• Home
  • Jharkhand News
  • Pirtand
  • उर्दू टंकक पद पर नियुक्त कर्मचारी जिला आपूर्ति शाखा में बने हैं सहायक
--Advertisement--

उर्दू टंकक पद पर नियुक्त कर्मचारी जिला आपूर्ति शाखा में बने हैं सहायक

गिरिडीह | जब पैरवी व पकड़ मजबूत हो तो कोई कुछ नहीं कर सकता है। इसे साबित कर दिखाया पीरटांड़ के उर्दू टंकक पर नियुक्त मो...

Danik Bhaskar | May 22, 2018, 03:45 AM IST
गिरिडीह | जब पैरवी व पकड़ मजबूत हो तो कोई कुछ नहीं कर सकता है। इसे साबित कर दिखाया पीरटांड़ के उर्दू टंकक पर नियुक्त मो प्रवेज आलम ने। उनकी नियुक्ति भले ही पीरटांड़ प्रखंड कार्यालय में उर्दू टंकक के पद पर हुई। लेकिन नियुक्ति होने के साथ ही उन्होंने अपनी मजबूत पकड़ व पैरवी के बदौलत जिला में बड़ी जगह बना ली। जहां वे उर्दू टंकक के तौर पर नहीं बल्कि जिला आपूर्ति शाखा में एक सहायक के तौर पर काम कर रहे हैं। जिले के लोगों को भी इनकी असलियत मालूम नहीं है और लोग बड़ा बाबू ही कहकर उन्हें बुलाते हैं। इस तरह गिरिडीह जिले में एक नहीं बल्कि और भी कई शख्स हैं। इसी बीच आरटीआई से मिली जानकारी के बाद एक मामले का खुलासा हुआ है। जिसमें गिरिडीह जिला आपूर्ति शाखा में कार्यरत मो प्रवेज आलम पिछले 12 सालों से सहायक के पद पर प्रतिनियुक्त हैं। जबकि असल में उनकी नियुक्ति उर्दू टंकक के तौर पर पीरटांड़ प्रखंड मंे हुई थी। साथ ही पीरटांड़ प्रखंड कार्यालय में उनका अब भी पदस्थापन है। वेतन का भुगतान भी वहीं से होता है। लेकिन 2006 से ही वे जिला में प्रतिनियुक्ति पर हैं। वर्तमान में वे जिला आपूर्ति शाखा में पदस्थापित हैं। जिसका खुलासा गिरिडीह मोहलीचुआं निवासी सुनील कुमार लहेरी ने आरटीआई के माध्यम से किया है। मोहलीचुआं निवासी सह डीलर सुनील कुमार लहेरी ने इस व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए मामले की जांच की मांग की है। हालांकि उसकी मांग पर उपायुक्त ने जांच शुरू कर दी है। कार्यपालक दंडाधिकारी महेन्द्र रविदास को इस पूरे मामले की जांच का निर्देश दिया गया है। लहेरी का आरोप है कि प्रशासन को झांसे मंे रखकर मो प्रवेज आलम 10 सालों तक अनुमंडल आपूर्ति कार्यालय में प्रतिनियुक्ति पर रहा और पिछले 2 सालों से जिला आपूर्ति शाखा में पदस्थापित है। उनकी नियुक्ति पीरटांड़ में उर्दू टंकक के पद पर, लेकिन वह विभाग की कई महत्वपूर्ण संचिका की डिलिंग कर रहे हैं। सहायक के तौर पर लोगो से डिलिंग की जा रही है। इतना ही नहीं सहायक के तौर पर उनके द्वारा डीलरों को धमकी भी दी जाती है।

टंकक के पद पर हैं नियुक्त : बीडीओ

मोहलीचुवां निवासी सुनिल लहेरी की मांगी गई सूचना पर पीरटांड़ बीडीओ ने पत्रांक 411 दिनांक 04.03.18 के तहत बताया है कि मो प्रवेज आलम वर्तमान में पीरटांड़ में उर्दू टंकक के रूप में पदस्थापित है। उर्दू टंकक की नियुक्ति पत्र में उर्दू संबंधी कार्य करने का आदेश दिया गया है। पीरटांड़ में नियुक्ति के बाद यहां उन्होंने कितने दिनों तक काम किया ये तो इसका लेखाजोखा तो यहां नहीं है। लेकिन अगस्त 2006 से वे प्रतिनियुक्ति पर जिला में हैं, यह स्पष्ट है। फिलहाल पीरटांड़ से ही उनका वेतन भुगतान हो रहा है।