घायल को रास्ते में छोड़ भागा स्वास्थ्यकर्मी रिम्स ले जाने में युवक की मौत, भड़के लोग

Bhaskar News Network

Jun 15, 2019, 06:10 AM IST

Palamu News - बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के स्वास्थ्य कर्मी रघु गंझू की लापरवाही के कारण घायल युवक सुकर उरांव की मौत...

Balumath News - youth died in the accident leaving the injured to leave the injured rickshaw
बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के स्वास्थ्य कर्मी रघु गंझू की लापरवाही के कारण घायल युवक सुकर उरांव की मौत शुक्रवार को हो गई। घटना के संबंध में बताया जाता है कि थाना क्षेत्र के भगिया पंचायत के पंडरिया गांव के बनडेरा टोला निवासी सुकर उरांव (45) अपनी बाइक पर सवार होकर अपने रिश्तेदार की तीन बच्चियों दुर्गा कुमारी (12), रीता कुमारी (14) व पूनम कुमारी (15) को लेकर बालूमाथ के बनियो गांव जा रहा था।

इसी बीच रामघाट नदी के समीप बालूमाथ से मुरपा की ओर जा रहे एक अज्ञात एलपी ट्रक ने उन्हें धक्का मार दिया, जिससे सुकर उरांव समेत तीनों बच्चियां घायल हो गई। आसपास के ग्रामीणों के सहयोग से एंबुलेंस से सभी घायलों को बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. अशोक ओडिय़ा द्वारा प्राथमिक इलाज के बाद सुकर उरांव की स्थिति को गंभीर देखते हुए रिम्स रेफर कर दिया गया। घटना के समय सुकर उरांव का कोई भी परिजन नहीं होने के कारण व उसकी स्थिति को गंभीर देखते हुए प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. ओडिय़ा ने बालूमाथ स्वास्थ्य केंद्र के स्वास्थ्यकर्मी रघु गंझू से घायल सुकर उरांव को 108 एंबुलेंस में लेकर रिम्स रांची ले जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि सुकर उरांव की स्थिति गंभीर है।

इसका स्लाइन बंद नहीं होना चाहिए और आरएल समाप्त होते ही दूसरा आरएल बोतल लगा देना। उसके बाद 108 एंबुलेंस में बैठकर रघु गंझू रिम्स के लिए रवाना हो गया, लेकिन रघु बालूमाथ से पांच किलोमीटर आगे जाकर बसिया के समीप घायल सुकर राम को तड़पते हुए छोड़कर मानवता को शर्मसार करते हुए एंबुलेंस से उतरकर वापस बालूमाथ आ गया। इसी बीच रिम्स ले जाने के दौरान रास्ते में ही देखभाल नहीं होने के कारण घायल सुकर ने तड़प-तड़पकर दम तोड़ दिया। इस घटना के बाद स्वास्थ्य कर्मी के खिलाफ लोगों में आक्रोश भड़क गया। ग्रामीणों ने जिले के उपायुक्त से मांग करते हुए कहा है कि अगर स्वास्थ्य कर्मी एंबुलेंस के साथ जाता और उसकी देखभाल करता तो शायद सुकर की जान बचाई जा सकती थी। इस मामले में दोषी स्वास्थ्यकर्मी रघु गंझू पर कार्रवाई की जाए। इस संबंध में डॉ. अशोक ओडिय़ा ने कहा कि रघु ने आदेश का उल्लंघन किया है। उसे एंबुलेंस से वापस नहीं आना चाहिए था। घटना के समय रिम्स ले जाने के समय बालूमाथ प्रमुख संजीव कुमार भी मौजूद थे। उन्होंने स्वास्थ्य कर्मी रघु द्वारा की गई लापरवाही पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की है। इधर, सुकर उरांव की मौत के संबंध में पूछे गए सवाल में लातेहार सिविल सर्जन डॉक्टर एसपी शर्मा ने कहा कि इस घटना की मुझे जानकारी नहीं है। अगर स्वास्थ्य कर्मी की लापरवाही के कारण सुकर उरांव की मौत हुई है तो इसकी जांच कराई जाएगी और स्वास्थ्यकर्मी के ऊपर कार्रवाई की जाएगी।

X
Balumath News - youth died in the accident leaving the injured to leave the injured rickshaw
COMMENT