Hindi News »Jharkhand »Patratu» डीसी मैम, कब बनेगी हमारे गांव की टूटी-फूटी सड़क

डीसी मैम, कब बनेगी हमारे गांव की टूटी-फूटी सड़क

सुदी से मतकमा चौक तक जर्जर सड़क से आना-जाना करते स्कूली बच्चे। आते-जाते गिरकर घायल हो रहे हैं स्कूली बच्चे अवध...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 14, 2018, 03:05 AM IST

सुदी से मतकमा चौक तक जर्जर सड़क से आना-जाना करते स्कूली बच्चे।

आते-जाते गिरकर घायल हो रहे हैं स्कूली बच्चे

अवध किशोर शर्मा | भुरकुंडा

भदानीनगर क्षेत्र के मतकमा चौक से सुदी और सांकी गांव तक जाने वाली सड़क काफी जर्जर हो चुकी है। सड़क पूरी तरह गड्ढ़ों में तब्दील हो चुकी है जिसमें बड़े-बड़े बोल्डर निकल आए हैं। इस कारण स्कूली बच्चों और ग्रामीणों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

इस सड़क से प्रतिदिन दूर-दराज के सैकड़ों स्कूली बच्चे लपंगा उत्क्रमित उच्च विद्यालय में पढ़ने जाते हैं। स्कूली बच्चों ने डीसी मैडम से गांव की सड़क बनवाने की गुहार लगायी है। वहीं इस सड़क से प्रतिदिन सैकड़ों लोगों का भी आना-जाना होता है। जर्जर स्थिति के कारण यहां कई दुर्घटनाएं घट चुकी हैं। इसके बावजूद स्थानीय जनप्रतिनिधि इस सड़क की सुध नहीं ले रहे हैं। जिस वजह से आसपास के ग्रामीणों में सरकार और जनप्रतिनिधियों के प्रति आक्रोश व्याप्त है।

सड़क की धूल से एक दिन में खराब हो जाती है ड्रेस

सुदी गांव से पांच किलोमीटर की दूरी तय कर लपंगा स्कूल पढ़ने आने वाली दूसरी कक्षा की छात्रा लक्ष्मी कुमारी का कहना है कि अक्सर स्कूल आने-जाने के क्रम में सड़क पर बने गड्ढे और बोल्डर के कारण ठोकर लग जाती है जिससे वो गिर जाती है। गिरने से पैर-हाथ मेें चोटें आती हैं। छात्रा कंचन कुमारी का कहना है कि स्कूल से गांव तक की सड़क काफी खराब है। इसके कारण गाड़ियों के आने-जाने से उड़नी वाली धूल से उनका चेहरा और ड्रेस एक दिन में ही गंदा हो जाता है। तीसरी क्लास मे पढ़ने वाली बबीता का कहना है कि सड़क काफी खराब है जिसके कारण गाड़ियों के आवागमन से हमेशा दुर्घटना होने का डर लगा रहता है। स्कूल आने-जाने मे काफी परेशानी होती है। सड़क काफी दिनों से खराब है लेकिन कोई इसे बनाता नहीं है।

समस्या से प्रशासन को अवगत करा चुके : पार्षद

ग्रामीण क्षेत्रों की जर्जर सड़क को लेकर जनप्रतिनिधि पार्षद अन्नु देवी का कहना है कि इसकी जानकारी जिला प्रशासन और संबंधित विभाग को कई बार दी जा चुकी है लेकिन अभी तक कोई सकारात्मक पहल नहीं की गयी है। पतरातू प्रखंड की प्रमुख रीता देवी का कहना है कि इस समस्या से प्रखंड प्रशासन को अवगत कराया जा चुका है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patratu

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×