• Home
  • Jharkhand News
  • Potka
  • ग्रामीणों ने सीखे महुआ के लडडू बनाने के तरीके
--Advertisement--

ग्रामीणों ने सीखे महुआ के लडडू बनाने के तरीके

जादूगोडा । पोटका प्रखंड के पर्यावरण चेतना केन्द्र में जड़ी-बूटी की पहचान व उपयोग विधि पर एक दिवसीय कार्यशाला का...

Danik Bhaskar | Mar 21, 2018, 03:50 AM IST
जादूगोडा । पोटका प्रखंड के पर्यावरण चेतना केन्द्र में जड़ी-बूटी की पहचान व उपयोग विधि पर एक दिवसीय कार्यशाला का मंगलवार को समापन हो गया। इधर इस कार्यशाला में महुआ की उपयोगिता कड़वी शराब की जगह महुआ के मीठे लड्डू तैयार करने समेत महुआ का गुलकुल्डी, महुआ का आचार बनाने की विधि सिखाई गई। इस दौरान आंवला का लड्डू, इमली का रसना, बेल का मुरब्बा, बेल का शर्बत बनाने की विधि भी लोगों ने सीखी। इस बाबत सामाजिक कार्यकर्ता सिद्वेश्वर सरदार ने कहा कि आने वाले दिनों में महुआ से ग्रामीण समृद्व होंगे। इसकी उपयोगिता बढी़ है व इसे खाद्य सामग्री में शामिल करने की जरूरत है। महुआ का प्रचार-प्रसार की जरूरत है। इसे उबाल कर व भुन कर भी खाया जा सकता है। इस कार्यशाला में विभिन्न प्रकार की जडी-बूटी मसलन जड़, घास पौधा, पेड़, घास-फूस को स्वास्थ्य के लिए गुणकारी बताया गया। वन खाद्य सामग्री की उपयोगिता व खाने के तरीके से भी लोग अवगत हुए। इस दौरान पोटका के दर्जनों से अधिक गांवों के ग्रामीणों ने इस कार्यशाला में हिस्सा लिया।