Hindi News »Jharkhand »Patratu» पीवीयूएनएल प्रबंधन ने विस्थापितों को रोजगार का दिया आश्वासन

पीवीयूएनएल प्रबंधन ने विस्थापितों को रोजगार का दिया आश्वासन

पीवीयूएनएल के रशियन हॉस्टल गेस्ट हाउस में सोमवार को पीवीयूएनएल प्रबंधन और विस्थापित प्रभावित संघर्ष मोर्चा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 27, 2018, 03:20 AM IST

पीवीयूएनएल के रशियन हॉस्टल गेस्ट हाउस में सोमवार को पीवीयूएनएल प्रबंधन और विस्थापित प्रभावित संघर्ष मोर्चा प्रतिनिधियों की वार्ता हुई। मोर्चा की ओर से 18 जनवरी को 14 सूत्री मांग पत्र सौंपा गया था। इसे लेकर प्रबंधन ने विस्थापितों की मांगांे पर विचार करते हुए कई आश्वासन दिए हैं। सोमवार को हुई वार्ता के दौरान विस्थापित प्रतिनिधियों की ओर से 25 गांव की प्रभावित 868 जमाबंदी रैयतों को नौकरी, पुनर्वास और मुआवजा समेत कई मांगें रखी गई।

काफी तर्क के बाद प्रबंधन के पदाधिकारियों द्वारा विस्थापित प्रभावित परिवार के सदस्यों, उत्तराधिकारियों व आश्रितों समेत तकनीकी शिक्षा प्राप्त नौजवानों को रोजगार के मामले में प्राथमिकता देने के साथ साथ तकनीकी व्यवसायिक प्रशिक्षण प्रदान करने का आश्वासन दिया गया। इसके अलावे पीवीयूएनएल में होने वाले ठेका कार्यों के आवंटन में प्राथमिकता देने, इस कार्य में सिक्यूरिटी मनी के नियमों को विस्थापितों के लिए शिथिल करने की बात विस्थापितों द्वारा रखी गई। जिसपर विचार करने का आश्वासन दिया गया। विस्थापितों ने यह भी मांग रखी कि अधिग्रहित भूमि पर मौजूद सरना समेत अन्य धार्मिक स्थलों की घेराबंदी, विस्थापित गांव में दस किमी. के दायरे पर गांव का समुचित विकास किया जाए। इस दौरान पुनर्वास और मुआवजा समेत खेती के लिए बची जमीन वापस करने पर किसी प्रकार की सहमति नही बनी। जिसपर विस्थापितों ने कहा कि इन मांगों को लेकर मोर्चा की आेर से आंदोलन जारी रखा जाएगा। प्रबंधन ने विस्थापित प्रतिनिधियों को आश्वस्त किया कि जिन मांगों पर सहमति बनी है उसका लिखित समझौता पत्र दिया जाएगा। जबतक पत्र नही सौंपा जाता है तब तक पीवीयूएनएल की ओर से स्वायल टेस्टिंग का कार्य और हाउसिंग कॉलोनी का निर्माण कार्य शुरू नही किया जाएगा।

वार्ता में ये लोग थे शामिल : वार्ता पीवीयूएनएल प्रबंधन की ओर से जीएम एचआर पीके विश्वास, जीएम प्रोजेक्ट गौतम देव, सीनियर मैनेजर अंसुल कुजूर, रितेश कुमार, सीनियर मैनेजर एचआर राजेश डुंगडुंग, प्रतिनिधियों में अध्यक्ष आदित्य नारायण प्रसाद, महासचिव भुवनेश्वर महतो, प्रवक्ता किशोर महतो, विजय साहू, कुमेल उरांव, कौलेश्वर महतो, लालू यादव, वीरमोहन मुंडा, विजय मुंडा, प्रदीप महतो, राजाराम प्रसाद, अलीम अंसारी, रंजीत बेसरा, मुमताज अंसारी, रामेश्वर गोप, एम रहमान, वीरेंद्र झा, नंदकिशोर महतो, मो. कलाम, गोविंद महतो, बालकिशुन महतो, नेपाल प्रजापति, शिवधन गंझू, कृष्णा मुंडा, ननकू मुंडा, कमालुद्दीन, हरि सिंह, कृष्णा प्रजापति, विश्वकर्मा प्रजापति, तिलक चंद साव, माधव महतो आदि कई प्रतिनिधि मौजूद थे।

रशियन हॉस्टल गेस्ट हाउस में वार्ता करते विस्थापित।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patratu

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×