पंडू

--Advertisement--

बाबा चौहरमल कल्याण समिति गठन का निर्णय

प्रखंड के ग्राम कुटमूं के खेल के मैदान में रविवार को दुसाध सम्मेलन का आयोजन किया गया। पांडू और ऊंटारी-रोड प्रखण्ड...

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2018, 03:15 AM IST
प्रखंड के ग्राम कुटमूं के खेल के मैदान में रविवार को दुसाध सम्मेलन का आयोजन किया गया। पांडू और ऊंटारी-रोड प्रखण्ड के दर्जनों गांवों से भारी संख्या में पासवान समाज के लोग इस बैठक में पहुंचे। जिसकी अध्यक्षता पांडू प्रखंड के वीर बाबा चौहरमल कल्याण समिति के अध्यक्ष रामलखन राम ने की। संचालन अशोक पासवान ने किया। सम्मेलन में उपस्थित मुख्य व विशिष्ट अतिथियों ने बाबा चौहरमल की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। समिति के जिलाध्यक्ष नंद कुमार पासवान व विशिष्ट अतिथि अम्बेडकर चेतना परिषद के सदस्य उदय पासवान, डॉक्टर विजय कुमार त्रिसरा, सुनील पासवान सहित उपस्थित गणमान्य लोगों ने सम्मेलन को सं‍बोधित किया।

दुसाध सम्मेलन को संबोधित करते हुये मुख्य अतिथि ने कहा कि वीर बाबा चौहरमल, बाबा गोरैया एवं राहु महाराज हमारे समाज के धरोहर थे। उनकी करनी को अपने जीवन में उतरने की जरूरत है। आज हमारे समाज में शिक्षा का अभाव हैं। जबतक इसे दूर नहीं करेंगे तब तक समस्या से निजात नहीं मिलेगी। शिक्षा के अभाव के कारण समाज में दहेज प्रथा, नशाखोरी ईर्ष्या-द्वेष आदि कैंसर के तरह बढ़ रहे हैं। इसे हम सबों को मिलकर समाप्त करना होगा।

विशिष्ट अतिथि सहित कई गणमान्य लोगों ने वीर बाबा चौहरमल की वीरता एवं पुरुषार्थ पर प्रकाश डालते हुये कहा कि दुसाध क्षत्रीय कुल के ही वंशज हैं। इस तरह के सम्मेलन से चिंतन और चेतन मिलती है। वक्ताओं ने कहा की वीर बाबा चौहरमल समिति का सभी प्रखंडों में गठन होना चाहिए। मौके पर नवाडीह प्रखंड अध्यक्ष उदय कुमार पासवान, रणधीर कुमार, अशोक पासवान, विजय पासवान, जवाहर पासवान, दुर्गा पासवान, रामसेवक, रमेश, अनीता देवी, विमला देवी, संजय पासवान, भरदुल पासवान उपस्थित थे। इस सम्मेलन को आयोजित करने में सेवानिवृत्त शिक्षक चंद्रदेव मांझी, पंकज पासवान, विजय पासवान आदि का सराहनीय योगदान रहा। चंद्रदेव मांझी ने कहा कि हमें हर निर्णय देशहित और समाजहित में लेना चाहिए। शिक्षा विकास की कुंजी है। हमें शिक्षित और संस्कारवान होना चाहिए।

X
Click to listen..