मौजूदा परिवेश में ऊर्जा महत्वपूर्ण संसाधन बन चुका है : डॉ. रमेश

Ramgarh News - पीटीपीएस के ऑफिसर्स क्लब में शुक्रवार को आधुनिक तकनीक द्वारा नवीकरणीय उर्जा का संरक्षण विषय पर दो दिवसीय...

Feb 15, 2020, 07:46 AM IST
Patratu News - energy has become an important resource in the current environment dr ramesh

पीटीपीएस के ऑफिसर्स क्लब में शुक्रवार को आधुनिक तकनीक द्वारा नवीकरणीय उर्जा का संरक्षण विषय पर दो दिवसीय सेमिनार का शुभारंभ किया गया। जिसका उद्घाटन मुख्य अतिथि विनोबा भावे विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. रमेश शरण ने दीप प्रज्जवलित कर किया। पीटीपीएस के एनएसएस एक छात्रों ने इस अवसर पर राष्ट्रगान गाए। जिसके उपरांत उद्घाटन सत्र की शुरूआत हुई।

बतौर मुख्य अतिथि कुलपति डॉ. रमेश शरण ने इस अवसर पर कहा कि मौजूदा परिवेश में उर्जा जीवन का महत्वपूर्ण संसाधन बन चुका है। जिसकी आवश्यकता प्रत्येक सेक्टर में बढ़ती जा रही है। इसलिए थर्मल पावर के अलावे बिजली की जरूरतों पूरा करने के लिए सभी आयामों पर चिंतन करने और विकल्पों पर विचार किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सौर उर्जा इसका बड़ा विकल्प साबित हो रहा है। यह भी कहा कि सौर उर्जा का उपयोग तो कर रहें परंतु दूसरी ओर बैट्री का उपयोग और इसके कचड़े से पर्यावरण को भी नुकसान हो रहा है। भारत विश्व का ऐसा देश है और भौगोलिक परिस्थितियां ऐसी है कि 365 दिनो में 270 दिन यहां सौर उर्जा प्राप्त होता है।

इसे देखते हुए व्यापक योजना तैयार कर उर्जा के क्षेत्र में नई तकनीक विकसित की जा सकती है। बिजली बनाने में जहां एक ओर संसाधनों पर बड़ी रकम खर्च की जाती है। विस्थापन और पर्यावरण की समस्याएं उत्पन्न होती है। ऐसे में वैकल्पिक उर्जा काफी कारगर होगी। चूंकि भारत में सूर्य की उर्जा पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। इसलिए हमें बड़े भवन, कार्यालय, विश्वविद्यालय के निर्माण में वैकल्पिक तकनीकी का उपयोग करना चाहिए। जहां हम अधिक से अधिक सौर उर्जा का उपयोग भी कर सके।

सेमिनार के दौरान एनटीपीसी के अधिकारियों ने कहा कि हम उर्जा के क्षेत्र में विकास करने के लिए आगे बढ़ रहे हैं। हमारा प्रयास है कि पर्यावरण संरक्षण पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान देकर विकास को धरातल पर उतार सके। इस अवसर पर पीटीपीएस कॉलेज के छात्रों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया। सेमिनार के द्वितीय पाली तकनीकी सत्र में एनआईटी जमशेदपुर के प्रो. उदय कुमार और अन्य ने नवीकरणीय उर्जा पर तकनीकी पक्ष रखते हुए इसे जरूरी वैकल्पिक उर्जा स्रोत बतलाया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्राचार्य डॉ. नवीन प्रसाद और संचालन डॉ. कुमार मनोज ने की। मौके पर सेमिनार के कॉऑडिनेटर प्रो रमन चंद्र, प्राचार्य डॉ. नवीन प्रसाद, जुबिली कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आरके दास, जेएम कॉलेज के प्राचार्य डॉ. रामानुज सिंह, पूर्व प्राचार्य डॉ. एसके श्रीवास्तव, आईक्यूएसी कॉर्डिनेटर प्रो. जेएस ठाकुर, डॉ. भीएस झा, डॉ. नीलिमा श्रीवास्तव, एनटीपीसी से एचआर हेड पीके विश्वास, प्रोजेक्ट हेड गौतम देवी, एजीएम इलेक्टिकल तुषार कुमार आदि कई मौजूद थे।

पुस्तक का विमोचन करते अतिथि।

X
Patratu News - energy has become an important resource in the current environment dr ramesh

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना