Hindi News »Jharkhand »Patratu» आजसू समर्थित प्रत्याशियों के प्रचार की हुई समीक्षा

आजसू समर्थित प्रत्याशियों के प्रचार की हुई समीक्षा

पतरातू में छात्र संघ चुनाव के प्रत्याशियों ने जीत के लिए लगाई पूरी ताकत छात्रों को समर्थन के लिए समझाते...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 09, 2018, 03:25 AM IST

पतरातू में छात्र संघ चुनाव के प्रत्याशियों ने जीत के लिए लगाई पूरी ताकत

छात्रों को समर्थन के लिए समझाते प्रत्याशी।

भास्कर न्यूज| पतरातू

पीटीपीएसकॉलेज में छात्र संघ चुनाव को लेकर प्रत्याशियों ने पूरी ताकत लगा दी है। प्रत्याशी छात्रों को अपने अपने पक्ष में वोट देने के लिए लगातार जनसंपर्क अभियान चला रहे हैं। सोमवार को कॉलेज खुलते ही प्रत्याशियों ने छात्रों से संपर्क साधना शुरू कर दिया। साथ ही उन्हे पर्चे दिखाकर क्रम संख्या के अनुसार वोट देने की अपील की। इस दौरान एबीवीपी समर्थित प्रत्याशी, आजसू समर्थित प्रत्याशी, एआईएसएफ समर्थित प्रत्याशी, एनएसयूआई और जेएसएफ समर्थित प्रत्याशी इस अभियान में शामिल दिखे। अभियान में दीक्षा चौहान, अंजली कुमारी, रोशन कुमार साह, विशाल कुमार रजक, आजसू समर्थित संतोष कुमार, संटू कुमार, रिंकी कुमारी के अलावे मंजूसा, निभा, राहुल, विनोद, भरत, विशाल, नितिश, रोहित, आशुतोष, विश्वजीत, कमल, सुमित आदि कई छात्र-छात्राएं शामिल थे।

पतरातू | पीटीपीएसस्थित आजसू पार्टी कार्यालय में सोमवार को आजसू और पीटीपीएस कॉलेज के छात्रों की बैठक हुई। इस दौरान पीटीपीएस कॉलेज में आजसू समर्थित उम्मीदवारों द्वारा किए गए चुनाव प्रचार और छात्रों के रूझान को लेकर समीक्षा की गई। समीक्षा के बाद आजसू पार्टी के प्रखंड कार्यकारी अध्यक्ष ब्रजेश सिंह ने कहा कि इस बार आजसू समर्थित प्रत्याशियों ने छात्र हित का मुद्दा उठाया है। जिस पर छात्रों का भारी समर्थन मिल रहा है। अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष सुलेंद्र मुंडा ने की। मौके पर अशोक पाठक, राहुल रंजन, पप्पू चौधरी, मनोज राम, रवि, जानकी मुंडा, दिलशाद रजा, मोंटी यादव, उज्जवल कुमार, अविनाष कमार, सोनी, पूनम, सपना, परवेज, बबली, अफरोज, अंजार, पंकज, प्रेम, अजय, विकास, दीपक मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patratu

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×