• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Patratu
  • अस्ताचलगामी भगवान सूर्य को व्रतियों ने दिया अर्घ्य
--Advertisement--

अस्ताचलगामी भगवान सूर्य को व्रतियों ने दिया अर्घ्य

कुजू में छठ महापर्व के दौरान सूर्य की उपासना करते व्रती। भास्कर न्यूज़| कुजू लोक आस्था का पर्व चैती छठ...

Dainik Bhaskar

Mar 24, 2018, 03:35 AM IST
अस्ताचलगामी भगवान सूर्य को व्रतियों ने दिया अर्घ्य
कुजू में छठ महापर्व के दौरान सूर्य की उपासना करते व्रती।

भास्कर न्यूज़| कुजू

लोक आस्था का पर्व चैती छठ शुक्रवार को अस्ताचलगामी भगवान सूर्य को अर्घ्य के साथ कुजू व आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में पूरे विधि विधान के साथ शुरू हुआ। सूर्य उपासना के इस महान पर्व को लेकर कुजू बड़ा तालाब, तोपा, आरा-सारूबेडा, करमा, सांडी स्थित तालाबों व जलाशयों में व्रतियों ने पूरी आस्था के साथ सूर्य देव की पूजा-अर्चना करते हुए संपूर्ण विश्व के कल्याण के लिए प्रार्थना की। इससे पहले छठ व्रती छठी मैया के गीत गाकर जलाशयों तक पहुंचे। उनके साथ श्रद्धालु भी शामिल थे। शनिवार के अहले सुबह उदयाचल सूर्य उपासना एवं अर्घ्य के साथ चैती छठ संपन्न हो जाएगा। इसके बाद व्रती निर्जला उपवास तोड़ेंगी।

पतरातू डैम घाट में स्थापित की गई है सूर्य देव की प्रतिमा

चितरपुर में छठ घाट जाते छठ व्रती।

कांच ही बांस के बहंगिया, बहंगी लचकत जाए

चितरपुर | चितरपुर सहित आसपास के क्षेत्रों में चैत्र नवरात्रा के पांचवे दिन सूर्य उपासना का महापर्व चैती छठ के मौके पर शुक्रवार को सूर्य देवता को विभिन्न घाटों पर अर्जी दी गई। इस मौके पर पूरा क्षेत्र दर्शन दिए जरूर ए दीनानाथ बहंगी लचकत जाए जो मेला बिहार जैसे छठ गीतों से गुंजायमान रहा यहां छठ पूजा के लिए विभिन्न घाटों में भक्तों की भारी भीड़ रही मौके पर विभिन्न छठ घाटों में सैकड़ों श्रद्धालु मौजूद थे।

नवरात्र के छठे दिन हुई मां की पूजा

चैत्र नवरात्र के छठे दिन शुक्रवार को चितरपुर सहित आसपास के क्षेत्रों में मां दुर्गे के छठे स्वरूप मां कात्यायनी की विशेष पूजा की गई। इस दौरान मंदिरों में भारी भीड़ देखी गई। लोगों ने मंदिरों में मां के छठे स्वरूप की पूजा की।

पतरातू | पतरातू डैम छठ घाट स्थल पर शुक्रवार को मानव सेवा संस्थान द्वारा छठ पूजा को लेकर छठ व्रतियों और श्रद्धालुओं के लिए सुविधाएं उपलब्ध करायी। शुक्रवार को व्रतियों ने अस्ताचलगामी भगवान सूर्य को अर्घ्य प्रदान किया। इस अवसर पर छठ घाट स्थल में भगवान सूर्य देव की घोड़ों पर सवार प्रतिमा भी स्थापित की गई है। जिनका भक्त दर्शन कर रहे हैं। आयोजन को सफल बनाने में राजीव रंजन, शंभूशरण सिंह, गणेश करमाली, बबलू चौबे, पवन रंजन, विनोद कुमार, शंकर महतो, चितरंजन सिंह, सत्यम पांडेय, अरविंद सिंह, रघु महतो, तिलक मुंडा, विशेश्वर मुंडा, मुनेश्वर मुंडा, राजकुमार, योगेंद्र महतो, रवि करमाली, शिवलाल महतो योगदान दे रहे हैं।

पतरातू डैम में बने छठ घाट पर बनी भगवान सूर्य की प्रतिमा।

भदानीनगर क्षेत्र के आईएजी डैम में अर्घ्य देते छठव्रती।

भुरकुंडा और बासल के घाटों में गीत गाते पहुंचे छठ व्रती

भुरकुंडा | कोयलांचल भुरकुंडा और बासल क्षेत्र में सूर्य आराधना के महापर्व चैती छठ के पावन अवसर पर शुक्रवार को छठव्रतियों ने अस्ताचलगामी भगवान भुवन भास्कर को अर्घ्य दिया। कोयलांचल भुरकुंडा के नलकारी नदी, रीवर साइड दामोदर नदी, लबगा स्थित नलकारी डैम सहित अन्य जलाशय मे छठव्रतियों ने पूरे विधि-विधान से पूजा-अर्चना कर भगवान सूर्य को अर्घ्य दिया। शाम को छठव्रती दउरा-सूप में पूजा सामग्री और फल-फूल सजाकर अपने घर से पारंपरिक छठ गीत गाते हुए छठ घाट पहुंचे। भुरकुंडा नलकारी नदी स्थित छठ मंदिर में छठ पर्व को लेकर चौबीस घंटे का अखंड कीर्तन शुरू किया गया। कीर्तन में हरे रामा हरे कृष्णा के गगनभेदी उद्घोष से पूरा क्षेत्र गुंजायमान रहा। शनिवार की सुबह उदीयमान भगवान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ छठ महापर्व संपन्न हो जाएगा।

आईएजी डैम में अस्ताचलगामी सूर्य को दिया गया अर्घ्य

भदानीनगर| चैती छठ पूजा को लेकर शुक्रवार को छठ व्रतियों ने अस्ताचलगामी भगवान सूर्य को पहला अर्घ्य दिया। इससे पूर्व छठव्रतियों ने निर्जला उपवास रखकर गुरुवार को खरना किया। छठव्रतियों ने आईएजी डेम पर पहला अर्घ्य दिया। अघ्र्य देने को लेकर डेम परिसर में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। आईएजी डेम में क्षेत्र के भदानीनगर, महुआ टोला, लपंगा बस्ती, कोल कंपनी, लादी सहित आसपास के लोगों ने अर्घ्य दिया। शनिवार की सुबह उदीयमान भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया जायेगा।

X
अस्ताचलगामी भगवान सूर्य को व्रतियों ने दिया अर्घ्य
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..