• Home
  • Jharkhand News
  • Patan
  • कुछ लोग शराब के धंधे में लगे हैं, पर हम किसी को नहीं छोड़ने वाले : सीएम
--Advertisement--

कुछ लोग शराब के धंधे में लगे हैं, पर हम किसी को नहीं छोड़ने वाले : सीएम

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी साहसिक कदम है। कई राज्यों में इस पर विचार हुआ, लेकिन राजस्व में होने...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:45 AM IST
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी साहसिक कदम है। कई राज्यों में इस पर विचार हुआ, लेकिन राजस्व में होने वाली कमी को देखते हुए सरकारें शराबबंदी के फैसले से पीछे हट गईं। लेकिन मैंने इसे लागू किया। राज्य में शराबबंदी लागू होने के बाद अपराध और घरेलू हिंसा में कमी आई है। समाज में शांति का माहौल है। वह विधान परिषद में बुधवार को राज्यपाल के अभिभाषण पर सरकार का पक्ष रख रहे थे।

उन्होंने कहा कि सरकारी तंत्र में भी कुछ लोग शराब के धंधे में लगे हुए हैं, लेकिन हमलोग किसी को छोड़ने वाले नहीं है। हमारा पूरा सिस्टम इसके लिए लगा हुआ है। तंत्र को और दुरुस्त करने के लिए पुलिस महानिरीक्षक (आईजी), मद्य निषेध का नया पद सृजित किया गया है, जो सीआईडी के अधीन होगा। आईजी, मद्य निषेध को यह अधिकार होगा कि पूरे राज्य में मद्य निषेध से संबंधित कोई केस अपने अधीन ले सकता है और केस की प्रगति की समीक्षा भी कर सकता है। उन्होंने कहा कि आईजी मद्य निषेध को डीजीपी और गृह सचिव से किसी भी मामले में इजाजत लेने की जरूरत नहीं होगी।

राबड़ी देवी बोलीं- 6 माह में 36 घोटाले हो चुके हैं

पटना|विधान
परिषद में राजद की नेता व पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने नीतीश सरकार पर जमकर हमला बोला। कहा- नीतीश कुमार की नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के 6 महीने में 36 घोटाले हुए हैं। इसमें संलिप्त लोगों पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। कार्रवाई होगी भी कैसे, केंद्र और राज्य में एक ही गठबंधन की सरकार है। ईडी केंद्र के दबाव में केवल मेरे परिवार पर कार्रवाई कर रहा है।