• Home
  • Jharkhand News
  • Patratu
  • लोगों को बांस से वस्तुएं बनाने की मिलेगी ट्रेनिंग
--Advertisement--

लोगों को बांस से वस्तुएं बनाने की मिलेगी ट्रेनिंग

सरकार की वन, पर्यावरण व जलवायु परिवर्तन विभाग की ओर से बांस हस्त शिल्प कौशल प्रवर्धन प्रशिक्षण व टूल्स किट्स वितरण...

Danik Bhaskar | Feb 21, 2018, 03:15 AM IST
सरकार की वन, पर्यावरण व जलवायु परिवर्तन विभाग की ओर से बांस हस्त शिल्प कौशल प्रवर्धन प्रशिक्षण व टूल्स किट्स वितरण कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इसके तहत वन प्रमंडल कार्यालय परिसर में 15 दिनों का प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया है। मंगलवार को डीएफओ विजय शंकर दूबे ने कार्यक्रम का शुभारंभ कर कहा कि बांस से वस्तुएं बनाने वालों के लिए सरकार ने व्यापार का नया अवसर प्रदान कर रही है। अब, लोग प्रशिक्षित होकर बांस हस्त शिल्प से आत्मनिर्भर होकर रोजगार सृजन कर सकते है। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षित लोगों के तैयार बांस हस्त शिल्प वस्तुओं को बेचने के लिए प्रदर्शनी, मेला जैसे बाजार मिलेगा। प्रशिक्षक मास्टर ट्रेनर सोहन टुडू ने बांस हस्त शिल्प की वस्तुओं को बनाने के तरीकों को बताया। वहीं, एनजीओ इंसाफ के जयवंत होरो ने बांस वस्तुओं के उत्पादक व डिजाइन की जानकारी दी। यह शिविर 20 से 29 फरवरी और 03 से 08 मार्च तक चलेगा। इसमें, जिले के वन प्रक्षेत्र के गांवों के लोग शामिल हो रहे है। कार्यक्रम में रामगढ़ रेंजर एके सिंह, पतरातू रेंजर राजेश कुमार के अलावा सोहराय महली, कुदनी देवी, फागू महली, जगू महली, रोशन लाल महली, रमेश तुरी, झगरु तुरी, कविता देवी, साबी देवी सहित वन रक्षी भी मौजूद थे।