• Home
  • Jharkhand News
  • Ramgarh
  • सिख रेजिमेंटल सेंटर में 530 जवानों ने ली देश सेवा की शपथ
--Advertisement--

सिख रेजिमेंटल सेंटर में 530 जवानों ने ली देश सेवा की शपथ

सिख रेजिमेंटल सेंटर रामगढ़ में कड़ी ट्रेनिंग के बाद 530 जवानों ने देश सेवा की शपथ ली। शनिवार को एसआरसी के हरबख्श सिंह...

Danik Bhaskar | Jul 08, 2018, 03:50 AM IST
सिख रेजिमेंटल सेंटर रामगढ़ में कड़ी ट्रेनिंग के बाद 530 जवानों ने देश सेवा की शपथ ली। शनिवार को एसआरसी के हरबख्श सिंह ड्रिल स्क्वायर स्टेडियम में पासिंग आउट परेड में 87 कोर्स के नव प्रशिक्षित जवानों ने राष्ट्रीय ध्वज व पवित्र गुरुग्रंथ साहिब को साक्षी मानकर देश रक्षा के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने की कसमें खाई। रेजिमेंटल बैंड की मार्शल धुन के बीच जवानों ने कदमताल कर परेड का उत्कृष्ट प्रदर्शन किया।

रिक्रूट सुखप्यारजीत सिंह ने परेड का नेतृत्व किया। जबकि, दंडपाल ने प्रशिक्षित जवानों को शपथ दिलाई। यहां, मुख्य अतिथि एसआरसी के कार्यवाहक कमांडेंट कर्नल सुशीम विश्वास ने परेड निरीक्षण कर जवानों की परेड की सलामी ली। उन्होंने, जवानों व उनके माता-पिता का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि वे अब भारतीय सेना का अभिन्न अंग बन गए हैं। जिस पर प्रत्येक भारतीय को गर्व है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना की वीरता की उच्च परंपरा के ऊंचे स्तर को कायम रखें। परेड समारोह में सैन्य अधिकारी, जेसीओ, जवान व उनके परिवार के अलावा स्कूल बच्चे मौजूद थे।

पासिंग आउट परेड का निरीक्षण करते कार्यवाहक कमांडेंट कर्नल सुशीम विश्वास।

बेस्ट जवान को सम्मानित करते कार्यवाहक कमांडेंट।

उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले जवान किए गए सम्मानित

मुख्य अतिथि कार्यवाहक कमांडेंट कर्नल सुशीम विश्वास ने सैन्य ट्रेनिंग में 530 जवानों में आला दर्जे का प्रदर्शन करने वाले रिक्रूट को पुरस्कृत कर सम्मानित किया। इसमें, ओवर ऑल बेस्ट रिक्रूट का पुरस्कार सुखप्यारजीत सिंह को मिला। वहीं, सेकेंड बेस्ट रिक्रूट से सुखविंदर सिंह पुरस्कृत किए गए। बेस्ट फायर में रिक्रूट कमलजीत सिंह, बेस्ट फिजिकल रिक्रूट परमवीर सिंह, बेस्ट बायनाट फाइटिंग में रिक्रूट गुलजार सिंह को मेडल दिया गया।

युद्ध स्मारक पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि

पासिंग आउट परेड समारोह के समापन के बाद युद्ध स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। यहां, मुख्य अतिथि कार्यवाहक कमांडेंट कर्नल सुशीम विश्वास सहित सैन्य अधिकारी, जेसीओ, जवानों ने स्मारक पर पुष्प चढ़ा कर शहीदों को श्रद्धा-सुमन अर्पित किया।