बरलंगा प्रखंड बना नहीं, डीवीसी गोला में जाम की समस्या

Ramgarh News - रामगढ़ विधानसभा चुनाव की तिथि जैसे जैसे नजदीक आ रहीं है प्रत्याशी डोर टू डोर सघन जनसंपर्क अभियान चलाकर अपने पक्ष...

Dec 04, 2019, 08:55 AM IST
Gola News - baralanga block not formed problem of jam in dvc shell
रामगढ़ विधानसभा चुनाव की तिथि जैसे जैसे नजदीक आ रहीं है प्रत्याशी डोर टू डोर सघन जनसंपर्क अभियान चलाकर अपने पक्ष में वोट देने की अपील मतदाताओं से कर रहे है। अपने भाषण में प्रत्याशी एक दूसरे पर आरोप लगा रहे है लेकिन स्थानीय मुद्दों पर बात नहीं कर रहे है। इस विधानसभा चुनाव में स्थानीय मुद्दे बिल्कुल गायब हो गए हैं।

सबसे बड़ा मुद्दा बरलंगा को प्रखंड बनाने का : गोला प्रखंड का सबसे बड़ा मुद्दा बरलंगा को प्रखंड बनाने का है। जो वर्षों से चुनावी मुद्दा रहा है। इसके बाद भी यह प्रखंड नहीं बन पाया है। जबकि यहां पर थाना खोल दिया गया है। प्रखंड बनने से बरलंगा, ऊपरबरगा, सरगडीह और नावाडीह पंचायत के करीब पच्चीस हजार लोगों को इसका लाभ मिलेगा। इसे लेकर पंचायत के दिलीप कुमार गुप्ता, रवि रंजन कुमार, सचिदा प्रसाद गुप्ता, त्रिलोचन प्रजापति ने बताया कि प्रखंड बनने से यहां पर विकास की गति बढ़ेगी साथ ही बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध हो पाएगा।

डीवीसी गोला चौक में जाम की भी है समस्या : गोला डीवीसी चौक में दिन भर जाम की स्थिति रहती है। जिसके कारण राहगीरों ,किसानों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। गोला रोड रेलवे स्टेशन में एक्सप्रेस ट्रेन ठहराव की मांग दशकों पुरानी है। कई बार आंदोलन हुआ सांसद के लेकर विधायक तक बात पहुंची । इस पर पहल अभी तक नहीं हुआ है।

प्रदूषण से भी है लोग त्रस्त : गोला में प्रदूषण विकराल रूप धारण किये हुए है। यहां दिन में भी रात जैसा नजारा दिखाई पड़ता है। ब्रह्मपुत्रा मेटालिक,इनलैंड पावर प्लांट,रेलवे साइडिंग,एस प्लांट,कामेश्वरी प्लांट में जहरीला धुवां निकल रहा है। इसको रोकने वाला कोई नहीं है।

किसानों के फसल के उचित मूल्य नहीं मिलता : झारखंड का प्रसिद्ध डेली मार्केट में किसानों से व्यापारी औने पौने दामो में फसल लेते है। किसानों को बेचने में भी काफी परेशानी होती है। अगर एक फेडरेशन बना कर सब्जियों को बाहर के मंडियों में भेजा जाय तो काफी फायदा किसानों को होगा। लेकिन इस पर किसी का ध्यान नही है।

नाली की समस्या लोगों को कर रहा है परेशान : गोला प्रखंड के संग्रामपुर में दिन भर सड़क पर ही नाली का पानी बहता है। जिससे महामारी का खतरा है। इसके अलावे गोला शहर के बीचो बीच गोमती नदी में अधूरा छोड़ा गया पुल भी चुनावी मुद्दा बन चुका है। गोला प्रखंड मुख्यालय में आधार कार्ड बनाने में लोगों को पसीने छूट रहे है। ऑपरेटर द्वारा महीनों तक दौड़ाया जाता है।

क्या कहते है ग्रामीण : कुलदीप गुप्ता का कहना है कि बरलंगा को प्रखंड बनाया जाता है तो यहां की विकास में काफी गति आएगी। साथ ही बेरोजगारों को इसका सीधा लाभ मिलेगा।

X
Gola News - baralanga block not formed problem of jam in dvc shell
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना