चंदवा में सैयदना मदरसा से निकला जुलूस-ए-मोहम्मदी

Palamu News - रविवार को चंदवा प्रखंड में पूरे अकीदत व हर्षोल्लास के साथ जश्न-ए-ईद मिलादुन्नबी मनाया गया। इस अवसर पर अहले सुन्नत...

Nov 11, 2019, 06:25 AM IST
रविवार को चंदवा प्रखंड में पूरे अकीदत व हर्षोल्लास के साथ जश्न-ए-ईद मिलादुन्नबी मनाया गया। इस अवसर पर अहले सुन्नत गुलशने सैयदना मदरसा से मोहम्मदी जुलूस निकाला गया। इसमें शामिल लोग हुजूर की आमद मरहबा, सरकार की आमद मरहबा जैसे नारे लगा रहे थे। जुलूस का नेतृत्व हैदर अली, रसीद मियां, वासीद टेलर, कलीम टेलर संयुक्त रूप से कर रहे थे। मुस्लिम समुदाय के लोग अपने हाथों में इस्लामी झंडा लहरा रहे थे। जुलूस शुक्र बाजार का भ्रमण कर वापस मदरसा पहुंचा। यहां ईद मिलादुन्नबी का आगाज कुरआन की तिलावत से की। अपने तकरीर में हाफिज अकील हुसैन ने बताया कि पैगंबर-ए-इस्लाम हजरत मोहम्मद साहब इस्लाम के आखिरी पैगंबर व शांति के दूत बनकर दुनिया में तशरीफ लाए। अंत में दुआ सलाम पढ़कर ईद मिलादुन्नबी का जुलूस संपन्न हो गया।

मौके पर असगर खान, अयूब खान, हाजी अब्बास अंसारी, बाबर खान, सदीक अंसारी, कयामुद्दीन मियां, अशरफ टेलर, कलीम टेलर, सलीम टेलर, कलीम टेलर, सदाम खान, गोलू खान अादि शामिल थे। इधर, हेरहंज प्रखंड में हजरत मोहम्मद पैगंबर साहब के जन्मदिन के अवसर पर प्रखंड क्षेत्र के नवादा, हुम्बू, चीरु, छोटा रोहण, बिजरा, केडू, लावागड़ा व हेरहंज के मुस्लिम धर्म के ग्रामीणों ने हुम्बू ईदगाह के मैदान में बैनर तले जुलूस निकाला। जुलूस का नेतृत्व लाडले हसन, मो. नूर व मो. जैनाब अंसारी ने किया। मौके पर मो. कलीम अंसारी, मो. शमशेर अंसारी, रजाक अंसारी, कयूम अंसारी, अब्दुल शकूर, मो. सलमान अंसारी, लतीफ अंसारी, प्यारुल अंसारी समेत काफी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग मौजूद थे। इस दौरान हेरहंज थाना पुलिस और सीआरपीएफ ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए थे।

हेरहंज में निकाला गया ईद मिलादुन्नबी का जुलूस।

शहर में जुलूस की अनुमति नहीं मिलने से नाराजगी

चंदवा|चंदवा
शहर में जुलूस निकालने की अनुमति नहीं मिलने पर निराश दिखी। मुस्लिम समुदाय सामाजिक कार्यकर्ता अयूब खान व असगर खान ने कहा कि त्योहार पर जुलूस निकालने पर प्रतिबंध ब्रिटिश शासन में भी नहीं था। शांतिप्रिय शहर चंदवा में जुलूस निकालने की अनुमति नहीं देना मुस्लिम समुदाय के साथ अन्याय है। चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था में भी जुलूस निकालने नहीं दिया गया, जिससे मुस्लिम समाज हैरान है। उनमें नाराजगी और मायूसी है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना