पतरातू

  • Home
  • Jharkhand News
  • Patratu
  • पतरातू में नौकरी व मुआवजे के लिए विस्थापितों ने निकाला मशाल जुलूस
--Advertisement--

पतरातू में नौकरी व मुआवजे के लिए विस्थापितों ने निकाला मशाल जुलूस

पीटीपीएस के विस्थापितों ने अपनी मांगों को लेकर आंदोलन तेज कर दिया है। घोषित कार्यक्रम के अनुसार विस्थापित...

Danik Bhaskar

May 03, 2018, 03:50 AM IST
पीटीपीएस के विस्थापितों ने अपनी मांगों को लेकर आंदोलन तेज कर दिया है। घोषित कार्यक्रम के अनुसार विस्थापित प्रभावित संघर्ष मोर्चा के सैकड़ों सदस्यों ने एक मई के देर शाम पतरातू क्षेत्र में मशाल जुलूस निकाल कर अपनी ताकत का एहसास दिलाया। मोर्चा के लोग मांग कर रहे थे कि सरकार और पीवीयूएनएल प्रबंधन नौकरी, पुनर्वास और मुआवजा की लंबित मांगों को यथाशीघ्र पूरी करे। क्योंकि हर बार विस्थापितों को झूठे आश्वासनों के बल पर ठगा गया है। लेकिन इस बार विस्थापित लड़कर अपने हक और अधिकार लेंगे। मशाल जुलूस क्षेत्र के विभिन्न जगहों पर घूमा। पीटीपीएस कटिया चौक, न्यू मार्केट, बिरसा मार्केट, डाकघर चौक, शाह कॉलोनी, पीवीयूएनएल मुख्य द्वार आदि कई जगहों में घूमकर नारेबाजी की। इस मौके पर मोर्चा के अध्यक्ष आदित्य नारायण प्रसाद और मुख्य प्रवक्ता किशोर महतो ने बताया कि सरकार और प्रबंधन को हर हाल में विस्थापितों की मांगें माननी होगी। अन्यथा यह आंदोलन जारी रहेगा। मौके पर भुवनेश्वर महतो, कौलेश्वर महतो, राजाराम प्रसाद, दुर्गाचरण प्रसाद, नेपाल प्रजापति, प्रदीप गंझू, दीपक मुंडा, विजय मुंडा, वीर मोहन मुंडा, विनोद प्रजापति, अब्दुल क्यूम अंसारी, ननकू मुंडा, माधो प्रसाद, मंटू अग्रवाल, मो. सईद, विजय मुंडा, कृष्णा मुंडा शामिल थे।

पतरातू में निकली मशाल जुलूस में शामिल विस्थापित।

नौकरी-मुआवजे के लिए विस्थापितों ने राजभवन के सामने दिया धरना

पतरातू | विस्थापित प्रभावित संघर्ष मोर्चा ने बुधवार को राजभवन मार्च किया। राजभवन के सामने धरना कार्यक्रम में सैकड़ों विस्थापित शामिल हुए। इससे पूर्व पीटीपीएस के विस्थापितों ने पतरातू कटिया चौक में रैली निकाली। साथ ही मांगों के समर्थन में जमकर नारेबाजी की। इस अवसर पर मोर्चा के अध्यक्ष आदित्यनारायण प्रसाद ने बताया कि धरना के बाद मोर्चा की ओर से राज्यपाल को मांग पत्र सौंपा जाएगा। साथ ही विस्थापितों के साथ अबतक हुए अन्यायपूर्ण कार्रवाई से महामहिम को अवगत कराया जाएगा। मौके पर विजय साहू, किशोर महतो, कौलेश्वर महतो, भुवनेश्वर महतो, लालू यादव, दुर्गाचरण प्रसाद, कुमेल उरांव, प्रदीप महतो, क्यूम अंसारी, वीरेंद्र झा, विजय मुंडा, अलीम अंसारी, मुमताज अंसारी, कलाम अंसारी, नागेंद्र कुमार, राजाराम प्रसाद आदि सैकड़ों शामिल थे।

Click to listen..