भाईचारे का पैगाम देता ईद मिलादुन्नबी का जुलूस निकाला

Palamu News - शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में रविवार काे ईद मिलादुन्नबी का जुलूस निकाला गया। जुलूस पहाड़ी मोहल्ला स्थित गोसिया...

Nov 11, 2019, 07:10 AM IST
शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में रविवार काे ईद मिलादुन्नबी का जुलूस निकाला गया। जुलूस पहाड़ी मोहल्ला स्थित गोसिया मदरसा से निकलकर मुस्लिम नगर, माली मोहल्ला, शिवाला रोड, धोबी मोहल्ला, जय भवानी संघ चौक, घास पट्टी, कनीराम चौक, सत्तार सेट चौक, विष्णु मंदिर रोड, पंच मुहान, इंजीनियरिंग रोड, जिला स्कूल चौक होते हुए छह मुहान पहुंचा। जुलूस में उलेमा एकरामों ने तकरीर की और अल्लाह के प्यारे नबी हजरत मोहम्मद मुस्तफा सल्लल्लाहो ताला अलेही वसल्लम की जीवनी पर प्रकाश डाला। तकरीर के बाद जुलूस छहमुहान से निकलकर थाना रोड, हॉस्पिटल चौक, सत्तार सेठ चौक, हनुमान मिल रोड, कुंड मोहल्ला, काजी हाउस, हुसैन नगर होते हुए पहाड़ी मोहल्ला स्थित मदरसा मरकजी दारुलउलूम पहुंच कर संपन्न हुई। मदरसा के पास दुआ कराया गया।

जुलूस में मौलाना महताब नूरी ने कहा कि अल्लाह पाक ने नबी-ए-करीम हजरत मोहम्मद को पूरी दुनिया के लिए रहमत बनाकर भेजा है। उन्होंने कहा जब नबी-ए-करीम हजरत मोहम्मद सल्लल्लाहो नहीं आए, तो दुनिया में बुराइयां बढ़ी, लोग आपस में लड़ने लगे। उन्होंने सभी को समझाया, सही मार्ग दिखाया और मोहब्बत से रहना सिखाया। मौलाना महताब नूरी ने कहा कि दुनिया में हुजूर सल्लल्लाहो के आने से पहले बेटियों को जिंदा दफन कर दिया जाता था। उन्होंने बेटियों को जिन्दा दफन करने से बचाया। मोहम्मद सल्लल्लाहो ने दुनिया को बताया कि मां-बेटियां लड़की होती है और लड़कियां घर की जीनत हैं। मौलाना जनाब नूरी ने कहा कि इस्लाम धर्म दहशत फैलाने का हुकुम नहीं देता है। जो इस्लाम के नाम पर खून बहाता है वह ईमान वाला नहीं वह रसूल का दीवाना नहीं उन्होंने कहा इस्लाम धर्म सभी धर्मों के लोगों से मोहब्बत करने का हुक्म देता है। उन्होंने कहा ईद मिलादुन्नबी का दिन मोहब्बत बांटने का दिन है। भाईचारगी पेश करने का दिन है।मौलाना अजमेर निकाह इस्लाम अच्छे काम करने का हुक्म देता है। उन्होंने कहा इस्लाम धर्म में आतंकवादियों के लिए कोई जगह नहीं है, क्योंकि इस्लाम धर्म मोहब्बत और भाईचारे का पैगाम देता है। मौके पर कारी जसीमुद्दीन, नजीर शाह, जाहिद खान, शाहिद खान, इब्राहिम, वसीम खान, सैफ अहमद, हाजी तौफीक, हाजी खलील, इकराम, मुमताज खान, मोहर्रम इंतजामिया कमेटी के जनरल खलीफा मुस्तफा कमाल, अंसार कमेटी के अध्यक्ष अशफाक अहमद, हाजी सुलेमान, अफसर रब्बानी, बदरुद्दीन अंसारी, फ़हद फारुख, मोहम्मद आफताब आलम, मोहम्मद असगर हुसैन, मोनू, पिंटू, शाहरुख राइन, रोशन रिजवान, रौनक, मोहम्मद राजा, मखदूम रजा, रजीउल्लाह समेत काफी संख्या में जुलूस में लोग शामिल हुए।

