• Home
  • Jharkhand News
  • Patratu
  • जिला और प्रखंड अध्यक्षों को मिली झारखंड बंद कराने की जिम्मेवारी, मशाल जुलूस कल
--Advertisement--

जिला और प्रखंड अध्यक्षों को मिली झारखंड बंद कराने की जिम्मेवारी, मशाल जुलूस कल

बंद से मुक्त रहेंगी सभी अावश्यक सेवाएं भास्कर न्यूज | रामगढ़ झारखंड सरकार की भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ...

Danik Bhaskar | Jul 03, 2018, 03:45 AM IST
बंद से मुक्त रहेंगी सभी अावश्यक सेवाएं

भास्कर न्यूज | रामगढ़

झारखंड सरकार की भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ विपक्षी दलों ने पांच जुलाई को 24 घंटे के राज्यव्यापी बंद का अाह्वान किया है। बंदी को ऐतिहासिक बनाने में विपक्षी दलों ने तैयारी कर ली है। इसके तहत सोमवार को होटल ट्रीट के सभागार में विपक्ष समन्वय समिति की बैठक हुई। इसमें, कांग्रेस, झामुमो, राजद, झाविमो, सीपीआई, सीपीएम, माले, मासस के नेताओं ने बंदी की सफलता व तैयारी पर अपने विचार रखे।

विपक्ष दलों के नेताओं ने एक स्वर में कहा कि भूमि अधिग्रहण बिल जनहित से जुड़ा मुद्दा है इसलिए, बंदी में जनता से सहयोग की अपील करते हैं। कहा कि झारखंड सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ और जनहित मुद्दों को लेकर सड़क से सदन तक लड़ाई लड़ी जा रही है। सभी दल एकजुटता के साथ बंदी को सफल बनाएंगे। मौके पर सीपी संतन, शांतनु मिश्रा, भुन्नू महतो, मो आलम, मंगल सिंह ओहदार, वसुध तिवारी, हीरालाल महतो, जीतू महतो, बीएन ओहदार, मो क्यामुद्दीन, लक्ष्मण बेदिया, वीगेंद्र ठाकुर, मो कासिम, दुर्गाचरण प्रसाद, नेमन यादव, सुधीर सिंह, राम विनय महतो, वीरेन सिंह, केशर इमाम, लिप्सी सिंह, मो शफीक, विजय यादव, महेश ठाकुर सहित अनेक नेता मौजूद थे।

3 और 4 जुलाई को बंद का वाहनों से होगा प्रचार

विपक्ष समन्वय समिति के झामुमो जिलाध्यक्ष बिनोद किस्कू, कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता राकेश किरण महतो, जिलाध्यक्ष मुन्ना पासवान, बलजीत सिंह बेदी, झाविमो जिलाध्यक्ष राजीव जायसवाल, राजद के अरुण कुमार राय, माले के देवकीनंदन बेदिया, सीपीआई के महेंद्र पाठक आदि नेताओं ने कहा कि बंद को सफल बनाने के लिए दलों के जिलाध्यक्षों, प्रखंड अध्यक्षों व जिले के प्रदेश पदाधिकारियों को कमान सौंपी गई है। पतरातू, गोला, मांडू, रामगढ़, चितरपुर में प्रखंड अध्यक्षों के नेतृत्व में बंदी की जाएगी। शहर में दलों के जिलाध्यक्ष अगुवाई करेंगे। विपक्ष दलों के झंडों व बैनरों के साथ सड़क पर कार्यकर्ता उतरेंगे। तीन व चार जुलाई को प्रचार वाहन के माध्यम से लोगों से बंदी में सहयोग की अपील की जाएगी। चार जुलाई की शाम छह बजे थाना चौक से लोहार टोला होते हुए सुभाष चौक तक मशाल जुलूस निकाली जाएगी।

परेशानी से बचने के लिए स्कूल बंद रखने की अपील

विपक्ष दलों के नेताओं ने कहा कि बंदी के दौरान आवश्यक सेवाएं मुक्त रखी गई है। इसमें, एंबुलेंस, दूध वाहन, अखबार वाहन, आर्मी वाहन, दवा दुकानें, अस्पताल, शादी वाहन शामिल है। जबकि, कॉलेज व स्कूल प्रबंधन से बंदी में बच्चों को परेशानी नहीं हो, इसके लिए कॉलेज व स्कूल बंद रखने की अपील की है।