--Advertisement--

लेडी इंस्पेक्टर से थे पति के रिश्ते, पत्नी का सिर से धड़ अलग करने दिया था आइडिया

अनु पाठक हत्याकांड में मंगलवार को पुलिस इंस्पेक्टर मंजू ठाकुर ने बड़ा खुलासा किया।

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2018, 03:49 AM IST
खौफनाक मर्डर केस में पति-पत्नी और वो एंगल के चलते लेडी पुलिस इंस्पेक्टर हिरासत में। खौफनाक मर्डर केस में पति-पत्नी और वो एंगल के चलते लेडी पुलिस इंस्पेक्टर हिरासत में।

हजारीबाग(झारखंड). अनु पाठक हत्याकांड में मंगलवार को पुलिस इंस्पेक्टर मंजू ठाकुर ने बड़ा खुलासा किया। खुलासे से यह साफ हो गया कि अनु पाठक के पति विनोद पाठक का उससे दो साल से अफेयर था। यही हत्या का कारण बना। बता दें कि 29 जनवरी को जयप्रभा नगर में बिनोद ने अपनी पत्नी अनु पाठक की हत्या कर दी थी। उनकी 15 साल की बेटी कृति ने थाने में अपने पिता पर हत्या का मामला दर्ज कराया है। वहीं मंजू और पिता के नाजायज रिश्तों के बारे में जानकारी दी थी। हालांकि, अब तक विनोद पाठक का ठिकाने का पता नहीं चल सका है।

सिर से धड़ अलग करने का आइडिया मंजू ने ही दिया था

पुलिस के मुताबिक, बिनोद पाठक ने अपनी पत्नी की हत्या करने के बाद सीधा मंजू ठाकुर के पास खून से लथपथ पहुंचा था और हत्या के बारे में पूरी जानकारी दी। पुलिस को मंजू ने यह भी बताया कि अनु का सिर से धड़ अलग करने का आइडिया उसने ही दिया था। मंजू ने विनोद पाठक को हत्या करने के बाद अलग-अलग जगहों पर लाश छुपाने का तरीका भी बताया था। रस्सी और हत्या में शामिल चाइनीज चाकू मंजू ने ही मुहैया कराया था।

घटना के बाद 32 बार मंजू ठाकुर और विनोद पाठक में बातचीत हुई है। विनोद की प्रेमिका मंजू अपने भाई के कॉन्टेक्ट में लगातार रही। वह मोबाइल बदल-बदल कर बातचीत किया करता था।

नए नंबर से मंजू से बात करता था ताकि किसी को शक न हो

अनु पाठक की हत्या की प्लानिंग 10 से 15 दिन पहले बनी थी। विनोद ने अपने तीनों मोबाइल 20 जनवरी से ही बंद कर लिए थे। वह नए नंबर से मंजू से बात करता था ताकि किसी को शक न हो। मंजू से विनोद की अाखिरी बात पीसीओ से दो दिन पहले हुई थी। पुलिस इस बात की जांच भी कर रही है कि बिनोद जिस वक्त अपनी पत्नी की गला रेतकर हत्या कर रहा था, तब किस शख्स ने उसकी मदद की।

क्राइम पेट्रोल व सावधान इंडिया देखने के लिए प्रेरित करती थी मंजू

पूछताछ के बाद यह भी बात सामने आई कि विनोद रात को क्राइम पट्रोल और सावधान इंडिया देखा करता था। मंजू उसे बराबर क्राइम पट्रोल और सावधान इंडिया देखने के लिए कहा करती थी। इसलिए मर्डर करने के बाद सबूत छुपाने का तरीका इन्हीं टीवी प्रोग्राम से सीखा था।

पत्नी की हत्या के बाद विनोद को बड़ा बाजार टीओपी में गुमशुदगी का मामला दर्ज कराने के लिए मंजू ने ही कहा था। मामला दर्ज कराने को लेकर मंजू ने थाना के इंचार्ज पर दबाव भी डाला था। हत्या के ही दिन से पुलिस मंजू की हर हरकत पर नजर रख रही थी।

अनु ने कहा था शादी कर लो पर बच्चों को टॉर्चर मत करो
हत्या के दिन सुबह में अनु पाठक ने मंजू ठाकुर को फोन पर कहा था कि आपलोग चाहें तो शादी कर लीजिए, हमको कोई एतराज नहीं है, लेकिन उनको (विनोद) समझाइए कि बच्चों को टॉर्चर नहीं करें।

आॅफिस के सिक्युरिटी सुपरवाइजर की कार से भागा आराेपी

हत्या करने के बाद बिनोद अपने ही आॅफिस के सिक्युरिटी सुपरवाइजर की इंडिगो कार से डोभी तक गया था। इस मामले में सिक्युरिटी सुपरवाइजर और उसकी पत्नी से भी पुलिस ने पूछताछ की है।

घटना के बाद सुपरवाइजर को बिनोद ने कहा था कि जल्दी से अपनी कार लेकर मेरे पास पहुंचे। मुझे जरूरी काम से डोभी निकलना है। कार से डोभी जाने के बाद बिनोद पाठक कहां गया इस बात की जानकारी सिक्युरिटी गार्ड को नहीं है।

मंजू को मंगलवार को जेल भेज दिया गया

पुलिस इंस्पेक्टर से लगातार दो दिनों तक पुलिस ने कई राउंड कड़ी पूछताछ की। जिससे वह टूट गई और हत्या से जुड़े कई राज खोल दिए। पुलिस का दावा है कि जल्द ही अारोपी बिनोद को गिरफ्तार कर लेगी। मंजू को मंगलवार को जेल भेज दिया गया।

महिला पुलिस इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर जेल ले जाती पुलिस। महिला पुलिस इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर जेल ले जाती पुलिस।
अनु पाठक की बेटी कृति ने पिता और पुलिस इंस्पेक्टर के अफेयर का राज खोला था। अनु पाठक की बेटी कृति ने पिता और पुलिस इंस्पेक्टर के अफेयर का राज खोला था।
आरोप है कि विनोद ने पत्नी के दो टुकड़े कर इसी दीवान में डाल दिया था। आरोप है कि विनोद ने पत्नी के दो टुकड़े कर इसी दीवान में डाल दिया था।
हत्या में इस्तेमाल दिखाता पुलिसकर्मी। हत्या में इस्तेमाल दिखाता पुलिसकर्मी।
जयप्रभा नगर के इसी मकान में दिया गया इस खौफनाक वारदात को अंजाम। जयप्रभा नगर के इसी मकान में दिया गया इस खौफनाक वारदात को अंजाम।
अनु पाठक दरअसल विनोद पाठक की दूसरी पत्नी थी। उ अनु पाठक दरअसल विनोद पाठक की दूसरी पत्नी थी। उ
पत्नी की हत्या का अारोपी पति फिलहाल फरार है। पत्नी की हत्या का अारोपी पति फिलहाल फरार है।
मामले में पूछताछ करती पुलिस। मामले में पूछताछ करती पुलिस।
X
खौफनाक मर्डर केस में पति-पत्नी और वो एंगल के चलते लेडी पुलिस इंस्पेक्टर हिरासत में।खौफनाक मर्डर केस में पति-पत्नी और वो एंगल के चलते लेडी पुलिस इंस्पेक्टर हिरासत में।
महिला पुलिस इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर जेल ले जाती पुलिस।महिला पुलिस इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर जेल ले जाती पुलिस।
अनु पाठक की बेटी कृति ने पिता और पुलिस इंस्पेक्टर के अफेयर का राज खोला था।अनु पाठक की बेटी कृति ने पिता और पुलिस इंस्पेक्टर के अफेयर का राज खोला था।
आरोप है कि विनोद ने पत्नी के दो टुकड़े कर इसी दीवान में डाल दिया था।आरोप है कि विनोद ने पत्नी के दो टुकड़े कर इसी दीवान में डाल दिया था।
हत्या में इस्तेमाल दिखाता पुलिसकर्मी।हत्या में इस्तेमाल दिखाता पुलिसकर्मी।
जयप्रभा नगर के इसी मकान में दिया गया इस खौफनाक वारदात को अंजाम।जयप्रभा नगर के इसी मकान में दिया गया इस खौफनाक वारदात को अंजाम।
अनु पाठक दरअसल विनोद पाठक की दूसरी पत्नी थी। उअनु पाठक दरअसल विनोद पाठक की दूसरी पत्नी थी। उ
पत्नी की हत्या का अारोपी पति फिलहाल फरार है।पत्नी की हत्या का अारोपी पति फिलहाल फरार है।
मामले में पूछताछ करती पुलिस।मामले में पूछताछ करती पुलिस।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..