जुलूस निकालते मुस्लिम समुदाय के लोग।

हरिहरगंज में भी निकला जुलूस-ए-मुहम्मदी

जुलूस में बड़ी संख्या में बच्चे भी थे शामिल।

हरिहरगंज| इस्लाम धर्म के संस्थापक पैगंबर हज़रत मुहम्मद साहब के जन्म दिवस पर रविवार को जुलूस-ए-मुहम्मदी निकाला गया। इसमें बाजा-गाजा तथा झंडा पताका के साथ सरकार की आमद मरहब्बा, नारे तदबीर आदि नारा लगाते हजारों मुस्लिम धर्मावलंबी शामिल हुए। वहीं कई झांकियां भी प्रदर्शित की गई। जुलूस में हुसैनाबाद विधानसभा क्षेत्र से आजसू प्रत्याशी सह स्थानीय विधायक कुशवाहा शिव पूजन मेहता, बसपा प्रत्याशी शेर अली, राकापा प्रत्याशी कमलेश कुमार सिंह सहित कई पार्टियों के नेता शामिल हुए। वक्ताओं ने कहा कि इस्लाम धर्म त्याग और प्रेम का संगम है। उन्होंने लोगों से पैगंबर साहब के बताए रास्ते पर चलने तथा आपसी भाईचारे को मजबूत बनाने का संदेश दिया। जुलूस हरिहरगंज के बंजारी मुहल्ला से प्रारम्भ हो कर मेन रोड, अररूआ, सतगांवा का भ्रमण करते हुए बंजारी स्थित मजार पर आई। जहां फातेहा ख्वानी के बाद जुलूस समाप्त हुआ । जुलूस के साथ चल रहे खान ए काबा तथा रौजा ए मुहम्मद का बनाया गया प्रतिरूप आकर्षण का केंद्र रहा। जुलूस में बसपा के इरफान शाहिद, मुखिया सरोज प्रसाद, अतहर हुसेन, मौलाना इफ्तिखार अहमद नूरी, पसस रोज मुहम्मद, प्रमोद कुमार रवि, टिंकू गुप्ता, माहताब शाहिल, रिजवान अंसारी, मुस्लिम अंसारी,शाबीर अंसारी, मुमताज अहमद, गोल्डेन अंसारी, गुलाम सरवर, रिजवान अंसारी, आलमगीर आलम टूडे, भीम कुमार, सहित मदरसा इस्लामिया, मदरसा सेराजुल उलूम, मदरसा रजाउल उलूम के छात्रों तथा हरिहरगंज, अररूआ खुर्द, बेलोदर, कटैया, कोशडिहरा, सियरभुका, सतगांवा, सीमावर्ती संडा, सोनारखाप, नवाबगंज आदि गांव के सैकड़ों मुस्लिम धर्मावलंबी शामिल थे।

चैनपुर में जश्ने ईद मिलादुन्नबी का निकाला गया जुलूस

चैनपुर| जश्ने ईद मिलादुन्नबी के अवसर पर रविवार को चैनपुर शाहपुर व अन्य क्षेत्रों में मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा गाजे-बाजे के साथ जुलूस निकाला गया। लोगों ने जुलूस निकालकर अपने अपने गांव में भ्रमण किया। इस अवसर पर सरकार की आमद मरहबा, दिलदार की आमद मरहबा के नारे लगा रहे थे। शाहपुर नगर निगम क्षेत्र से निकला जुलूस मुख्य सड़क भ्रमण करते हुए स्वामी विवेकानंद चौक के पास एक कार्यक्रम आयोजित किया। दूर दराज से आए मौलानाओं द्वारा तकरीर कराया गया। मौके पर कुरानखानी, मिलाद शरीफ व लंगर का इंतजाम करते हैं। वही नेउरा में भी जुलूस निकालकर मिलान मिलान करते हुए एक जलसा का आयोजन रजा-ए-मुस्तफा कमेटी द्वारा आयोजित किया गया। इस मौके पर बेंगलुरु से चलकर आए मौलाना नासिर रजा खान ने अपने तकरीर से लोगों को पैगंबर मोहम्मद सल्लल्लाहु ताला के बताए रास्ते पर चलकर सच्चाई व ईमानदारी से जीवन व्यतीत करने की बात कही। उन्होंने कहा कि प्यारे नबी हमेशा से गरीब असहाय और जरूरतमंदों की भलाई व मदद करने जोर दिया और लोगों को भी उनकी बताए मार्ग व उनके आदर्शों पर चलने की बात कही। इस जुलूस में नेउरा, सेमरा, कुदागा कला, कुदागा खुर्द, बन्दुआ व गरदा के लोग शामिल हुए। मौके मौलाना इम्तियाज साहब, मौलाना इकबाल साहब, मौलाना जैनुलआबेदीन, हाफिज व कारी नसीम अख्तर, हाफिज शमीम साहब, मौलाना मोहम्मद हुसैन सहित काफी संख्या में औलमा लोग उपस्थित थे।

हुसैनाबाद मदरसा में लगे अामद मरहबा के नारे

हुसैनाबाद| इलाके में ईद मिलादुन्नबी उल्लास के माहौल में मनाया गया। खैरुल इस्लाम मदरसा सहित प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न मदरसों से बच्चों ने अपने अपने मदरसे में कई कार्यक्रम का आयोजन कर पैगम्बर हजरत मोहम्मद जन्म दिन बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया। कार्यक्रम में हुजूर की आमद मरहबा, सरकार की आमद मरहबा आदि नारे लगाये गए। नारों से संपूर्ण मदरसा परिसर गुंजायमान हो गया। इस मौके पर कई मौलाना ने आखिरी नबी मोहम्मद स. को दुनिया के लिए रहमत बताया। उन्होंने कहा कि मोहम्मद साहब के मानने वाले लोग कभी किसी का बुरा नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि उन्होंने आपसी भाईचारा व अमन का पैगाम दिया है। मौके पर सूचना एवं जनसंपर्क विभाग रांची द्वारा जारी किए गए निर्देश का अनुपालन करते हुए हुसैनाबाद अनुमंडल पदाधिकारी कुंदन कुमार व अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी विजय कुमार ने जुलूस को शहर में भ्रमण नहीं करने का समुदाय के लोगों से आग्रह किया, जिसे समुदाय के लोगों ने मानते हुए कार्यक्रम का आयोजन मदरसा परिसर में कराकर शांति व सौहार्द के साथ संपन्न कराया।

जुलूस में शामिल मुस्लिम समुदाय के लोग।

जुलूस में झंडे भी लहराए गए।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना