Hindi News »Jharkhand »Patratu» जन सुनवाई में तीन लोगों पर जुर्माना

जन सुनवाई में तीन लोगों पर जुर्माना

गोला में आयोजित जनसुनवाई में मौजूद प्रमुख व अन्य। भास्कर न्यूज| मगनपुर गोला प्रखंड के पंचायतों में मनरेगा...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 14, 2018, 03:40 AM IST

जन सुनवाई में तीन लोगों पर जुर्माना
गोला में आयोजित जनसुनवाई में मौजूद प्रमुख व अन्य।

भास्कर न्यूज| मगनपुर

गोला प्रखंड के पंचायतों में मनरेगा योजना का सामाजिक अंकेक्षण के बाद प्रखंड स्तरीय जन सुनवाई कार्यक्रम का आयोजन प्रखंड कार्यालय सभागार में शुक्रवार को किया गया। जन सुनवाई के दौरान कार्यों में त्रुटि पाये जाने पर मनरेगा जेई पर एक हजार व रोजगार सेवकों पर पांच-पांच सौ रूपए जुर्माना लगाया गया। अंकेक्षण टीम ने बताया कि पंचायत स्तरीय जन सुनवाई के बाद कई मामलों को प्रखंड स्तरीय जन सुनवाई के लिए चिन्हित किया गया था। इन मामलों पर नियुक्त ज्यूरी मेंबर ने अपना फैसला सुनाया।

जानकारी के अनुसार प्रखंड के चाड़ी, साड़म, कुम्हरदगा, चोकाद, कोरांबे, सरगडीह, नावाडीह, सुतरी, हेंसापोडा, बंदा बरलंगा, हुप्पू, बेटुलकला सहित अन्य पंचायतों में संचालित योजनाओं के प्रखंड स्तरीय सामाजिक अंकेक्षण में संबंधित कर्मियों पर कार्यों में सुधार लाने को कहा गया। मौके पर प्रखंड प्रमुख जलेश्वर महतो, उप प्रमुख प्रभाष प्रकाश सिंह, डीपीओ परवेज खान, सांसद प्रतिनिधि डोमन नायक, दिनेश कुमार महतो, सुचित्रा देवी, बैजनाथ महतो, आकाश सिंह, सुनील गोराई, सुशीलचंद्र दास, जगेश्वर राम, बीपीओ नीलेश कुमार, जेई समित कुमार, विकास कुमार, मुखिया मुनी किशोर महतो, ताज बीबी, किरण देवी, रुपा देवी आदि मौजूद थे।

पतरातू प्रखंड कार्यालय में जनसुनवाई में प्रखंड प्रमुख, पार्षद और अन्य।

जनसुनवाई में मजदूरी भुगतान पर सवाल

पतरातू | प्रखंड मुख्यालय के सभागार में शुक्रवार को मनरेगा अंतर्गत सामाजिक अंकेक्षण प्रक्रिया के तहत प्रखंड स्तरीय जनसुनवाई का आयोजन किया गया। वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए हुए इस जनसुनवाई में मनरेगा कार्यों के दौरान मजदूरी भुगतान का मुद्दा छाया रहा। इसे लेकर ग्रामीणों की ओर से कई सवाल खड़े किए गए। समय पर मजदूरी का भुगतान नहीं होना।

कार्य का आवंटन समय पर नहीं होना समेत कई मुद्दे उठे। इसके अलावा पतरातू प्रखंड अंतर्गत बारीडीह पंचायत के माेहन बेदिया, शांति देवी मनरेगा मजदूर ने अपनी ईमानदारी दिखलाते हुए मनरेगा व्यवस्था पर ही सवाल उठाए। इन लोगों ने कहा कि जब मनरेगा का कोई काम उन्होंने किया ही नहीं है तो मजदूरी भुगतान उनके बैंक खाते में क्यों चला गया। इस बात पर सभी हैरान रह गए। इसके अलावा मजदूरी के एवज में कम भुगतान का भी मामला उठा। साथ ही मनरेगा अंतर्गत योजना सत्यापन, काम के अनुसार मजदूरों का सत्यापन, अभिलेख और दस्तावेज सत्यापन से संबंधित जनसुनवाई की गई।

प्रखंड प्रमुख रीता देवी, पार्षद डॉली देवी ने जनसुनवाई के दौरान अभियंताओं, ग्राम रोजगार सेवकों, पंचायत सेवकों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। मौके पर जय प्रकाश सिंह, सोशल ऑडिट के बीआरपी अनंत कुमार सिन्हा, डीआरपी कुलदीप मिश्र, बीपीओ कामाख्या प्रसाद समेत पंचायतों के मुखिया और अन्य प्रतिनिधि मौजूद थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patratu

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×