• Home
  • Jharkhand News
  • Ramgarh
  • कुजू में 145 बंद समर्थकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
--Advertisement--

कुजू में 145 बंद समर्थकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

नया मोड़ फोरलेन में जाम करते बंद समर्थकों को समझाते रामगढ़ एसडीओ। भास्कर न्यूज| कुजू भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल...

Danik Bhaskar | Jul 06, 2018, 03:30 AM IST
नया मोड़ फोरलेन में जाम करते बंद समर्थकों को समझाते रामगढ़ एसडीओ।

भास्कर न्यूज| कुजू

भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल के विरोध में विपक्षी दलों द्वारा गुरुवार को बुलाए गए झारखंड बंद का कुजू कोयलांचल में मिला-जुला असर रहा। झामुमो के केंद्रीय सदस्य राजकुमार महतो व कांग्रेस के मांडू प्रखंड अध्यक्ष सुधीर कुमार सिंह के नेतृत्व में विपक्षी दल के कार्यकर्ता सड़क पर उतरे। कुजू क्षेत्र में बंद के दौरान फोरलेन स्थित श्रीराम चौक, नया मोड़,पैकी चौक व सीसीएल के तोपा परियोजना से कूल 145 बंद समर्थकों को गिरफ्तार किया गया। जिन्हें कुजू ओपी परिसर में रखा गया था। सुबह 8 बजे गिरफ्तार बंद समर्थकों को शाम 4 बजे निजी मुचलके पर छोड़ा गया। इससे पूर्व तय समय पर सड़क पर उतरे कांग्रेस, झारखंड मुक्ति मोर्चा, राजद, झारखंड विकास मोर्चा, वाम दल सहित विभिन्न विपक्षी दलों ने एकजुटता का परिचय देते हुए बंद को सफल बनाने का प्रयास किया। सरकार विरोधी नारों के बीच नेता- कार्यकर्ता अपने अपने बैनर झंडे के साथ क्षेत्र के एनएच-33 फोरलेन स्थित कुजू नया मोड़ चौक, श्रीराम चौक, पैकी व सीसीएल के तोपा परियोजना पहुंचकर वाहनों का आवागमन ठप कराते हुए परियोजना का नया कांटा घर का कार्य बंद करा दिया। वहीं क्षेत्र के सरकारी गैर सरकारी प्रतिष्ठानों सहित दुकानें अन्य दिनों की तरह खुले रहें। हालांकि बंद के दौरान सुरक्षा को लेकर जिला प्रशासन और पुलिस ने भी कमर कस रखी थी। बंद से निपटने के लिए कुजू कोयलांचल का कमान रामगढ़ अनुमंडल पदाधिकारी अनंत कुमार आरक्षी उपाधीक्षक राधा प्रेम किशोर, वीरेंद्र चौधरी मांडू अंचलाधिकारी ललन कुमार पुलिस निरीक्षक मांडू कमलेश पासवान कुजू ओपी प्रभारी संतोष कुमार गुप्ता ने थामा था। साथ ही जगह-जगह पर दंडाधिकारी, उड़न दस्ता के पदाधिकारी और जिला पुलिस बल के जवान मौजूद थे। बंद के दौरान कहीं पर कोई अप्रिय घटना नहीं घटी। पुलिस प्रशासन ने पूरी मुस्तैदी दिखाते हुए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम कर रखे थे। प्रशासन की तैयारी देखकर बंद समर्थकों ने कहीं भी उलझने का प्रयास नहीं किया। लगभग 1 घंटे की बंदी के बाद समर्थक बंद समर्थक बिना किसी विरोध के अपनी गिरफ्तारी दे दी। जिसके बाद क्षेत्र का हाल सामान्य हो गया वाहनों का आवागमन सुचारू हो गया।

पैकी में गिरफ्तार बंद समर्थकों को वज्र वाहन पर बैठा कर ले जाती पुलिस।