• Hindi News
  • Jharkhand
  • Patratu
  • लोगों के दिलों को जोड़ता है टुसू मेला, संस्कृति को बचाए रखता है
--Advertisement--

लोगों के दिलों को जोड़ता है टुसू मेला, संस्कृति को बचाए रखता है

Dainik Bhaskar

Jan 16, 2018, 03:30 AM IST

Patratu News - चिकोर-पाली दोमुहान नदी तट पारगढ़ा में सोमवार को मकर संक्रांति के अवसर पर टुसू मेला का आयोजन किया गया। मेला का...

लोगों के दिलों को जोड़ता है टुसू मेला, संस्कृति को बचाए रखता है
चिकोर-पाली दोमुहान नदी तट पारगढ़ा में सोमवार को मकर संक्रांति के अवसर पर टुसू मेला का आयोजन किया गया। मेला का उद्घाटन मुख्य अतिथि आजसू के केंद्रीय महासचिव सह बड़कागांव विधान सभा प्रभारी रोशनलाल चौधरी, पतरातू प्रमुख रीता देवी, पार्षद अनु देवी, पूर्व जिला उपाध्यक्ष मनोज राम और रामफल बेदिया ने संयुक्त रूप फीता काटकर किया।

मेला को लेकर क्षेत्रिय नवयुवक समिति ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसमें पीएस म्युजिकल ग्रुप भुरकुंडा के कलाकारों ने प्रस्तुति दी। मेला को संबोधित करते हुए रोशन लाल चौधरी ने कहा कि मेला दिलों को जोड़ने का काम करती है। मेले से झारखंडी संस्कृति की पहचान होती है और लोग एक दूसरे से मिलते है। उन्होंने नदी तट पर मां छिन्नमस्तिके की प्रतिमा स्थापित कर मंदिर निर्माण करवाने की बात कही। प्रमुख रीता देवी और पार्षद अनु देवी ने कहा कि मेला से आपसी भाईचारगी और प्रेम बढ़ता है। मेले में नदी तट पर मां छिन्नमस्तिके की प्रतिमा स्थापित की गई थी। मेला में दूर-दराज के सैकड़ों ग्रामीणों पहुंचकर मेला और लजीज व्यंजनों का आनंद उठाया। मौके पर राजेश महतो, नईस आलम सहित विधि व्यवस्था को लेकर भदानीनगर ओपी के सअनि दिनेश कुमार सिंह, रोमन कुमार, सुभान अंसारी, यमुना प्रसाद भोल्टा, मनीष कुमार, अजीज कुमार सहित सैकंडों ग्रामीण महिला-पुरुष व बच्चे मौजूद थे। मेला को सफल बनाने में अध्यक्ष बिंदेश बेदिया, उपाध्यक्ष जितेंद्र प्रसाद कुशवाहा, कोषाध्यक्ष महेश बेदिया, प्रदीप बेदिया, झनकू बेदिया, रविंद्र बेदिया, बिकेष बेदिया, सुनिल ठाकुर, अवधेश महतो, बबन सिंह, महेंद्र नायक, बलदेव मुंडा शामिल थे

मकर संक्रांति पर टुसू मेला का उद्घाटन करते अतिथि।

सैलानियों के आकर्षण का केंद्र बनेगा धारा फॉल

मगनपुर | प्रखण्ड क्षेत्र के सुदूरवर्ती उपरखखरा गांव स्थित धारा फाॅल में सोमवार को वन पर्यावरण एवं धारा फाॅल विकास मेला समारोह का आयोजन किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि प्रखण्ड प्रमुख जलेश्वर महतो ने संबोधित करते हुए कहा कि धारा फाॅल एक प्राकृतिक मनोरम स्थल है।

यहां राम मंदिर का निर्माण लगभग पूरा हो चुका है। इसे पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करने को लेकर सरकार प्रय|शील हैं। जिसे लेकर वन विभाग के आला अधिकारियों ने धारा फाॅल का मुआयना भी किया है। यह फाॅल सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र बन सकता है। यह फाॅल दो जिलों को जोड़ने का कार्य करता है। फाॅल से गिरता पानी अत्यंत मनोरम लगता है। इस दौरान मेले को आकर्षक बनाने के लिए स्थानीय कलाकारों द्वारा पर्यावरण शुद्धि व वन सुरक्षा विषय पर नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत कर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। समारोह को विशिष्ट अतिथि डाॅ. हीरालाल साहा, पूर्वी क्षेत्र के जिप सदस्य कपिलदेव मुण्डा, आजसू जिला उपाध्यक्ष दिनेश कुमार महतो, केन्द्रिय सदस्य अशोक कुमार महतो, कालीचरण महतो, पंचायत की मुखिया रूपा देवी, उपमुखिया मनोरंजन महतो ने भी संबोधित किया। मौके पर आयोजन समिति के सचिव रामचन्द्र प्रसाद, कोषाध्यक्ष बालेश्वर महतो, जलेश्वर महतो, बैजनाथ महतो, कुलेश्वर महतो, सुरेश करमाली, प्रेम मांझी, रामकुमार मांझी मौजूद थे।

मेले में मंचासीन मुख्य अतिथि व अन्य।

नृत्य प्रस्तुत करती नृत्यांगना।

X
लोगों के दिलों को जोड़ता है टुसू मेला, संस्कृति को बचाए रखता है
Astrology

Recommended

Click to listen..