• Home
  • Jharkhand News
  • Pirtand
  • अधूरी पड़ी 3 किमी सड़क बनाने में जुटे ग्रामीण
--Advertisement--

अधूरी पड़ी 3 किमी सड़क बनाने में जुटे ग्रामीण

पीरटांड़ में दो मुख्य पथ एक चिरकी, हरलाड़ीह पथ और दूसरा खुखरा, गणेशपुर रोड गांवों को जोड़ने वाला मुख्य पथ माना जाता...

Danik Bhaskar | Jun 10, 2018, 03:25 AM IST
पीरटांड़ में दो मुख्य पथ एक चिरकी, हरलाड़ीह पथ और दूसरा खुखरा, गणेशपुर रोड गांवों को जोड़ने वाला मुख्य पथ माना जाता है। दोनों ही पथ चारों ओर से पीरटांड़ को जोड़ती है। लेकिन सड़कों का निर्माण अधर में है। अब इस समस्या से निजात पाने के लिए ग्रामीण चंदा कर व श्रमदान कर सड़क को बनाने में जुट गए हैं। ग्रामीणों का मानना है कि अब हम सरकार की आस में नहीं रहने वाले हैं। इसके लिए वे एकजुट हो गए कि चंदा कर के साथ ही श्रम दान कर के खुखरा गणेशपुर पथ को बरसात के देखते हुए चलने लायक बनाया जा रहा है। खुखरा-गणेशपुर पथ की दूरी 12 किमी है। जिसमें मधुकट्टा से गणेशपुर तक 3 किमी का जंगल विभाग से एनओसी नहीं मिलने के कारण संवेदक ने निर्माण कार्य नहीं किया। अधूरे सड़क निर्माण से ग्रमीणों को बरसात में परेशानी का सामना करना पड़ता है। यह पथ धनबाद-पीरटांड़ को जोड़ने वाला पथ है। सड़क को चलने लायक बनाने के लिए टाइगर फोर्स के अध्यक्ष ओमप्रकाश महतो की अगुवाई में दर्जनों गांव के लोगों की उपस्थिति में गुरुवार को बैठक कर ग्रामीणों के सहयोग से चलने लायक बनाने पर सहमति हुई और हर संभव मदद की बात कही। इसके बाद शनिवार को सड़क निर्माण का कार्य प्रारंभ हुआ जिसमें 2 जेसीबी और 70 ट्रैक्टर लगा कर श्रमदान से सड़क को चलने लायक बनाया जा रहा है। खुखरा- गणेशपुर पथ की दूरी 12 किमी है जिसका निर्माण कार्य आरईओ द्वारा किया जा रहा था। करीब 9 किमी सड़क बनाई गई पर 3 किमी जंगल विभाग की जमीन द्वारा एनओसी नहीं मिलने के कारण करीब डेढ़ वर्ष से कार्य अधूरा पड़ा है। आवागमन में परेशानी और विभाग द्वारा निर्माण कार्य में रुचि नहीं लेने के कारण बदगांवा मुखिया व तुई मुखिया की अगुवाई में बदगांवाए तुईओ, मधुकट्टा, सिमरकोन्धी, कुण्डको, हरलाड़ीह, ख्वासटांड, मंडरो के लोगों ने सहयोग दिया।

सड़क बनाने के लिए जाते ग्रामीण।