• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Patratu
  • देर शाम तक वार्ता के लिए नहीं पहुंचे अधिकारी, भूख हड़ताल से बिगड़ी हालत
--Advertisement--

देर शाम तक वार्ता के लिए नहीं पहुंचे अधिकारी, भूख हड़ताल से बिगड़ी हालत

भूख हड़ताल पर दूसरे दिन बैठे लोग। भास्कर न्यूज |रामगढ़ भुरकुंडा की चर्चित किरण हत्याकांड के दोषियों को सजा देने...

Dainik Bhaskar

Mar 10, 2018, 03:25 AM IST
देर शाम तक वार्ता के लिए नहीं पहुंचे अधिकारी, भूख हड़ताल से बिगड़ी हालत
भूख हड़ताल पर दूसरे दिन बैठे लोग।

भास्कर न्यूज |रामगढ़

भुरकुंडा की चर्चित किरण हत्याकांड के दोषियों को सजा देने और बरकाकाना के सिमरन हत्याकांड के आरोपियों को पकड़ने की मांग को लेकर शुक्रवार को भी दोनों परिवार के सदस्य और हिन्दू समाज पार्टी के जिलामंत्री संदीप साव सुभाष चौक के समीप अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे रहे।

भूख हड़ताल पर बैठने की वजह से शुक्रवार की दोपहर किरण की माता जुगनी देवी की तबीयत बिगड़ गई। सूचना पर सदर अस्पताल के डॉक्टर के एन प्रसाद और मुख्तार आलम धरना स्थल पहुंचकर भूख हड़ताल पर बैठे लोगों के स्वास्थ्य की जांच की। डॉक्टरों ने जुगनी देवी को इलाज के लिए अस्पताल ले जाना चाहा लेकिन आंदोलनकारियों का समर्थन कर रहे लोगों ने उन्हें अस्पताल ले जाने से रोक दिया। डॉक्टरों ने इस बात की सूचना प्रशासनिक पदाधिकारियों को भी दी लेकिन देर शाम तक कोई भी पदाधिकारी भूख हड़ताल पर बैठे लोगों से वार्ता के लिए नहीं पहुंचा। इससे पूर्व गुरुवार को एसडीओ अनंत कुमार, पतरातू डीएसपी श्रीकांत एस खोटरे, सीओ अमृता कुमारी और रामगढ़ थाना प्रभारी भूख हड़ताल पर बैठे लोगों से वार्ता करने आए थे। लेकिन लोगों का कहना था कि पहले प्रशासन लिखित आश्वासन दे, फिर वे अनशन खत्म करेंगे।

जिप सदस्य ममता देवी परिजनों से मिलीं

भूख हड़ताल के दूसरे दिन आमरण स्थल पर जिप सदस्य ममता देवी पहुंची। उन्होंने भूख हड़ताल पर बैठे लोगों से मिलकर हाल-चाल जाना। इस दौरान उन्होंनें लोगों को संबाेधित करते हुए सरकार को जमकर कोसा।

किरण की मां की जांच करते डॉक्टर।

X
देर शाम तक वार्ता के लिए नहीं पहुंचे अधिकारी, भूख हड़ताल से बिगड़ी हालत
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..