जवानों की शहादत नहीं जाएगी बेकार : एसपी

Palamu News - देश की सुरक्षा में अपने प्राणों की आहूति देनेवाले शहीद जवान सोमवार को पुलिस संस्मरण दिवस पर याद किए गए। शहर के...

Oct 22, 2019, 07:26 AM IST
देश की सुरक्षा में अपने प्राणों की आहूति देनेवाले शहीद जवान सोमवार को पुलिस संस्मरण दिवस पर याद किए गए। शहर के स्टेशन रोड स्थित न्यू पुलिस लाइन में जिलेभर के पुलिस पदाधिकारियों, जवानों व शहीद के परिजनों ने नम आंखों से उन्हें याद किया। यहां आयोजित समारोह में एसपी प्रशांत आनंद ने कहा कि अमन व शांति बनाए रखने के लिए कई पुलिसकर्मियों ने अपनी शहादत दी है। उनके बदौलत ही आज हम खुली हवा में आजादी की सांस ले रहे हैं। उनकी शहादत बेकार नहीं जाएगी।

उन्होंने शहीद के परिजनों से कहा कि आप अपने आपको बिल्कुल असहाय न समझें, हम आपके साथ हैं, सरकार आपके साथ है। इसके पूर्व एसपी समेत जिलेभर के पुलिस पदाधिकारियों, जवानों व शहीद के परिजनों ने शहीद स्मारक पर बारी-बारी से पुष्प चक्र व पुष्प अर्पित किए। दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। पुलिस बल के सशस्त्र जवानों ने अपने शस्त्र झुकाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

मौके पर अभियान एसपी विपुल पांडेय, डॉ. कैलाश करमाली, सार्जेंट मेजर सुशांत कुमार, सदर थाना प्रभारी नरेश कुमार, सदर महिला थाना प्रभारी दिवाकर दुबे, प्रअनि शुक्रा टोप्पो, हवलवार संतोष मांझी, जिला पुलिस प्रशिक्षक मुजफ्फर आलम, मनोहर राम, अमीन अंसारी समेत जिला पुलिस बल, झारखंड जगुआर व आईआरबी के कई पुलिस पदाधिकारी, जवान व शहीद के परिजन मौजूद थे।

शहीद की प|ी को सम्मानित करते एसपी प्रशांत आनंद।

शहीद के परिजनों की सुनी समस्याएं

एसपी प्रशांत ने कार्यक्रम के दौरान शहीद के परिजनों को उपहार देकर सम्मानित किया। उनकी परेशानियों को जानने का प्रयास किया। कई ने उन्हें अपनी समस्याएं बताई, जिसे उन्होंने दूर कर ज्यादा से ज्यादा मदद का भरोसा दिलाया। सभी से किसी प्रकार की समस्या होने पर सीधे मिलकर बताने की अपील की।

सीआरपीएफ जवानों ने रक्तदान कर शहीदों को दी श्रद्धांजलि

लातेहार| पुलिस स्मृति दिवस पर सीआरपीएफ के अधिकारियों व जवानों ने रक्तदान कर देश के शहीद वीर सपूतों को श्रद्धांजलि दी। शहर से सटे किनामाड़ स्थित 11वीं बटालियन कैंप में 35 जवानों ने रक्तदान किया। इसमें 11वीं बटालियन के 15 व 214वीं बटालियन के 20 जवान शामिल हैं। इससे पहले बटालियन कैंप पर में समारोह का आयोजन हुआ। इसमें देश के लिए अपने प्राणों की आहूति देनेवाले शहीद वीर जवान याद किए गए। सीआरपीएफ अधिकारियों व जवानों ने शहीद स्मारक पर बारी-बारी से पुष्प चक्र व पुष्प अर्पित किए। दो मिनट का मौन रखा। सशस्त्र जवानों ने अपने शस्त्र झुकाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। सीआरपीएफ अधिकारियों ने पुलिस स्मृति दिवस के उद्देश्य पर प्रकाश डाला। चालू वर्ष में देशभर में शहीद हुए 292 शहीद जवानों ने नाम पढ़े। 11वीं बटालियन कैंप परिसर में आयोजित समारोह में प्रभारी कमांडेंट पी खरमुजई, द्वितीय कमान अधिकारी अश्विनी परमार, डॉ. रुपेश कुमार, एसआई संदीप कुमार मिश्रा, जबकि 214वीं बटालियन कैंप में कमांडेंट ऋषिराज सहाय, द्वितीय कमान अधिकारी मनीष कुमार भारती, उप कमांडेंट बिजुराम बी समेत सीआरपीएफ के कई अधिकारी व जवान मौजूद थे।

लातेहार के शहीद बेटे को भी किया गया याद

पुलिस स्मृति दिवस पर शहर के डुरुआ गांव के शहीद सीआरपीएफ जवान वीरेंद्र शर्मा भी याद किए गए। सीआरपीएफ के अधिकारियों व जवानों ने शहर के स्टेशन डुरुआ मोड़ पर उनके प्रतिमा पर पुष्प माला व पुष्प चढ़ाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी अाैर उनकी वीरगाथा को याद किया। मौके पर प्रभारी कमांडेंट पी. खरमुजई, द्वितीय कमान अधिकारी अश्विनी परमार समेत सीआरपीएफ के कई अधिकारी व जवान मौजूद थे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना