Hindi News »Jharkhand News »Rajdhanwar» मैग्जीन हाउस नहीं कर रहा था नियम का पालन, संचालक के नहीं पहुंचने पर सील

मैग्जीन हाउस नहीं कर रहा था नियम का पालन, संचालक के नहीं पहुंचने पर सील

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 03:20 AM IST

धनवार थाना क्षेत्र के बुधवार को अलगदेशी स्थित साईं बाबा मैग्जिन हाउस विस्फोट में मरने वालों की संख्या पांच हो गई...
धनवार थाना क्षेत्र के बुधवार को अलगदेशी स्थित साईं बाबा मैग्जिन हाउस विस्फोट में मरने वालों की संख्या पांच हो गई है। इसमें चार मृतकों की शिनाख्त हो चुकी है। जो कोडरमा जिले के रहने वाले थे। जबकि एक शव की पहचान नहीं हो पाई है और न ही उसके कोई परिजन ही शव लेने पहुंचे। शिनाख्त मृतकों में दो गाड़ी के चालक, एक किसी माइंस के कर्मी और दो मैग्जिन हाउस के गार्ड थे। लेकिन पुलिस चार शव की पुष्टि कर रही है। गुरुवार को क्षत-विक्षत शवों को पोस्टमार्टम के लिए गिरिडीह सदर अस्पताल भेज दिया गया है।

हालांकि बुधवार की देर रात जब आम लोगों की भीड़ वहां से हट गई तो पुलिस के सहयोग से कुछ शवों को उठाया गया। बाकी शव के टुकड़े गुरुवार की सुबह उठाकर बोरे में बंद किया गया। जिसमें कोडरमा जिला अंतर्गत बरसोतियाबार के विंध्याचल लाल कुमार, जलवाबाद के मो दानिश, कालीमंडा डोमचांच के पवन सिंह तथा भेलवाटांड़ डोमचांच के किशुन राणा शामिल हैं। विस्फोट में दो मालवाहक व एक बाइक के परखच्चे उड़ गए। मृतक मो दानिश वाहन का मालिक व विंध्याचल लाल कुमार चालक बताया जा रहा है। जबकि माइंस कर्मी बाइक से पहुंचा था। उसकी शिनाख्त फिलहाल नहीं हो पाई है। देर रात शवों की बरामदगी के बाद घटनास्थल की निगरानी के लिए दो चौकीदारों को नियुक्त किया गया था। इसके बाद गुरुवार दोपहर करीब 12 बजे रांची से पहुंची एक्सप्लोसिव जगुआर की 6 सदस्यीय टीम घटनास्थल पर पहुंची और जांच पड़ताल की। जिसमें कई गड़बडिय़ां मिली। लेकिन टीम ने विस्फोट के कारणों का खुलासा नहीं किया है। मैग्जिन हाउस के लिए निर्धारित सुरक्षा मानकों का पालन नहीं किया जा रहा था। जांच के दौरान मैग्जिन हाउस के संचालक मनोज मोदी को घटनास्थल पर पहुंचने को कहा गया, लेकिन वह नहीं पहुंचा। अंचलाधिकारी शशिकांत सिंकर ने टीम व पुलिस पदाधिकारियों की मौजूदगी में मैग्जिन हाउस को सील कर दिया गया। ग्रामीण व पदाधिकारियों का भी दृश्य देख दिल दहल उठा।

मरने वालों में चार कोडरमा जिले के, एक की नहीं हुई पहचान

क्षतिग्रस्त वाहन व जांच करती रांची से आई टीम के अधिकारी।

पहले भी यहां हो चुके हैं कई विस्फोट

धनवार प्रखंड में बारूद विस्फोट की यह कोई पहली घटना नहीं है। बीते दो वर्षों के अंतराल में प्रखंड के अलगदेशी तथा बैजूडीह में संचालित पत्थर माइंस में विस्फोट से कार्यालय एवं इसके इर्द गिर्द खड़ी दर्जनों वाहनों के परखच्चे उड़ने के साथ-साथ दो किलोमीटर दूर स्थित घरों में दरारें पड़ गई थी। उन विस्फोटों में कई लोगों की मौत भी हुई थी, जिसमें स्थानीय स्तर पर मामले को दबा दिया गया था। लेकिन इस बार शायद संचालक को मौका नहीं मिला, क्योंकि विस्फोट भयानक था, कि गिरिडीह से लेकर कोडरमा तक करीब 15 किलोमीटर का इलाका दहल उठा और एक साथ कई लोगों की मौत हो गई थी।

भास्कर न्यूज | राजधनवार

धनवार थाना क्षेत्र के बुधवार को अलगदेशी स्थित साईं बाबा मैग्जिन हाउस विस्फोट में मरने वालों की संख्या पांच हो गई है। इसमें चार मृतकों की शिनाख्त हो चुकी है। जो कोडरमा जिले के रहने वाले थे। जबकि एक शव की पहचान नहीं हो पाई है और न ही उसके कोई परिजन ही शव लेने पहुंचे। शिनाख्त मृतकों में दो गाड़ी के चालक, एक किसी माइंस के कर्मी और दो मैग्जिन हाउस के गार्ड थे। लेकिन पुलिस चार शव की पुष्टि कर रही है। गुरुवार को क्षत-विक्षत शवों को पोस्टमार्टम के लिए गिरिडीह सदर अस्पताल भेज दिया गया है।

