• Home
  • Jharkhand News
  • Patratu
  • सिमरन हत्याकांड का खुलासा करने और किरण के हत्यारों को सजा दिलाने के लिए भूख हड़ताल शुरू
--Advertisement--

सिमरन हत्याकांड का खुलासा करने और किरण के हत्यारों को सजा दिलाने के लिए भूख हड़ताल शुरू

भुरकुंडा की चर्चित किरण हत्याकांड के दोषियों को सजा देने और बरकाकाना के सिमरन हत्याकांड के आरोपियों को पकड़ने की...

Danik Bhaskar | Mar 09, 2018, 03:25 AM IST
भुरकुंडा की चर्चित किरण हत्याकांड के दोषियों को सजा देने और बरकाकाना के सिमरन हत्याकांड के आरोपियों को पकड़ने की मांग को लेकर गुरुवार को दोनों परिवार के सदस्य और हिंदू समाज पार्टी के जिलामंत्री संदीप साव सुभाष चौक के समीप अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ गए।

भूख हड़ताल पर बैठे मृतक छात्रा सिमरन के पिता रमेश गोप और किरण की माता जुगन देवी ने बताया कि पिछले वर्ष अक्टूबर में उनकी पुत्री की हत्या अपराधियों द्वारा कर दी गई थी। सिमरन के पिता ने कहा कि पुलिस ने पांच अपराधियों को मोबाइल ट्रेस के आधार पर पकड़ा भी। लेकिन पैरवी के कारण उन्हें छोड़ दिया। जबतक उन्हें न्याय नहीं मिल जाता वे भूख हड़ताल पर रहेंगे। वहीं किरण की माता ने बताया कि लव जिहाद में उनकी बेटी की हत्या कर दी गई थी। तीन आरोपी पकड़े गए हैं। उन्हें आजीवन कारावास या फांसी की सजा दी जाए। उन्होंने यह भी कहा कि किरण ही उनके घर की सहारा थी। उसके नर्स की नौकरी की कमाई से ही हमारा घर चलता था। अब हमारे समक्ष रोजी-रोटी की समस्या आन पड़ी है। सरकार हमें मुआवजा दे और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दे। हमारी मांगों को नहीं मानने पर हम आंदोलनरत रहेंगे।

बेटी को इंसाफ मिले, प्रशासन बताए कि हत्यारों को पकड़ने में कितना समय चाहिए : भूख हड़ताल के दौरान हिन्दू समाज पार्टी के प्रमुख कमलेश तिवारी और दीपक सिसोदिया ने सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि भाजपा सरकार की नजर में बेटियों की कोई कीमत नहीं है। अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर भुक्तभोगी परिवार के सदस्य भूख हड़ताल पर हैं। वहीं सरकार उदासीन रवैया अपना रही है। सरकार दोनों हत्याकांड की जांच सीबीआई से कराए। भूख हड़ताल पर बैठने की सूचना पर रामगढ़ सीओ अमृता कुमारी, पतरातू एसडीपीओ श्रीकांत एस खोटरे और थाना प्रभारी राजेश कुमार ने आंदोलनकारियों के पास पहुंचकर वार्ता भी की। लेकिन आंदोलनकारियों ने स्पष्ट कहा कि उनकी चार मांग पूरी होने के बाद ही वे आंदोलन समाप्त करेंगे।

भूख हड़ताल पर बैठे परिजनों को समझाती सीओ अमृता कुमारी।