जामताड़ा : महिला को बांझ कह प्रताड़ित कर आत्महत्या के लिए प्रेरित करने वाला जेठ गिरफ्तार

Palamu News - जामताड़ा|महिला को बांझ कहकर प्रताड़ित करने और आत्महत्या के लिए विवश करने के आरोपी शिक्षक (मृतका के भैसूर) को...

Feb 22, 2020, 08:05 AM IST

जामताड़ा|महिला को बांझ कहकर प्रताड़ित करने और आत्महत्या के लिए विवश करने के आरोपी शिक्षक (मृतका के भैसूर) को नारायणपुर पुलिस ने गुप्त सूचना पर गोड्‌डा थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्त विगत चार वर्षों से फरार चल रहा था। पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्त सुरेश दास को शुक्रवार को एसीजेएम जामताड़ा के कोर्ट में पेश किया। कोर्ट के निर्देश पर 14 दिनों की न्यायिक अभिरक्षा में अभियुक्त को जामताड़ा जेल भेज दिया गया है। अभियुक्त के विरुद्ध नारायणपुर थाना में कांड संख्या 31/2016 दर्ज है। प्राथमिकी मृतका जितनी देवी उर्फ कजली देवी के पिता रावण मेहरा ने 1 मार्च 2016 को दर्ज करायी थी। दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है पति जगेश्वर दास एवं भैसूर सुरेश दास जितनी को बांझ कहकर प्रताड़ित करते थे। अाखिरकार जहर देकर उसकी हत्या कर दी थी। प्राथमिकी में मृतका के पिता रावण मेहरा ने कहा है कि उनकी बेटी जितनी की शादी 10 वर्ष पूर्व हिंदू रीति- रिवाज से नारायणपुर थाना क्षेत्र के पोस्ता गांव निवासी स्व रामपति दास के बेटे जगेश्वर दास के साथ हुई थी। शादी के 10 वर्षों के बाद भी दोनों के संतान नहीं हुए, जिस कारण पति व भैसूर बराबर जितनी उर्फ कजली को बांझ कह कर प्रताड़ित करते थे। जितनी के पिता का अाराेप है कि अभियुक्तों ने जहर देकर उनकी बेटी काे मार डाला है। प्राथमिकी में कहा गया है कि 29 फरवरी 2016 को रात करीब 10 बजे उनके दामाद जगेश्वर दास ने फोन कर बताया कि जितनी उर्फ कजली की तबीयत खराब है। 1 मार्च की सुबह 5 बजे दामाद ने सूचना दी कि उनकी बेटी की मौत हो गई है। सूचना पाकर वे सदर अस्पताल जामताड़ा पहुंचे, तो पुत्री का शव देखा। वहां उपस्थित लोगों ने उन्हें बताया कि बच्चा नहीं होने के कारण उसके पति और पति के भाई ने मिलकर वादी को प्रताड़ित किया था, जिस कारण से जितनी उर्फ कजली ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना