Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Adg Anurag Gupta And Chief Secretary Rajbala Cross Investigation

एक-दूसरे की जांच पर फैसला करेंगे एडीजी और चीफ सेक्रेटरी, दोनों पर हैं अारोप

एडीजी अनुराग गुप्ता करेंगे राजबाला मामले की जांच, हॉर्स ट्रेडिंग में अनुराग के खिलाफ एफआईआर की फाइल है राजबाला के पास।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 22, 2018, 08:25 AM IST

एक-दूसरे की जांच पर फैसला करेंगे एडीजी और चीफ सेक्रेटरी, दोनों पर हैं अारोप

रांची.स्पेशल ब्रांच के एडीजी अनुराग गुप्ता के खिलाफ केस दर्ज करने का मामला मुख्य सचिव राजबाला वर्मा के पास है। वहीं राजबाला पर लगे आरोप की जांच की जिम्मेदारी अनुराग गुप्ता को मिल गई है। एक बैंक अधिकारी ने ट्वीट कर आरोप लगाया था कि मुख्य सचिव उनके एक लंबित भुगतान करने की एवज में अपने बेटे के बिजनेस में निवेश का दबाव बना रही थीं। इस पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने शनिवार को सदन में कहा कि इस आरोपों की जांच स्पेशल ब्रांच से करा रहे हैं।


इससे पहले भारत निर्वाचन आयोग ने पिछले साल 21 जून को मुख्य सचिव को राज्यसभा चुनाव में कथित हॉर्स ट्रेडिंग मामले में स्पेशल ब्रांच के एडीजी अनुराग गुप्ता और एक सलाहकार के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने और विभागीय कार्यवाही का निर्देश दिया था। लेकिन अब तक केस दर्ज नहीं हुआ। आयोग ने पूर्व मंत्री योगेंद्र साव के बेटे सागर साव को नवंबर में भेजे एक जवाब में कहा था कि आरोपी के खिलाफ राज्य सरकार द्वारा एफआईआर दर्ज कराने की सूचना नहीं है। ऐसे में बड़ा सवाल खड़ा हो गया है कि क्या दोनों ही मामलों में निष्पक्ष तरीके से जांच हो पाएगी।

मुख्य सचिव और एडीजी पर ये हैं आरोप

राजबाला वर्मा :बैंक अिधकारी के लंबित भुगतान की एवज में अपने बेटे के बिजनेस में निवेश करने का दबाव बनाया।

अनुराग गुप्ता :राज्यसभा चुनाव में मतदाताओं को प्रभावित किया। चुनाव आयोग ने केस दर्ज कर विभागीय कार्यवाही चलाने को कहा।

बाबूलाल मरांडी ने जारी की थी सीडी

झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने राज्यसभा चुनाव में कथित हॉर्स ट्रेडिंग की शिकायत को लेकर एक सीडी जारी की थी। उसकी शिकायत निर्वाचन आयोग से की थी। सीडी में भाजपा प्रत्याशी को वोट देने के लिए कांग्रेस विधायक निर्मला देवी के पति पूर्व मंत्री योगेंद्र साव और एडीजी अनुराग गुप्ता के बीच बातचीत का जिक्र था।

इसके बाद आयोग के प्रधान सचिव वीरेंद्र कुमार ने रांची आकर जांच की। फिर मुख्य सचिव राजबाला वर्मा को पत्र लिखा। इसमें अनुराग गुप्ता के खिलाफ पीसी एक्ट, पद का दुरुपयोग, वोटरों को प्रलोभन देने और चुनाव कार्य में हस्तक्षेप करने को लेकर एफआईआर दर्ज कराने व विभागीय कार्यवाही चलाने को कहा था। पर अब तक कुछ नहीं हुआ।

आयोग ने पत्र में लिखा था कि प्रारंभिक सत्यापन में दो विधायकों चमरा लिंडा और निर्मला देवी से लिखित पक्ष लिया गया है। प्रथम दृष्टया अनुराग गुप्ता और सलाहकार पर कार्रवाई का आधार सही प्रतीत होता है।

ट‌्वीट पर सरयू का ट‌्वीट

गलत करना और एक गलत को छुपाने के लिए कई गलतियां करना और करते जाना माफिया कार्य संस्कृति का लक्षण है। यदि गलती हो गई तो विनम्रतापूर्वक उसे मान लेना प्रायश्चित है। भूल सुधार है, सही कार्य संस्कृृति है। इसका ध्यान रखना सुशासन की ओर कदम बढ़ाना होता है। -सरयू राय

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ranchi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: ek-dusre ki jaanch par faislaa karengae ediji aur chif sekrateri, donon par hain aaarop
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×