Hindi News »Jharkhand »Patratu» जेएसपीएल की धोखाधड़ी के खिलाफ रैयतों ने भरी हुंकार, सीएम तक मामले को ले जाने का ऐलान

जेएसपीएल की धोखाधड़ी के खिलाफ रैयतों ने भरी हुंकार, सीएम तक मामले को ले जाने का ऐलान

जेएसपीएल ने ग्रामीणों से वादा किया था कि जमीन के बदले जॉबकार्ड देने के साथ ही रैयत ग्रामीणों को स्थायी नौकरी के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 01, 2018, 03:35 AM IST

जेएसपीएल की धोखाधड़ी के खिलाफ रैयतों ने भरी हुंकार, सीएम तक मामले को ले जाने का ऐलान
जेएसपीएल ने ग्रामीणों से वादा किया था कि जमीन के बदले जॉबकार्ड देने के साथ ही रैयत ग्रामीणों को स्थायी नौकरी के साथ अन्य मूलभूत सुविधाएं प्रदान की जाएगी। लेकिन 300 से अधिक जॉब कार्डधारियों को न तो स्थायी नौकरी दी गई, न ही बेरोजगारी भत्ता दिया गया। ऐसे में इस धोखाधड़ी के खिलाफ इंतजार करते करते ग्रामीणों ने एक बार फिर जेएसपीएल प्रबंधन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

शनिवार को प्रभावित गांव जयनगर में ग्रामीण जुटे और प्रबंधन के लंबे समय से चल रहे इस रवैये के खिलाफ आक्रोश प्रकट करते हुए जोरदार नारेबाजी की गई। इस मौके पर सरस्वती देवी ने कहा कि रैयतों के संबंध में सभी मामले लिखित रूप से किए गए। कुरसे और देवरिया के कुछ ग्रामीणों को कंपनी ने स्थायीकरण किया। लेकिन बाद में उन्हें नौकरी से हटा दिया गया। 2012 तक ही जिनकी जमीन गई उन्हें नौकरी देने की बात थी। लेकिन अबतक ग्रामीण भटक रहे हैं। कुछ ग्रामीणों को तो न तो नौकरी दी गई और न ही जॉबकार्ड। सात गांव को जेएसपीएल कंपनी ने गोद लेकर वहां शिक्षा, पेयजल, चिकित्सा समेत अन्य मूलभूत सुविधाएं देने की बात कही थी। लेकिन स्थिति यथावत है। रैयतों के बच्चों से भी 75 प्रतिशत फीस की राशि वसूली जा रही है। 2013 के भूमि अधिग्रहण कानून के तहत बहुत सारे जमीनों पर जिंदल कंपनी में कुछ नहीं किया है। न ही नौकरी दी है। इसलिए रैयतों ने निर्णय लिया कि खाली जमीनों पर जोत आबाद करेंगे। इस मामले को जिले के पदाधिकारियों के अलावे सीएम तक लेकर जाएंगे। मौके पर सरस्वती देवी, लालू महतो, जीतेंद्र मुंडा, रवि कुमार साव, ब्रह्मदेव सिंह, गौतम कुमार, लालाे देवी, शम्मी अरमान, अरविंद मुंडा, प्रेम, दीपक, सुदर्शन प्रजापति, पंकज प्रजापति, प्रकाश कुमार, कार्तिक पाहन, धनेश्वर मुंडा, अनिल यादव, मंजू देवी, नसीम अंसारी, अलाउद्दीन अंसारी, खुर्शीद अंसारी, शांति देवी, अमर प्रजापति आदि कई लोग मौजूद थे।

जयनगर में अपनी मांगों पर नारेबाजी करते ग्रामीण।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patratu

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×