हालांकि बुधवार की देर रात जब आम लोगों की भीड़ वहां से हट गई तो पुलिस के सहयोग से कुछ शवों को उठाया गया। बाकी शव के टुकड़े गुरुवार की सुबह उठाकर बोरे में बंद किया गया। जिसमें कोडरमा जिला अंतर्गत बरसोतियाबार के विंध्याचल लाल कुमार, जलवाबाद के मो दानिश, कालीमंडा डोमचांच के पवन सिंह तथा भेलवाटांड़ डोमचांच के किशुन राणा शामिल हैं। विस्फोट में दो मालवाहक व एक बाइक के परखच्चे उड़ गए। मृतक मो दानिश वाहन का मालिक व विंध्याचल लाल कुमार चालक बताया जा रहा है। जबकि माइंस कर्मी बाइक से पहुंचा था। उसकी शिनाख्त फिलहाल नहीं हो पाई है। देर रात शवों की बरामदगी के बाद घटनास्थल की निगरानी के लिए दो चौकीदारों को नियुक्त किया गया था। इसके बाद गुरुवार दोपहर करीब 12 बजे रांची से पहुंची एक्सप्लोसिव जगुआर की 6 सदस्यीय टीम घटनास्थल पर पहुंची और जांच पड़ताल की। जिसमें कई गड़बडिय़ां मिली। लेकिन टीम ने विस्फोट के कारणों का खुलासा नहीं किया है। मैग्जिन हाउस के लिए निर्धारित सुरक्षा मानकों का पालन नहीं किया जा रहा था। जांच के दौरान मैग्जिन हाउस के संचालक मनोज मोदी को घटनास्थल पर पहुंचने को कहा गया, लेकिन वह नहीं पहुंचा। अंचलाधिकारी शशिकांत सिंकर ने टीम व पुलिस पदाधिकारियों की मौजूदगी में मैग्जिन हाउस को सील कर दिया गया। ग्रामीण व पदाधिकारियों का भी दृश्य देख दिल दहल उठा।

लापरवाही के कारण घटी घटना : एसडीएम

खोरीमहुआ अनुमंडल पदाधिकारी रविशंकर विद्यार्थी ने बताया कि लापरवाही के कारण घटना घटी है। जिसमें पूर्ण रूप से संचालक दोषी है। फिलहाल मैग्जिन हाउस को सील किया गया है। एक्सप्लोसिव जगुआर टीम की रिपोर्ट के बाद संचालक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

प्रशासन भी बनी रही बेपरवाह : विधायक

स्थानीय माले विधायक राजकुमार यादव ने कहा कि ये बहुत ही दु:खद घटना है। मैग्जिन हाउस में सुरक्षा मानकों की जांच प्रशासन को रूटीन वर्क के अनुरूप करना चाहिए। लेकिन प्रशासन भी बेपरवाह बनी रही। जिसके कारण ये हादसा हुआ। कहा कि सुरक्षा के मानकों का कड़ाई से पालन होना चाहिए, ताकि भविष्य में इस तरह की घटना न हो। साथ ही पीड़ित परिवार को नौकरी व मुआवजा अविलंब दी जाए।

बड़े पैमाने पर रखे थे विस्फोटक पदार्थविस्फोट के 18 घंटे बाद गुरुवार को एक्सक्लूसिव सेफ्टी विभाग एवं झारखण्ड जगुआर रांची की 6 सदस्यीय टीम का बम निरोधक दस्ता करीब 1 बजे दिन घटनास्थल पर पहुंची। घटनास्थल पर साई मैग्जिन हाउस के बाहर जिस प्रकार चारों तरफ फैले डेटोनेटर के तार, जिलेटिन, वाहन व शव के टुकड़े दूर दूर तक फैला था। जांच में यह भी सामने आया कि बड़े पैमाने पर विस्फोटक होने के कारण इतना बड़ा हादसा हुआ। टीम के पदाधिकारी आतिश कुमार मोदी ने कहा कि अभी जांच चल रही है। शुक्रवार तक टीम पूरे मामले की जांच करेगी। प्राथमिक जांच के बाबत श्री मोदी ने कहा कि विस्फोटक के तमाम नार्म्स का फालो संचालक की ओर से नहीं किया जा रहा था। इसे पूरी तरह से खंगाला जा रहा है। इधर गिरिडीह डीएमओ विभूति कुमार ने बताया कि लंबे समय से यहां मैग्जिन हाउस का संचालन हो रहा है, और गिरिडीह जिले के तमाम माइंस संचालकों को यहीं विस्फोटक की आपूर्ति की जा रही थी। जांचोपरांत दोषियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी। बताया जा रहा है कि उक्त मैगजिन हाउस को 20 हजार पीस जिलेटिन रखने की क्षमता विभाग द्वारा प्राप्त है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Rajdhanwar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: मैग्जीन हाउस नहीं कर रहा था नियम का पालन, संचालक के नहीं पहुंचने पर सील
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Rajdhanwar

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×