिंदी भाषा में बोल रही हेना केन के प्यार, भाईचारा तथा समानता के संकल्प को सैकड़ों ग्रामवासियों ने होली त्योहार पर पालन का संकल्प लिया। हेना आधा दर्जन देश की यात्रा कर चुकी हैं। 9100 किमी की दूरी तय कर चुकी हेना एक वर्ष में अाैर 16 हजार और दूरी तय करने वाली हैं। इस दौरान वे नेपाल, पाकिस्तान, चीन, कुरगिस्तान, अज्बेरिया, तुर्की, ईरान, बुल्गारिया, रूमानिया, हंगरी, स्लोवाकिया, चेक्सलोवाक़िया, जर्मनी, नीदरलैंड व इंग्लैंड में विश्व शांति व मानवता व दया तथा भाईचारा के संदेश का लोगों के बीच प्रचार-प्रसार करेंगी। आत्मविश्वास से भरी हेना केन ने कहा कि आपस के भेदभाव मिटाकर प्राचीन काल से भारत देश के वसुधैव कुटुंबकम की प्रेरणा से प्रभावित होकर उन्होंने इसे अपनी जिंदगी का मिशन व एंबीशन बनाया है। उन्होंने बताया कि उनके बचपन का कुछ समय कोलकाता में अपने दादा रवींद्रनाथ बनर्जी के सानिध्य में बीता है। उसी समय से भारत देश की मिट्टी से उनका बेहद लगाव हो गया। वह आज भी कायम है।

हेना केन ने शुक्रवार रात्रि में छोटानागपुर ग्रेफाइट इंडस्ट्रीज प्राइवेट लि. के विश्रामगृह में रात्रि विश्राम व उनके आतिथ्य को यादगार बताया। इसके लिए अपने झारखंड प्रांत की यात्रा के समन्वयक कनिष्क पोद्दार रांची व सीजीआई प्रबंधक एसएन पाठक, सहयोगी रवि शंकर कुमार व युवा नेता पंकज कुमार आदि के प्रति विशेष आभार जताया। इस क्रम में उन्होंने प्रकृति प्रेम व होली त्योहार के प्रति अपने विशेष लगाव का जिक्र किया। नो प्लास्टिक, जीरो प्रदूषण को भी धरती बचाने की मुहिम से जोड़ने की जरूरत बतायी। अपने विश्वस्तरीय एकल मिशन की सफलता के प्रति आश्वस्त हेना केन ने आगे की सारी जिंदगी लोगों की खुशियों के लिए समर्पित करने की बात कही। क्योंकि उनका जीवन का उद्देश्य ही हैप्पीनेस प्रोजेक्ट पर केंद्रित है। रवाना होने के पूर्व हेना ने बताया कि यूपी बॉर्डर कोन में शनिवार रात्रि ठहराव के बाद काशी में होलिकोत्सव मनाएगी। इस क्रम में वह क्रमशः हरिद्वार, कुल्लू-मनाली व हिमालय की तराई क्षेत्रों में भ्रमण अपने संदेश के लोगो के बीच ले जाएगी।

हेना का स्वागत करते विश्रामपुर के लोग।
खबरें और भी हैं...