डीएसई ने जांच रिपोर्ट उपायुक्त को भेजी, कहा- बिना अनुमति के स्कूल में खिलाड़ियों को ठहराना अनुचित

Palamu News - चैनपुर प्रखंड के लोकेया मध्य विद्यालय के बच्चों को एमडीएम नहीं मिलने की ट्विटर पर की गई शिकायत के आलोक में डीसी...

Feb 15, 2020, 07:36 AM IST

चैनपुर प्रखंड के लोकेया मध्य विद्यालय के बच्चों को एमडीएम नहीं मिलने की ट्विटर पर की गई शिकायत के आलोक में डीसी डाॅ. शांतनु कुमार अग्रहरि द्वारा डीएसई को मामले की जांच कर तत्काल कार्रवाई के दिए गए निर्देश पर जांच के बाद शिकायत की पुष्टि की गई है। चैनपुर के प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी हरेंद्र कुमार तिवारी ने जांच के बाद इस बात की पुष्टि की है कि 10 फरवरी को स्कूल के बच्चों को एमडीएम नहीं मिलने की शिकायत सही है। बीईईओ ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि उस तिथि को विद्यालय के 25 बच्चों को एमडीएम नहीं दिया गया। स्कूल में नामांकित 150 बच्चों में उपस्थित बच्चों में से 25 बच्चे दोपहर के भोजन से वंचित रह गए। उल्लेखनीय है कि ऐसा विद्यालय में बाहर के लोगों को ठहराए जाने से उत्पन्न अव्यवस्था की स्थिति के कारण हुआ। क्योंकि पिछले पांच दिन से विद्यालय के तीन कमरों में बाहर से आए खिलाड़ियों को ठहराया गया था। लोकेया में आयोजित फुटबॉल टूर्नामेंट में भाग लेने आए खिलाड़ियों के विद्यालय में ठहरे होने के कारण इन बच्चों को भोजन नहीं मिल पाया। स्पोर्टिंग क्लब लोकेया द्वारा स्व अनिल चौरसिया की स्मृति में आयोजित इस टूर्नामेंट में कई टीमें बाहर से आई थी। जिन्हें इस स्कूल में ठहराया गया था। 11 फरवरी काे फाइनल मैच के साथ टूर्नामेंट का समापन हुआ। इस मामले को लेकर 10 फरवरी को ही सीएम काे ट्वीट किये जाने के बाद जिला प्रशासन हरकत में आया और जिला शिक्षा अधीक्षक को जांच कराने की जिम्मेवारी सौंपी गई। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद डीएसई ने कार्रवाई के लिए जांच प्रतिवेदन उपायुक्त को भेज दिया है। डीएसई ने बताया कि जांच की फाइल डीसी को भेज दी गई है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना